सामूहिक दुष्कर्म मामले में शीघ्र न्याय के लिए कानून में हो परिवर्तन : सुशील मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 20 मार्च 2020

सामूहिक दुष्कर्म मामले में शीघ्र न्याय के लिए कानून में हो परिवर्तन : सुशील मोदी


gang-rape-law-should-change-sushjil-modi
पटना 20 मार्च,  बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि सामूहिक दुष्कर्म के मामले में शीघ्र न्याय दिलाने के लिए इससे संबंधित कानून में परिवर्तन किया जाना चाहिए। श्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, “निर्भया कांड के चारों जघन्य अपराधियों को 20 मार्च को तड़के फांसी की सजा देने से कानून के प्रति आम लोगों का भरोसा बढ़ेगा। महिलाओं ने राहत की सांस ली। अब सभी राज्यों के सहय़ोग से कानून में ऐसा परिवर्तन किया जाना चाहिए, जिससे सामूहिक दुष्कर्म जैसे अपराध के दोषियों को फांसी देने में कई सालों का लंबा वक्त न लगे।” उप मुख्यमंत्री ने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने अनुच्छेद 370 और 35 (ए) के प्रावधानों को समाप्त करने और तीन तलाक प्रथा खत्म करने में सक्रियता दिखायी। उन्होंने कहा कि अब सामूहिक दुष्कर्म मामले में शीघ्र न्याय दिलाने का रास्ता भी साफ होना चाहिए। मोदी हैं, तो मुमकिन है।”  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...