कोरोना वायरस के रोकथाम को लेकर चार जगहों पर बनाए गए आइसोलेशन वार्ड, उपायुक्त ने किया अवलोकन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 19 मार्च 2020

कोरोना वायरस के रोकथाम को लेकर चार जगहों पर बनाए गए आइसोलेशन वार्ड, उपायुक्त ने किया अवलोकन

पश्चिम सिंहभूम जिले में कोरोना वायरस के रोकथाम को लेकर 4 जगहों पर आइसोलेशन वार्ड स्थापित किए गए हैं. इसके लिए जिला उपायुक्त अरवा राजकुमार ने कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए जिला सदर अस्पताल चाईबासा स्थित आइसोलेशन वार्ड का अवलोकन किया.
dc-inspaction-corona
चाईबासा (आर्यावर्त संवाददाता)  पश्चिम सिंहभूम जिले में कोरोना वायरस के रोकथाम को लेकर 4 जगहों पर आइसोलेशन वार्ड स्थापित किए गए हैं. जिसमें चाईबासा सदर अस्पताल, चक्रधरपुर रेलवे अस्पताल, किरीबुरू सेल जनरल अस्पताल और नोवामुंडी टिस्को अस्पताल में कोरोना वायरस के रोकथाम को लेकर आइसोलेशन वार्ड स्थापित किया गया है. जिला उपायुक्त अरवा राजकुमार ने कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए जिला सदर अस्पताल चाईबासा स्थित आइसोलेशन वार्ड का अवलोकन किया. उपायुक्त अरवा राजकुमार ने कहा कि राज्य सरकार के जारी निर्देश पर कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए जिले में 4 केंद्र चाईबासा सदर अस्पताल, चक्रधरपुर रेलवे अस्पताल, सेल किरीबुरू अस्पताल और नोवामुंडी टिस्को अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड की स्थापना की गई है. विभाग के जारी गाइडलाइन के तहत सदर अस्पताल स्थित आइसोलेशन वार्ड का अवलोकन किया है. इसके साथ ही जिले में दो अन्य केंद्रों की भी स्थापना की जा रही है. जहां पर संदिग्ध वायरस पीड़ित लोगों को स्वच्छ वातावरण और चिकित्सक की देखरेख में रखकर जांच करवाया जाएगा. जांच के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद उसे सदर अस्पताल स्थित आइसोलेशन वार्ड में चिकित्सक की निगरानी में रखा जाएगा. उपायुक्त ने बताया कि अभी तक चाईबासा जिले में किसी भी वायरस पीड़ित व्यक्ति की सूचना नहीं मिली है लेकिन हम सभी को सतर्क रहने की आवश्यकता है. जिला प्रशासन स्वास्थ्य विभाग के साथ लगातार समन्वय बनाते हुए पूरे मामले पर निगरानी रख रही है. उन्होंने बताया कि सुबे के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देश पर राज्य के मुख्य सचिव डीके तिवारी ने जारी पत्र के आलोक में जिला अंतर्गत सभी शिक्षण संस्थानों को 14 अप्रैल तक बंद किया गया है और आम लोगों से अपील भी की है कि वह भीड़भाड़ वाले इलाके में यथासंभव न जाए. उपायुक्त ने सभी आम जनों से भी यह अपील की गई है कि संदिग्ध व्यक्ति या वायरस से पीड़ित व्यक्तियों के इलाज में लगे चिकित्सा कर्मी मास्क का आवश्यक रूप से प्रयोग करें.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...