सबर बस्ती में घूम-घूमकर सरकार से मिल रही सुविधाओं की वस्तुस्थिति से अवगत हुए उपायुक्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 1 फ़रवरी 2020

सबर बस्ती में घूम-घूमकर सरकार से मिल रही सुविधाओं की वस्तुस्थिति से अवगत हुए उपायुक्त

dc-jamshedpur-visit-villege
जमशेदपुर : (आर्यावर्त संवाददाता) 'सरकार आपके द्वार' कार्यक्रम में भाग लेने के पश्चात उपायुक्त श्री रविशंकर शुक्ला कुलगोड़ा एवं उपर रोवाम में सबर लोगों से मिलने पहुंचे। इस दौरान उन्होने सबर बस्ती में घूम-घूमकर शौचालय, पेयजल, बिजली, सड़क की स्थिति का जायजा लिया। उपायुक्त ने शौचालय के निरीक्षण के क्रम में सबर लोगों को उसके व्यवहार के प्रति प्रोत्साहित किया। बच्चों से स्कूल में पठन-पाठन, मीड डे मील आदि के बारे में जानकारी ली। कुलगोड़ा में रहने वाली ग्रेजुएट सुमित्रा सबर के निवनिर्मित प्रधानमंत्री आवास के निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त को पता चला कि शौचालय निर्माण नहीं हुआ है, उन्होने मौके पर ही कार्यपालक अभियंता-पेयजल एवं स्वच्छता विभाग को शौचालय निर्माण हेतु निदेशित किया।     राजस्व ग्राम रोवाम के ही सुदूर क्षेत्र में रहने वाले सबर लोगों से भी उपायुक्त ने मुलाकात कर उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा है या नहीं इसकी जानकारी ली। सबर लोगों ने बताया कि उन्हें पेंशन, डाकिया योजना के तहत राशन उपलब्ध कराया जा रहा है। पेयजल हेतु चापाकल है लेकिन उससे ज्यादा मात्रा में आयरन निकलने की शिकायत पर उपायुक्त द्वारा पोयजल एवं स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता को डीप बोरिंग कराते हुए चापाकल लगाने का निदेश दिया गया। साथ ही सबर परिवारों के लिए बिरसा आवास के निर्माण हेतु प्रखंड विकास पदाधिकारी को निदेशित किया गया।  उपायुक्त ने भ्रमण के क्रम में मंगल सबर के अस्वस्थ बच्चे जिसका सिर बड़ा है उसे ऑपरेशन कराने की सलाह दी, उन्होने कहा कि परिजन अगर ऑपरेशन कराने के लिए तैयार होते हैं तो जिला प्रशासन द्वारा पूर्ण सहयोग किया जाएगा। बीए पार्ट 1 में पढ़ाई कर रहे शिवशंकर सबर द्वारा रोजगार उपलब्ध कराने की बात पर उपायुक्त ने उन्हें सोमवार को समाहरणालय में मिलने के लिए बुलाया। इस क्रम में प्रखंड विकास पदाधिकारी को निदेशित करते हुए उपायुक्त ने सभी शिक्षित आदिवासी बच्चों का डाटाबेस बनाने हेतु कहा जिससे उन्हें प्रशिक्षण के उपरांत रोजगार प्रदान किया जा सके।

कोई टिप्पणी नहीं: