झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 16 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 16 मार्च 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 16 मार्च

भाजपा नगर मंडल को सहयोग निधि के रूप  में सांसद गुमानसिंह डामोर ने सौपा 21 हजार का चैक

jhabua news
झाबुआ । भारतीय जनता पार्टी देश की एक मात्र ऐसी राजनैतिक पार्टी है जो अपने कार्यकर्ताओं से ही धन का संग्रहण करके अपने संगठन को चलाने का काम करती है । इस निधि से एकत्र होने वाली रकम से ही संगठन के रोजमर्रा के खर्च चलते हैं। इसी से कार्यालय के रखरखाव, कार्यरत कर्मचारियों को वेतन बांटने से लेकर बैठक और कार्यक्रमों पर खर्च होता है। आजीवन सहयोग निधि का आधा पैसा प्रदेश कार्यालय और आधा जिला कार्यालय के बीच बांटा जाता है। उक्त बात रविवार को सांसद कार्यालय में नगर भाजपा मंडल को 21 हजार की सहयोग निधि का चैक प्रदान करते हुए भाजपा सांसद गुमानसिंह डामोर ने उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहीं । उन्होने कहा कि  अन्य दलों से हट कर सिर्फ भारतीय जनता पार्टी ही एक मात्र ऐसा राजनैतिक दल है जिसमे प्रत्येक कार्यकर्ताओं को फख्र होता है कि संगठन को सुचारूरूप  से चलाने में उसका भी योगदान है । श्री डामोर ने नगर मंडल अध्यक्ष बबलु सकलेचा को 21 हजार का सहयोग निधि का चैक सौपा । इस अवसर पर मण्डल महामंत्री भूपेश सिंगोड, नाना राठौर के अलावा भाजपा नेता मनोज अरोडा,भूरू चैहान सहित बडी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे । सांसद गुमानसिंह डामोर द्वारा नगर भाजपा मंडल को आजीवन सहयाग निधि में दिये गये सहयोग के लिये नगर मंडल अध्यक्ष बबलु सकलेचा ने पूरे मंडल की ओर से उनका आभार व्यक्त किया ।

सर्वसमाज की महिलाओं का सामुहिक गणगौर पर्व 18  मार्च से 19 से 27 मार्च तक पैलेस गार्डन में होगें प्रतिदिन आयोजन

jhabua news
झाबुआ । गणगौर महोत्सव समिति राजवाडा झाबुआ’ द्वारा आगामी 18 मार्च से 27 मार्च तक मनाये जाने वाले सकल सर्व समाज की महिलाओं की सहभागिता से गणगौर महोत्सव को लेकर 19 मार्च से 27 मार्च तक विभिन्न सांस्कृतिक एवं रचनात्मक कार्यक्रमों का आयोजन  महिलाओं की सहभागिता से किया जावेगा । गणगौर महोत्सव समिति के नानालाल कोठारी, नीरजसिंह राठौर, एवं श्रीमती कुंता सोनी ने संयुक्त जानकारी देते हुए बताया कि स्थानीय पैलेस गार्डन पर  इस अवधि में प्रतिदिन सायंकाल 6 बजे से विभिन्न आयोजन नगर की महिलाओं द्वारा तथा उनकी ही सहभागिता से संपन्न होगें । तय किये गये कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए नानालाल कोठारी एवं श्रीमती कुंता सोनी ने बताया कि 19 मार्च को महिलाओं के लिये क्रिकेट स्पर्धा, 20 मार्च को थैला रेस एवं रस्सा खेच स्पर्धा, 21 मार्च को खो-खो प्रतियोगिता, 22 मार्च को प्रश्नमंच, 23 मार्च को सांस्कृति नृत्य,24 मार्च को नृत्य नाटिका, 26 मार्च को तंबोला, एवं 27 मार्च को गणगौर उत्सव का भव्य समापन  होगा । आयोजन समिति ने नगर की सभी समाजों की महिलाओं से आग्रह किया है कि नगर की समस्त माताओं, बहिनों की उपस्थिति में आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम में अधिक से अधिक संख्या में समस्त कार्यक्रमों में सहभागी होकर नगर की परम्परानुसार इस धार्मिक आयोजन को सफल बनाने में अपना सहयोग प्रदान करें ।तथा अधिक से अधिक संख्या में महिलायें इन कार्यक्रमों में सहभागी हो ।

आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट ने विकलांग केंद्र में मनाया रंग पंचमी उत्सव, सूखे रंग लगाकर दिव्यांग बच्चों के साथ जमकर किया नृत्य, शीतला सप्तमी के व्यंजनों का उठाया लुत्फ

jhabua news
झाबुआ। आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट झाबुआ द्वारा प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी रंग पंचमी का पावन पर्व जिला विकलांग एवं पुर्नवास केंद्र रंगपुरा में हर्षोल्लासपूर्वक मनाया गया। इस अवसर पर दिव्यांग बच्चों के साथ सूखे रंगों से होली खेलकर उनके साथ जमकर नृत्य किया। बाद सभी बच्चांे एवं विकलांग केंद्र के स्टाॅफ के साथ शीतला सप्तमी के स्वादिष्ट व्यंजनों का आनंद लिया। आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के मेनेजिंग ट्रस्टी यषवंत भंडारी, सेवा प्रकल्प अध्यक्ष रविराजसिंह राठौर, सेवा प्रकल्प सचिव सुनिल चैहान, परामर्षदाता सुधीरसिंह कुषवाह, वरिष्ठ सदस्य अषोक शर्मा, मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी के साथ रोटरी क्लब ‘मेन’ के पूर्व अमितसिंह जादौन (यादव) एवं भारतीय जैन संघटना के संजय जैन (जगावत), श्रीमती कुषवाह आदि ने 14 मार्च शनिवार को दोपहर 12.30 बजे रंगपुरा विकलांग केंद्र पहुंचकर यहां बच्चों के साथ सबसे पहले सूखे रंगों से होली खोली।

बच्चों को रंगों से किया सराबोर
बच्चों को रंगों से सराबोर किया। बाद होली के गीतों पर बच्चों ने गोल घेरा बनाकर नृत्य किया। उनके साथ थाली बजाते हुए आसरा ट्रस्ट के पदाधिकारी-सदस्य भी जमकर झूमे। इसके साथ ही फिल्मी एवं आदिवासी गीतों पर भी नृत्य किया। विकलांग केंद्र के संचालक शैलेन्द्रसिंह राठौर सहित समस्त स्टाॅफ को भी रंग लगाकर उन्हें रंगपंचमी एवं शीतला सप्तमी पर्व की शुभकामनाएं प्रेषित की गई।  

लजीज व्यंजनों का लुत्फ उठाया
यह उत्सव करीब एक घंटे तक चला। बाद विकलांग केंद्र के सभा कक्ष में सभी ने मिलकर दिव्यांग बच्चों के साथ शीतला सप्तमी के ठंडे व्यंजनों में पापड, फिंगर, कुल्लई, चिप्स आदि का आनंद लिया। बच्चों ने स्वादिष्ट व्यंजनों का भरपेट आनंद लिया। व्यंजनों की व्यवस्था मेनेजिंग ट्रस्टी यषवंत भंडारी के सौजन्य से की गई। अंत में सभी के प्रति आभार विकलांग केंद्र के संचालक शेलेन्द्रसिंह राठौर ने माना।

बेटियों को प्रोत्साहित करने के लिए भारती सोनी व्हाट्स-एप पर उनकी खूबियांें का स्टेटस के माध्यम से कर रहीं बखान
नवीन वर्ष 1 जनवरी 2020 से की शुरूआत, अब तक 800 स्टेटस अपडेट कर दिए, लगातार मिल रहीं सफलता

jhabua news
झाबुआ। देष की तमाम सरकारे आज बेटियों को पढ़ाने, आगे बढ़ाने से लेकर उनके षिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार सहित तमाम तरह की सुविधाएं उन्हें उपलब्ध करवाने के लिए पूरी तरह से कृत-संकल्पित है, लेकिन क्या सरकार की ही जिम्मेदारी है कि बेटियों को प्रोत्साहित कर उन्हें आगे बढ़ाया जाए, इसके लिए देष के नागरिकों की भी समान जिम्मेदारी बनती है कि वह अपने घर, परिवार, समाज के साथ अपने गांव और शहर की बेटियों को प्रोत्साहित करने के लिए कुछ ना कुछ नई तरह की पहल या प्रयास करे, जिससे उन्हें प्रोत्साहन मिल सके और उनका हौंसला अफजाई होकर वह आगे बढ़ने में सहायक हो सके। ऐसा ही प्रयास (पहल) झाबुआ शहर में कर रहीं है संकल्प ग्रुप की संयोजक एवं संस्कार भारती आजाद इकाई की अध्यक्ष श्रीमती भारती सोनी, जो हमेषा शहर ही नहीं अपितु जिलेभर में अपने सामाजिक,  सांस्कृतिक, रचनात्मक एवं लेखन के क्षेत्र में पिछले एक दषक से अधिक समय से सक्रियता से कार्य करने के कारण पहचानी जाती है। इन क्षेत्रों में श्रीमती सोनी की भूमिका काफी महत्वपूर्ण रहती है। भारती सोनी ने एक पहल झाबुआ जिले ही अपितु प्रदेष, देष एवं विदेषांे की महिलाओं (बेटियों) को प्रोत्साहित करने के लिए आरंभ की है।

व्हाट्स-एप पर स्टेटस अपडेट कर रहीं भारती सोनी
संकल्प ग्रुप एवं संस्कार भारती अध्यक्ष श्रीमती भारती सोनी ने नए वर्ष के प्रथम दिन 1 जनवरी 2020 से सोष्यल मीडिया पर व्हाट्स-एप पर एक अनूठी पहल शुरू की है। वह प्रतिदिन 10-15 बेटियों के फोटो के साथ उनके स्टेटस में उनके जीवन, कार्यशैली, उनके सामाजिक, धार्मिक, रचनात्मक, सांस्कृतिक, खेल, साहित्य, लेखन या अन्य किसी भी क्षेत्र में, जिस क्षेत्र में संबंधित की भूमिका या रूचि होती है, उस संबंध मंे अपनी विवेकता से संदेष लिखकर उसे अपलोड करती है, जिसे उनके व्हाट्स-एप ग्रुप से जुड़े हजारों लोगों द्वारा प्रतिदिन देखने के साथ उसे लाईक करने, शेयर करने एवं कमेंट करने जैसे कार्य उत्साहपूर्वक किए जाते है। वहीं जिस महिला का वह स्टेटस अपटेड करती है, वह स्वयं भी उसे दख्ेाकर अत्यधिक प्रेरित ओर प्रोत्साहित होकर उसे सोष्यल मीडिया में अन्य साधनों जैसे फेसबुंक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर अपलोड करती है, जिससे उन्हें काफी खुषी मिलने के साथ सोष्यल मीडिया पर काफी सराहना भी प्राप्त होती है।

800 स्टेटस अपडेट किए
‘‘अकेले चल थे मंजिल पर .... ओर कारवां बढ़ता चला गया ....’’ की तर्ज पर भारती सोनी ने यह शुरूआत अकेले ही की थी, लेकिन उन्हें लगातार इसका सकारात्मक फिडबेक मिलने से पहले वे एक दिन में 2-3 बेटियों का ही जहां स्टेटस अपडेट करती थी, अब वह एक दिन में 10-15 बेटियों का स्टेटस अपडेट कर रहीं है। श्रीमती सोनी के अनुसार अब तो हो यह रहा है कि उन्हें इस संबंध में किसी भी बेटी से संपर्क कर उनका पिक लेने की जरूरत ही नहीं पड़ती है, आगे रहकर उनके व्हाट्स-एप पर ना केवल शहर, जिले अपितु प्रदेष और देष की बेटियां भी, जो उनसे किसी ना किसी माध्यम से जुड़ी हुई है, वह उन्हें अपना पिक्स सेंड कर उनसे उनका फोटो के साथ सुंदर संदेष बनाने हेतु कहती है। सकारात्मक फिडबेक मिलने पर श्रीमती सोनी भी उनका सुंदर संदेष, जिसमें उनके चेहरे के एक्सप्रेषन, हाव-भाव से लेकर उनके कार्य क्षेत्र आदि के संबंध में अपने मन से स्टेटस बनाकर अपलोड कर दिए जाते है। उन्होंने बेटियों के संबंध में व्हाट्स-एप पर अब तक कुल 800 स्टेटस अपडेट कर दिए है।

