दिल्ली में हिंसक घटनाओं में 10 की मौत, 186 घायल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 26 फ़रवरी 2020

दिल्ली में हिंसक घटनाओं में 10 की मौत, 186 घायल

10-died-186-injured-in-delhi-violance
नयी दिल्ली, 25 फरवरी, दिल्ली के विभिन्न हिस्सों विशेष उत्तर-पूर्वी दिल्ली में पिछले 48 घंटों के दौरान हिंसक घटनाओं में 10 लोगों की मौत हो गई है और 186 लोग घायल हो गये। दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता एम एस रंधावा ने मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन लाल की समेत 10 लोगों की मौत हुई है। शाहदरा के उपायुक्त अमित शर्मा घायल हुए हैं। उन्होंने बताया कि घायलों में 56 पुलिस कर्मी और 130 नागरिक हैं। श्री रंधावा ने लोगों से शांति बनाये रखने और अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील करते हुए कहा कि प्रभावित क्षेत्रों में धारा 144 लगा दी गई है। उन्होंने कहा,“ मैं विशेष कर उत्तर पूर्वी दिल्ली के लोगों से अपील करता हूं कि वह कानून अपने हाथ में नहीं लें। हम स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए ड्रोन की मदद ले रहे हैं।” उन्होंने दिल्ली में पुलिस बल की कमी से इन्कार करते हुए कहा कि उत्तर-पूर्वी जिले में पर्याप्त संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है । उन्होंने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय से अतिरिक्त सुरक्षा बल मिला है और उन्हें प्रभावित क्षेत्रों में र्तैनात किया जा रहा है। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) त्वरित कार्य बल (आरएएफ) और दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त बल को भी तैनात किया गया है। अब स्थिति नियंत्रण में है। श्री रंधावा ने बताया कि हिंसक घटनाओं को लेकर 11 प्राथमिकी दर्ज की गई हैं और कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता कपिल मिश्रा के बयान पर श्री रंधावा ने कहा कि इसकी जांच की जा रही है। हमारी पहली प्राथमिकता स्थिति नियंत्रण में लाना है, जो उन्होंने किया है। दंगों को लेकर जितनी भी प्राथमिकी दर्ज की गई हैं, सभी में जांच की जायेगी जो यदि इसमें जो मुख्य षडयंत्रकर्ता पाया जायेगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...