कोरोना के कहर से दलाल स्ट्रीट में हाहाकार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 13 मार्च 2020

कोरोना के कहर से दलाल स्ट्रीट में हाहाकार

dalal-street-flush
मुंबई 12 मार्च, कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ के बढ़ते संक्रमण की चिंता में गुरुवार को घरेलू शेयर बाजारों में अब तक की सबसे बड़ी गिरावट देखी गयी और बीएसई का सेंसेक्स 2,900 अंक तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 850 अंक से अधिक की गिरावट में बंद हुआ। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने बुधवार रात कोविड-19 को महामारी घोषित कर दिया है। इससे दुनिया भर के पूँजी बाजार में निवेशकों की धारणा कमजोर हुई है। अमेरिकी सरकार के इस वायरस से निपटने के लिए पर्याप्त धन राशि मुहैया नहीं कराने से विदेशों में भी चौतरफा बिकवाली देखी गयी। घरेलू स्तर पर सेंसेक्स 2,919.26 अंक यानी 8.18 प्रतिशत का गोता लगाकर 32,778.14 अंक पर बंद हुआ जो दो साल (23 मार्च 2018 के बाद) का इसका निचला स्तर है। निफ्टी भी 868.25 अंक यानी 8.30 प्रतिशत लुढ़ककर 9,590.15 अंक पर आ गया। यह इसका पौने तीन साल (30 जून 2017 के बाद) का निचला स्तर है। मझौली और छोटी कंपनियों पर भी जबरदस्त दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 7.84 फीसदी टूटकर 12,380.36 अंक पर और स्मॉलकैप 8.72 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,614.89 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में आज कुल 2,573 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें मात्र 224 ही बढ़त में बंद हो सकीं। अन्य 2,243 कंपनियों के शेयर गिरावट में तथा 106 कंपनियों के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद स्थिर बंद हुये। बिकवाली का जोर इस कदर रहा कि सेंसेक्स की सभी 30 और निफ्टी की सभी 50 कंपनियाँ लाल निशान में रहीं। सेंसेक्स में भारतीय स्टेट बैंक के शेयर 13 प्रतिशत, ओएनजीसी तथा एक्सिस बैंक के 12 प्रतिशत और आईटीसी के 11 प्रतिशत से अधिक टूटे। बीएसई के समूहों में तेल एवं गैस, रियलिटी, धातु, बैंकिंग और बुनियादी वस्तुओं के सूचकांक 9.19 से 9.82 प्रतिशत तक लुढ़क गये। सबसे कम 5.25 प्रतिशत की गिरावट दूरसंचार समूह में रही।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...