उम्र की कोई सीमा नहीं  
भारती सोनी ने बताया कि उसमें उम्र की कोई सीमा या बंधन नहीं है। वह एक साल की बच्ची से लेकर बुजुर्ग महिला तक के लिए उनकी खूबियों को जानकर उनका सुंदर संदेष तैयार करती है। इसकी शुरूआत उन्होंने अपने घर से अपनी बहू और पोती का स्टेटस बनाकर की थी। श्रीमती सोनी आगामी समय में चाहती है कि उन्होंने अब तक जितने भी स्टेटस अपडेट किए है, उसका संकलन कर वह एक पुस्तक तैयार करे या इसकी ई-बुक बनाएं। तब स्टेटस संदेष, फोटो के साथ बेटियों के नाम, पद और कई अन्य जानकारी भी उसमें साझा की जा सके।

विशेषकर ग्रृहिणियों को प्रोत्साहन
इन स्टेटसों की खासियत यह भी है कि उनके किसी भी स्टेटस में लिखे संदेष में कोई भी शब्द डबल बार रिपिट नहीं होता है। हर महिला के लिए एक नया संदेष होता है। भारती सोनी ने बताया कि आज महिलाएं एवं बेटियां देष हीं नहीं अपितु विदेषों में भी हर क्षेत्र में अपने कार्यों के बलबूते पर अपनी पहचान बना रहीं है एवं नित नए किर्तीमान रच रहीं है, लेकिन गृहिणी महिलाएं, जो दिनभर अपने घरेलु एवं दैनिक कार्यों में ही व्यस्त रहती है, उन्हें उनकी खुबियां बताकर प्रोत्साहित करना अति आवष्यक है, इस हेतु वे विषेष रूप से गृहिणीयों के भी फोटो लेकर उनके साथ उनके पारिवारिक संदेष लिखकर उन्हें प्रोत्साहित करने का भी काम बखूबी करती है। जिसे गृहिणीयां अपने दिनभर के कामकाज से रात में फुर्सत में होकर देखने के बाद उन्हें काफी प्रसन्नता होती है एवं वे कई बार घरेलु कार्य में भी अपनी खुबियां जानकर काफी भावुक भी हो जाती है। इसके अलावा बेटियों के परिवार में उनके माता-पिता, दादा-दादी, बुआं, काका आदि रिश्तों से भी जोड़कर स्टेटस तैयार किए जाते है। जिससे उनके रिष्तेदारों को पढ़ने के लिए उत्सुकता होती है और उन्हें खुषी मिलती है।

बेटों के लिए भी शुरू करेगी पहल
श्रीमती सानी ने इसे अपने जीवन के लिए लेखन के क्षेत्र में अमूल्य पूंजी बताते हुए कहा कि अब बेटो की भी इस संबंध में रूचि होने एवं उनके द्वारा अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करने पर वह जल्द ही बेटों के पिक्चर सहित उनकी खुबियों का बखूबी संदेष के माध्यम से सोष्यल मीडिया पर जिक्र कर उन्हें प्रोत्साहित करने हेतु भी पहल करेगी।

हिन्दू नववर्ष (गुड़ी पड़वा) पर हाथीपावा पर होगा अनूठा आयोजन, उदय होते सूर्य को अघ्र्य देकर नीम के रस का सेवन किया जाएगा

