काबुल में गुरुद्वारे पर हमला, 25 लोगों की मौत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 26 मार्च 2020

काबुल में गुरुद्वारे पर हमला, 25 लोगों की मौत

gurudwara-attacked-25-dead-kabul
काबुल, 25 मार्च, अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में बुधवार सुबह एक गुरुद्वारे पर हुए आत्मघाती हमले में कम से कम 25 लोगों की मौत हो गयी है और करीब 10 लोग घायल हो गये। स्थानीय मीडिया की रिपाेर्ट के अनुसार हमलावरों ने काबुल के शोर बाजार जिले में गुरुद्वारे पर स्थानीय समयानुसार सुबह 0745 बजे हमला कर दिया। रिपोर्ट के मुताबिक हमले के समय लगभग 150 लोग गुरुद्वारे में प्रार्थना कर रहे थे। अफगानिस्तान के गृह मंत्री ने पुष्टि करते हुए बताया कि हमले में महिलाओं और बच्चों समेत करीब 80 लोगों को बचाया गया। इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक और सीरिया (आईएसआईएस) आतंकवादी समूह ने हमले की जिम्मेदारी ली है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने यहां कहा, “ हमले में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति हम सांत्वना व्यक्त करते हैं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं। भारत अफगानिस्तान में प्रताड़ित हर हिन्दू और सिख परिवार की हर संभव सहायता करने के लिए तैयार है।”\ मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस जैसी महामारी के प्रकोप के समय पर अल्पसंख्यकों के धार्मिक स्थलों पर कायराना हमला करना आतंकवादियों और उनके समर्थकों की शैतानी मानसिकता को दर्शाता है। इस हमले के पीछे पहले तालिबान के होने की आशंका जताई जा रही थी लेकिन बाद में तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा कि इस हमले से उसके संगठन का कोई लेना-देना नहीं है। मानवाधिकार संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल साउथ एशिया ने कहा कि अधिकारियों की यह जिम्मेदारी है कि वे अफगानिस्तान में अल्पसंख्यकों और उनके पूजा-स्थलों की सुरक्षा करें।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...