बिहार : DMCH से कोरोना के दो संदिग्ध फरार, दुबई से वापिस लौटे थे - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 15 मार्च 2020

बिहार : DMCH से कोरोना के दो संदिग्ध फरार, दुबई से वापिस लौटे थे

corona-patient-run-to-dmch
दरभंगा (आर्यावर्त संवाददाता)  दरभंगा में आज रविवार को उस समय हड़कंप मच गया जब डीएमसीएच के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कोरोना के दो संदिग्ध मरीज अस्पताल से फरार हो गए। इन्हें कल ही डीएमसीएच में भर्ती किया गया था और ये दोनों विदेश दौरे से लौटे थे। मरीजों के फरार होने की जानकारी मिलते ही बड़े पैमाने पर सर्च अभियान शुरू किया है। जानकारी के अनुसार दरभंगा मेडिकल कॉलेज में कोरोना के दो संदिग्धों को भर्ती करवाया गया था। दोनों युवक के दुबई से लौटे थे और कोरोना वायरस के संदिग्ध के तौर पर डीएमसीएच में इन्हें आइसोलेशन में रखा गया था। आज अचानक से दोनों कोरोना के संदिग्ध मरीज अचानक अस्पताल से फरार हो गए।

पू. चंपारण में केरल से आए तीन युवक भर्ती
इधर पूर्वी चंपारण के रामनगर में भी आज केरल से अपने गांव पहुंचे तीन लोगों में कोरोना के लक्षण मिले जिसके बाद उन्हें बेतिया अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया। ये तीनों लोग केरल से अपने गांव सिलवटिया बड़गो पहूंचे थे। ग्रामीणों की सूचना पर पीएचसी रामनगर से एक चिकित्सकीय दल उक्त गांव पहुंचा और तीनों को अपने साथ एम्बुलेंस से बेतिया अस्पताल ले गया। उन संदिग्धों की पहचान सिलवटिया बड़गो निवासी नन्दलाल चौधरी के पुत्र धनन्जय कुमार के रूप में हुई। इसमें उनके दो भाई को भी जांच के लिए बेतिया एमजेके अस्पताल भेज दिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...