विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 20 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 20 मार्च 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 20 मार्च

कोरोना वायरस से बचाव हेतु जागरूक होना जरूरी व्हीसी के माध्यम से खण्ड स्तरीय अमले को दिए निर्देश

vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से खण्ड स्तरीय अमले को कोरोना वायरस से बचाव के संबंध में दिशा निर्देश दिए है उन्होंने जागरूकता पर सबसे अधिक बल देने की बात कही है। कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि शासन द्वारा समय-समय पर जो दिशा निर्देश एडवायजरी जारी की जा रही है उसका अध्ययन सभी अधिकारी अनिवार्य रूप से करें ताकि स्थानीय स्तर पर दिशा निर्देशो के अनुरूप कार्यो का सम्पादन शीघ्रतिशीघ्र किया जा सकें। सभी शासकीय चिकित्सालयों में कोरोना वायरस को देखते हुए पृथक-पृथक कक्षो में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए है। उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यक्ति सर्दी, खांसी से ग्रस्त है तो अविलम्ब चिकित्सक से अनिवार्यतः परीक्षण कराएं। कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि स्वस्थ व्यक्ति को मास्क पहनने की जरूरत नही है। केवल सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखा से पीड़ित व्यक्ति ही मास्क का उपयोग करें। उन्होंने हेण्डवॉश को अति महत्वपूर्ण बताते हुए बचाव के संसाधन में नियमित साबुन से हाथ अनिवार्यतः धोएं। उन्होंने स्वच्छता पर विशेष ध्यान देने के भी निर्देश दिए है। कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि कार्यालयो में साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने का यह अच्छा अवसर है अतः स्वंय स्वच्छ रहे और कार्यालय को भी स्वच्छ रखें। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कहा कि कोरोना वायरस के बचाव उपायों का व्यापक प्रचार-प्रसार हो, जागरूकता में कोई कोर कसर ना छोड़े। उन्होंने निकाय क्षेत्रों में होर्डिग्स फ्लैक्स के माध्यम से बचाव संबंधी जो दिशा निर्देश शासन द्वारा जारी किए गए है का प्रचार किया जाए। ताकि आमजन पढ़कर अनुसरण कर सकें। उन्होंने कोरोना वायरस के संबंध में किसी भी प्रकार की अफवाह पर ध्यान नही देने की समझाईंश देते हुए कहा बचाव संसाधनों के प्रचार-प्रसार हर स्तर पर अधिक से अधिक हो ताकि आमजन किसी भी अफवाहों के झमेले में फंसे ना। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केसी अहिरवार ने कोरोना वायरस (कोविड-19) के बचाव उपायो के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार से ग्रस्त मरीजों में मौसमी बीमारी हो सकती है अतः वे किसी भी प्रकार के भय से ग्रस्त ना हो। चिकित्सक की सलाह पर दवाओ का सेवन करें। जिला चिकित्सालय के साथ-साथ सीएससी एवं पीएससी केन्द्रों पर बनाए गए आइसोलेशन वार्ड के संबंध में उनके द्वारा जानकारी दी गई।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने समस्त एसडीएम को वीडियो कांफ्रेसिंग के दौरान निर्देश दिए है कि अनुविभाग क्षेत्र पर हर रोज समीक्षा कर और कोरोना वायरस से बचाव के उपायों से सभी अवगत हो के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित करें। यदि कोई व्यक्ति अत्यधिक सर्दी, खांसी, जुकाम से पीड़ित पाया जाता है तो जिला चिकित्सालय के संज्ञान में अवश्य लाएं। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य संचालनालय द्वारा जारी एडवायजरी के अनुसार बीस से अधिक व्यक्ति एक साथ इकट्ठे ना हो इस प्रकार से इकट्ठे होने वाले व्यक्तियो में नियमानुसार एक दूसरे के प्रति गेप रखने के निर्देश का पालन किया जाए। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने निकाय एवं ग्रामीण क्षेत्रो में प्रचार-प्रसार हेतु पृथक-पृथक कार्ययोजना तैयार कर शीघ्रतिशीघ्र मूर्तरूप दिया जाए ताकि जिले के हर नागरिक कोरोना वायरस के बचाव के उपायों से अवगत हो सकें। उन्होंने कहा कि बीमार व्यक्ति घर में ही रहें ताकि किसी भी प्रकार की शंकाएं ना हो। एनआईसी के व्हीसी कक्ष में इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह के अलावा डिप्टी कलेक्टर, विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे। 

