सदन से बाहर आसन पर सवाल करना ठीक नहीं : ओम बिरला - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 17 मार्च 2020

सदन से बाहर आसन पर सवाल करना ठीक नहीं : ओम बिरला

out-side-parliament-rasing-question-not-good-om-birla
नयी दिल्ली, 17 मार्च, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मंगलवार को कहा कि पूरक प्रश्न को लेकर सदन से बाहर आसन पर सवाल करना ठीक नहीं है। बिरला ने यह टिप्पणी ऐसे समय में की है जब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को आरोप लगाया था कि जानबूझकर कर्ज अदायगी नहीं करने वाले चूककर्ताओं के संदर्भ में पूरक प्रश्न पूछने का मौका नहीं दिया गया और बतौर सांसद उनके अधिकार का संरक्षण नहीं किया गया। लोकसभा अध्यक्ष ने मंगलवार को मछलियों को रखने के लिए कोल्ड स्टोरेज बनाने के विषय पर कई सदस्यों द्वारा पूरक प्रश्न पूछे जाने पर कहा कि अगर एक प्रश्न में 15 मिनट लग जाएं तो फिर कैसे होगा। उन्होंने किसी सदस्य का नाम लिये बगैर कहा, ‘‘आपके सदस्य कहेंगे कि 12 बजे के बाद पूरक प्रश्न पूछने नहीं दिया गया। बाहर आसन पर सवाल करना ठीक नहीं है।’’ दरअसल, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को सदन में प्रश्नकाल के दौरान जानबूझकर कर की अदायगी नहीं करने वाले 50 चूककर्ताओं के नाम पूछते हुए पूरक प्रश्न किया था। इस पर वित्त राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने जवाब में कहा कि कांग्रेस नेता राजनीति कर रहे हैं। बाद में गांधी ने संसद परिसर में संवाददाताओं से बातचीत में दावा किया कि चूककर्ताओं को लेकर लोकसभा में पूरक प्रश्न पूछने नहीं दिया गया और बतौर सांसद उनके अधिकार का संरक्षण नहीं किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...