बजट के बाद बाजार में कोहराम, निवेशकों के डूबे साढ़े तीन लाख करोड़ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 1 फ़रवरी 2020

बजट के बाद बाजार में कोहराम, निवेशकों के डूबे साढ़े तीन लाख करोड़

sensex-drops-after-budget
मुंबई, 01 फरवरी, बजट में उम्मीद के अनुरूप घोषणायें न होने से निवेशकों में आज भारी निराशा देखी गयी और भारीत बिकवाली के बीच निवेशकों को 3.46 लाख करोड़ रुपये की चपत लगी। सुबह हरे निशान में खुलने वाला बीएसई का सेंसेक्स 988 अंक यानी 2.43 प्रतिशत का गोता लगाते हुये 39,735.53 अंक पर तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 318.30 अंक यानी 2.66 प्रतिशत लुढ़ककर 1,643.80 अंक पर बंद हुआ जो तीन महीने से ज्यादा का निचला स्तर है। चौतरफा बिकवाली के बीच आईटी और टेक क्षेत्र की कंपनियों के शेयर बढ़त में रहे। रियलिटी समूह के सूचकांक में आठ फीसदी, पूँजीगत वस्तुओं में पौने पाँच फीसदी और इंडस्ट्रियल्स तथा वित्त समूहों में चार फीसदी की गिरावट देखी गयी। धातु, बैंकिंग और बुनियादी वस्तुओं में तीन से साढ़े प्रतिशत के बीच की गिरावट रही। मझौली और छोटी कंपनियों पर भी दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 2.21 प्रतिशत टूटकर 15,119.65 अंक पर और स्मॉलकैप 2.20 फीसदी की गिरावट में 14,344.70 अंक पर आ गया। बजट के लिए आज शनिवार होने के बावजूद विशेष रूप से शेयर बाजार में कारोबार हुआ। इस दौरान अंधाधुंध बिकवाली के दबाव में बीएसई का बाजार पूँजीकरण 3,46,256.76 करोड़ रुपये यानी 2.21 प्रतिशत घट गया। शुक्रवार को बाजार बंद होते समय कुल पूँजीकरण 1,56,50,981.73 करोड़ रुपये रहा था जो आज घटकर 1,53,04,724.97 करोड़ रुपये रह गया। सेंसेक्स की कंपनियों में आईटीसी के शेयर सात प्रतिशत लुढ़क गये। एलएंडटी और एचडीएफसी में छह-छह प्रतिशत और भारतीय स्टेट बैंक में करीब पाँच फीसदी की गिरावट रही। वहीं, देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टीसीएस के शेयर में 4.13 प्रतिशत की तेजी रही।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...