झाबुआ। हिन्दू नववर्ष चैत्र प्रतिपदा (गुड़ी पड़वा) पर्व पर शहर से सटे हाथीपावा पर एक अनूठा आयोजन किया जा रहा है। जिसमें प्रातःकाल सूर्य को अघ्र्य देकर सभी द्वारा एक-दूसरे को नववर्ष की शुभकामनाएं देते हुए नीम के रस का सेवन किया जाएगा। जानकारी देते हुए आयोजन के सूत्रधार ओम शर्मा ने बताया कि प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी 25 मार्च, बुधवार को शहर से सटी हाथीपावा पहाड़ियों पर प्रातःकाल ठीक 6.15 बजे झाबुआ के नागरिकों द्वारा नए वर्ष में उदय होते सूर्य देवता को हाथीपावा पर अलग-अलग स्थानों पर खड़े रहकर जल से अघ्र्य देकर नव वर्ष का आगमन करेंगे। बाद सभी द्वारा एक-दूसरे को गले मिलकर नए वर्ष की शुभकामनाएं देते हुए नीम के रस का सेवन किया जाएगा।

शहर के सभी नागरिकों से सहभागिता की अपील
उक्त आयोजन शहर के समस्त नागरिकों के लिए रखा गया है। जिसमें विषेष रूप से केषव इंटरनेषनल स्कूल बाड़कुआं के बच्चांे सहित अन्य स्कूलों के बच्चों, भारतीय स्त्री संगठन, जिला पतंजलि योग समिति, राजगढ़ नाका मित्र मंडल, गायत्री परिवार, रोटरी क्लब, सकल व्यापारी संघ, संकल्प ग्रुप, सांत्वना ग्रुप आदि संस्थाओं की सहभागिता रहेगी।

हिन्दू नववर्ष गुड़ी पड़वा पर 25 मार्च को होगा व्याख्यान माला का आयोजन, आयोजन कीे आमंत्रण-पत्रिकाओं का किया गया विमोचन
हनुमान टेकरी पर धूमधाम से मनाया गया फाग उत्सव
jhabua news
झाबुआ। श्री संकटमोचन हनुमान मंदिर सेवा समिति हनुमान टेकरी झाबुआ द्वारा द्वारा हनुमान टेकरी पर फाग उत्सव मनाकर ओजस्वी वक्ता एवं लेखक पं. विजयशंकर मेहता के व्याख्यान माला कार्यक्रम के आमंत्रण पत्रिकाओं का विमोचन किया गया। जानकारी देते हुए समिति के तरूण बैरागी ने बताया कि 13 मार्च, शुक्रवार को हनुमान टेकरी पर फाग उत्सव का कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें मेघनगर से आई मातृ षक्तियों द्वारा संचालित भजन मंडली ने दोपहर 3 से शाम 6 बजे तक भजन-संकिर्तन किया तथा एक-दूसरे को गुलाल लगाकर खुषियां मनाई। उक्त आयोजन में समिति की श्रीमती सुनीता लाली सोनी, माया बैरागी, सीमा चैहान, रंजना चन्द्रावत, आरती चैहान, संगीता भाटी, श्रीमती धाकड़, शीतल चैहान, पुष्पा नीमा, लेखा बैरागी, सुश्री किर्ती देवल, मीना रावत, गुजंन नायक, नीता शाह, चंचला सोनी, कैलाश पडियार, सुश्री रूकमणी वर्मा, मंगला राठौड़, चारूलता दवे आदि की सहभागिता रहीं।

संकट मोचन हनुमानजी की आरती के साथ हुआ शुभारंभ
बाद आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में प्रसिद्ध उद्योगपति एवं समाजसेवी मनोज भाटी, सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर, पाटीदार समाज के अध्यक्ष नाथुलाल पाटीदार, बापूसिंह कटारा, रानापुर के चिकित्सक श्री डाॅ. एमके पोत्दार, मेघनगर के चिकित्सक डाॅ. लक्ष्मीकांत सोनी उपस्थित थे। कार्यक्रम का शुभांरभ संकट मोचन हनुमानजी की आरती के साथ हुआ। जिसका लाभ मनोज भाटी एवं श्रीमती संगीता भाटी ने लिया। पष्चात् अतिथियों का पुष्पमालाओं से स्वागत किया गया। स्वागत गीत सुश्री किर्ति देवल एवं होली गीत मुकेष कोठारी तथा एमके खुराना ने प्रस्तुत किया। समिति प्रतिवेदन एवं 8 अप्रेल को आने वाले हनुमान जन्मोत्सव को लेकर भूमिका गजेन्द्रसिंह चन्द्रावत ने प्रस्तुत की।

‘‘कुछ पल राम के नाम’’ व्याख्यान माला 25 को
अतिथि उद्बोधन के पष्चात् 25 मार्च गुड़ी पड़वा के दिन होने वाले प. विजय शंकर मेहता के आयोजन ‘‘कुछ पल राम के नाम’’ विषय पर व्याख्यान माला कार्यक्रम के आमंत्रण पत्रिकाओं का अतिथियों ने सामूहिक रूप से विमोचन किया गया। कार्यक्र्रम के अंत में पधारे सभीजनों के लिए सहभोज का आयोजन रखा गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में सराहनीय सहयोग समिति अध्यक्ष अरूण भावसार, प्रेमअदीपसिंह पंवार, पवेन्द्रसिंह चैहान अषोक शर्मा, प्रदीप सोनी, मुकेष नीमा, पल्लूसिंह चैहान, महेन्द्रसिंह गेहलोत, प्रकाष धाकड़, प्रेम पड़िहार, पुष्पेन्द्र नीमा, ओम सोनी, प्रमोद सिसोदिया, निर्मल सिसोदिया, डाॅ. लोकेश दवे, डाॅ. अरविंद दातला, राकेष झरबड़े, दिलीप चंदेल, सुभाष गिधवानी आदि का रहा। संचालन दिनेश चैहान ने किया एवं आभार समिति अध्यक्ष अरूण भावसार ने माना।

आचार्य नित्य सेन सूरीष्वरजी मसा के 71वें जन्मोत्सव पर सद्गुरू गौषाला में गौ-माताओं को करवाया आहार, अभा राजेन्द्र जैन नवयुवक परिषद् एवं परिषद् परिवार ने किया आयोजन

jhabua news
झाबुआ। परम् पूज्य राष्ट्रसंत, पुण्य सम्राट आचार्य श्रीमद् विजय जयंतसेन सूरीष्वरजी मसा के पट्टधर विषाल गच्छाधिपति आचार्य श्रीमद् विजय नित्यसेन सूरष्वरजी के 71वें जन्मदिवस के उपलक्ष में अखिल भारतीय श्री राजेन्द्र जैन नवयुवक परिषद् एवं परिषद् परिवार शाखा झाबुआ द्वारा मिलकर जीव सेवा का कार्य किया गया। जिसमें परिषद् की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती आषा कटारिया के नेतृत्व में परिषद् परिवार से जुड़े मुकेष जैन ‘नाकोड़ा’, अमित मेहता, प्रमोद भंडारी, प्रदीप कटारिया, कमलेष भंडारी, अनिल रूनवाल, अमित सकलेचा, प्रदीप भंडारी, मनोज संघवी, जितेन्द्र मालवीय (बुई भाई), श्वेतांबर जैन श्री संघ अध्यक्ष संजय मेहता, भारतीय जैन संघटना के जिलाध्यक्ष सुनिल संघवी आदि ने 14 मार्च को शाम 4 बजे स्थानीय लक्ष्मीनगर स्थित सद्गुरू गौषाला पहुंचकर यहां समस्त गौ-माताआंे की पूजन कर उन्हें गौ-ग्रास एवं पोष्टीक आहार करवाया। परिषद् परिवार के जीव सेवा के इस कार्य की गौषाला के व्यवस्थापकों ने प्रसन्नता जाहिर करते हुए पधारे सभी जनों के प्रति आभार माना।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...