ओलम्पिक भागीदारी को लेकर भारतीय बंटे - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 23 मार्च 2020

ओलम्पिक भागीदारी को लेकर भारतीय बंटे

india-divided-for-olympic-participation
नयी दिल्ली, 22 मार्च, टोक्यो ओलम्पिक को कोरोना वायरस के खतरे के चलते स्थगित करने की दुनिया भर में चल रही मांग में अब भारतीय भी शामिल हो गए हैं जबकि कुछ भारतीय कह रहे हैं कि इन खेलों में भागीदारी को लेकर वे अंतर्राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति (आईओसी) का जो भी फैसला होगा उसे मानेंगे। टोक्यो ओलम्पिक का आयोजन 24 जुलाई से नौ अगस्त तक होना है। आईओसी और मेजबान देश जापान ने कहा है कि कोरोना वायरस के खतरे के बावजूद ओलम्पिक का आयोजन तय समय पर होना है जबकि विश्व के अधिकांश (अब तक 185) देशों में फैल चुके कोरोना वायरस ‘कोविड 19’ का प्रकोप थमने का नाम नहीं लेे रहा है और अब तक इस खतरनाक वायरस से 12,886 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि करीब 299,284 लोग इससे संक्रमित हुए हैं। भारत में भी कोरोना वायरस का संक्रमण फैलता जा रहा है और देश अब तक इससे संक्रमितों की संख्या बढ़कर 283 हो गयी है। देश में कोरोना वायरस के संक्रमण से कुल चार लोगों की मौत हो गयी है। पंजाब, कर्नाटक, दिल्ली और महाराष्ट्र में एक-एक व्यक्ति की मौत हुयी थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर देश भर में रविवार को जनता कर्फ्यू के दौरान सन्नाटा छाया रहा। भारत में सभी खेल आयोजन और खेल ट्रेनिंग केंद्रों को बंद कर दिया गया है और केवल उन्हीं जगह शिविर जारी है जहां ओलम्पिक की ट्रेनिंग की तैयारी चल रही है। टोक्यो ओलम्पिक के लिए क्वालिफिकेशन अभी पूरे नहीं हुए हैं और इनमें से अधिकतर स्थगित कर दिए गए हैं। जापान के शहर टोक्यो को 11 हजार के करीब एथलीटों की मेजबानी करनी है और 50 फीसदी से ज्यादा एथलीट इन खेलों के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं। शेष एथलीटों को क्वालीफिकेशन या रैंकिंग के आधार पर ओलंपिक में प्रवेश मिलना है। पूर्व टेनिस खिलाड़ी महेश भूपति और देश के शीर्ष टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंत शरत कमल का कहना है कि मौजूदा हालात में ओलम्पिक को स्थगित करना सही फैसला रहेगा क्योंकि हालात ऐसे नहीं हैं कि एथलीट ओलम्पिक के लिए अपनी तैयारी कर सकें। दूसरी तरफ भारतीय ओलम्पिक संघ आईओए के महासचिव राजीव मेहता और महिला टेनिस स्टार सानिया मिर्जा का कहना है कि इन खेलों में भागीदारी को लेकर वे अंतर्राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति (आईओसी) का जो भी फैसला होगा उसे मानेंगे।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...