आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर को राष्ट्रीय आयुष मिशन में शामिल किया जाएगा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 22 मार्च 2020

आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर को राष्ट्रीय आयुष मिशन में शामिल किया जाएगा

ayush-health-and-wellness
नयी दिल्ली 21 मार्च, केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर को राष्ट्रीय आयुष मिशन में शामिल करने को मंजूरी दे दी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में यह निर्णय लिया गया। इस आशय के प्रस्ताव में वर्ष 2019-20 से 2023-24 तक के लिए 3399.35 करोड़ रुपए के व्यय का प्रावधान किया गया है जिसमें से 2209.58 करोड़ रुपए केन्द्र और 1189.77 करोड़ रुपए राज्यों की हिस्सेदारी होगी। आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर को राष्ट्रीय आयुष मिशन में शामिल करने से आयुष सेवाएं जनता को आसानी से सुलभ हो सकेंगी। इससे आयुष के सिद्धांतों पर आधारित संपूर्ण चिकित्सा पद्धति का मॉडल वर्तमान सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली में स्थापित हो सकेगा। इससे लोगों को सस्ती स्वास्थ्य सेवाएं मिल सकेंगी। आयुष सेवाओं में जीवनशैली, भोजनशैली, योग, औषधीय पौधों को लेकर सामुदायिक जागरूकता शामिल होगी। आयुष मंत्रालय ने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और राज्यों के परामर्श से देश भर में 12500 आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का क्रियान्वयन करने के दो मॉडल प्रस्तावित किये है। इसमें करीब दस हजार आयुष डिस्पेंसरी और मौजूदा ढाई हजार उपस्वास्थ्य केन्द्रों के उन्नयन किया जाएगा। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...