हार से निराश नहीं, करेंगे मजबूती से वापसी : कांग्रेस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 11 फ़रवरी 2020

हार से निराश नहीं, करेंगे मजबूती से वापसी : कांग्रेस

congress-will-come-back-in-delhi
नयी दिल्ली, 11 फरवरी, कांग्रेस ने कहा है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में हार से पार्टी निराश नहीं बल्कि इससे सीख लेगी तथा ज्यादा मेहनत कर दो साल बाद होने वाले नगर निगम चुनाव में वापसी करेगी और दिल्ली में फिर मजबूती के साथ खड़े होंगे। दिल्ली कांग्रेस के प्रभारी पी सी चाको, प्रदेश अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा, प्रचार समिति के अध्यक्ष कीर्ति आजाद तथा संचार विभाग के प्रमुख रणदीपसिंह सुरजेवाला ने मंगलवार को यहां पार्टी मुख्यालय में संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इस हार से पार्टी नेता तथा कार्यकर्ता हताश नहीं हैं। पार्टी नेताओं तथा कार्यकर्ताओं ने चुनाव के दौरान पूरा परिश्रम किया है लेकिन शायद लोगों तक अपनी बात पहुंचाने में असफल रहे इसलिए चुनाव नतीजे अनुकूल नहीं रहे। श्री चाको ने कहा कि पार्टी को मिली हार से सीख लेंगे और पार्टी को मजबूत करेंगे लेकिन इस चुनाव में दिल्ली की जनता ने ध्रुवीकरण की राजनीति करने तथा करंट लगाओ और गोली मारने की बात करने वाली भारतीय जनता पार्टी को जिस तरह से खारिज किया है और विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा गृहमंत्री अमित शाह को करारी शिकस्त दी है वह उसका स्वागत करते हैं। श्री चोपड़ा ने कहा कि आम आदमी पार्टी (आप) ने 192 करोड़ रुपए विज्ञापन पर खर्च किया है और दिल्ली की जनता को बताया कि उसने क्या काम किया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने काम तो जमीन पर कुछ नहीं किया लेकिन विज्ञापन देकर लोगों के बीच काम करने के सिर्फ खोखले दावे किए हैं जिन पर दिल्ली की जनता ने यकीन किया और उन्हें फिर से सत्ता सौंप दी है लेकिन असलियत यह है कि पिछले तीन माह के दौरान प्रदेश अध्यक्ष के रूप में उन्होंने दिल्ली की दुर्दशा को बहुत करीबी से देखा है।  

कोई टिप्पणी नहीं: