मधुबनी : भारतीय संस्कृति और परंपरा का संरक्षण करते हुए 251 दीप जलाया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 27 जनवरी 2020

मधुबनी : भारतीय संस्कृति और परंपरा का संरक्षण करते हुए 251 दीप जलाया

rss-madhubani-celebrate-republic-day-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) संग्राम जिंदगी है लड़ना हमें पड़ेगा, भारत माता पूजन उत्सव 71 वे गणतंत्र दिवस के इस पावन अवसर पर  भारतीय संस्कृति और परंपरा का संरक्षण करते हुए 251 दीपों को जलाते   हुए मनाया गया यह दीप प्रज्वलन मधुबनी नगर के स्वयं सेवकों व मातृ शक्ति के द्वारा जलाए गया भारत माता के ऊपर पुष्पांजलि की गई तत्पश्चात राष्ट्रीय गीत और संगीत के माध्यम से राष्ट्रभक्ति और राष्ट्र धर्म के प्रति सजगता  सुव्यवस्था के लिए वीर सनातन पूर्णेन्दु राय जी  ने किया, इस शुभ संध्या पर माननीय सह विभाग संघचालक शरदेनदू मोहन शर्मा जी माननीय सह जिला संघचालक अरविंद जी और माननीय नगर संघचालक साकेत महासेठ जी एवं उत्तर बिहार प्रांत के प्रांत शारीरिक शिक्षण प्रमुख अरविंद कुमार जी और जिला प्रचारक संजय कृष्ण जी कार्यक्रम प्रमुख रोहन महासेठ जी गौरव मय उपस्थिति रही ! गणतंत्र दिवस मनाने का अद्भुत परंपरा की शुरुआत भारत माता पूजन व भारत माता की आरती के साथ हुआ यह मधुबनी नगर में संघ का ऐसा कार्यक्रम पहली बार हुआ जिसमें मात्री शक्ति स्वरूपा की गौरवमई उपस्थिति ने इस पूजन उत्सव में चार चांद लगा दिया! और इस कार्यक्रम में यशस्वी स्वयंसेवकों ने भाग लिया जिसमें विश्वजीत जी रंजीत जी लक्ष्मण जी शिवनारायण जी रोशन जी करुणेश जी अजय जी दीपक जी प्रकाश जी राम नारायण जी एवं अन्य सभी कार्यकर्ता बंधुओं का  गरिमामय उपस्थिति रही!

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...