पीडीएस की राशन दुकानों को कोरोना वायरस से मुक्त रखने की कार्यवाही सुनिश्चित

राज्य शासन ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली की राशन दुकानों पर उपभोक्ताओं को नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिये विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किये हैं। राशन विक्रेता के लिये मॉस्क और सेनेटाइजर का उपयोग आवश्यक कर दिया गया है। संचालक खाद्य-नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्री अविनाश लवानिया द्वारा राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अन्तर्गत राशन दुकानों के विक्रेताओं से कहा गया है कि दुकान नियमित रूप से खोलें और पात्र परिवारों को सतत रूप से राशन का वितरण करें। दुकान पर अधिक उपभोक्ता एक साथ एकत्रित न हों तथा वे एक-दूसरे से आवश्यक दूरी पर रहें। राशन वितरण करते समय हितग्राहियों के मध्य न्यूनतम 3 मीटर की दूरी रखी जाए। यथासंभव यह कोशिश की जाए कि वृद्व एवं बीमार उपभोक्ताओं को राशन प्राप्त करने दुकान पर न आना पड़े। यदि फिर भी ऐसे हितग्राही दुकान पर आते हैं, तो उनकी लाइन अलग से लगवाई जाए और उन्हें प्राथमिकता के आधार पर राशन वितरण किया जाए। जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने बताया कि विदिशा जिले के सभी सार्वजनिक उचित मूल्य दुकानो में हेण्डवॉश की निःशुल्क सुविधाएं राशन कार्डधारियों के लिए मुहैया कराई गई है। रजिस्टर में अंगूठा लगवाने से पहले बकायदा हेण्डवॉश कर्मचारी की उपस्थिति में हितग्राहियों के द्वारा किया जा रहा है। पीडीएस दुकानो में ही नही बल्कि जिला आपूर्ति कार्यालय में भी हेण्डवॉश की सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है। कोरोना से बचाव से आंगतुकों को अवगत कराने के लिए पृथक से हेल्पडेस्क भी संचालित की जा रही है। 

बायोमेट्रिक मशीन के स्केनर को सेनेटाइजर से साफ करने के निर्देश
राशन दुकानों के विक्रेताओं से कहा गया है कि बायोमेट्रिक सत्यापन के आधार पर प्रत्येक उपभोक्ता को राशन वितरण के बाद मशीन के स्केनर को सेनेटाईजर से साफ कराया जाए। इसके लिये दुकान पर पर्याप्त मात्रा में सेनेटाईजर रखा जाए। जिन उपभोक्ताओं को बायोमेट्रिक सत्यापन में कठिनाई होती है, उन्हें आगामी माह में भी राशन प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करें। निर्देश जारी किये गये हैं कि पीडीएस की प्रत्येक दुकान पर विक्रेता और सहयोगी भी राशन वितरण करते समय मास्क का उपयोग अवश्य करें और अपने हाथों को भी बार-बार सेनेटाईजर से साफ करें। 

हेल्प डेस्क
जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने बताया कि विदिशा जिले में संचालित सभी पीडीएस दुकानो में एक-एक हेल्पडेस्क भी संचालित की जा रही है ताकि राशन लेने वाले हितग्राहियों को कोरोना वायरस के बचाव उपायों की जानकारी मिल सकें। उक्त कार्य स्वास्थ्य विभाग द्वारा मुहैया कराए गए पम्पलेटो तथा फ्लैक्स के माध्यम से ही संपादित किया जा रहा है।  जिला मुख्यालय पर संचालित कार्यालय में भी इस प्रकार के प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। डीएसओ श्रीमती साहू ने बताया कि 25 मार्च से समर्थन मूल्य पर उपार्जन कार्य शुरू होगा। इसके लिए जिले में कुल 127 केन्द्र बनाए गए है इन सभी केन्द्रों पर भी भौतिक संसाधनो के साथ-साथ आगंतुक कृषकों एवं उनके सहयोगियों को कोरोना वायरस के बचाव उपायों की जानकारी देने के लिए भी पृथक से डेस्क संचालित किया जाएगा।

ओलावृष्टि से 56 ग्रामों  की फसलें प्रभावित

विदिशा जिले में गुरुवार की प्रातः अचानक हुई ओलावृष्टि से गुलाबगंज ग्यारसपुर बासौदा तहसील के कुल 56 ग्राम की फसलें प्रभावित हुई हैं ‌।  कलेक्टर पंकज जैन के द्वारा तत्काल राजस्व अधिकारियों को क्षति आकलन के लिए ग्रामों की ओर रवाना किया  था। अपर कलेक्टर श्री वृंदावन सिंह ने बताया कि नियमानुसार प्रारंभिक चरण में नजरी आकलन सर्वे कार्य पूरा हो चुका है। कलेक्टर डॉक्टर पंकज जैन ने क्षतिग्रस्त फसलों की वाजिब स्थिति से अवगत होने हेतु प्रत्येक ग्राम के लिए एक  एक सर्वे दल गठित किया  है ।  हरेक  एक दल में पटवारी कृषि विस्तार अधिकारी (आर ए ई ओ) पंचायत सचिव तथा रोजगार सहायक दल में शामिल किए गए हैं कलेक्टर पंकज जैन ने सभी सर्वे दल के सदस्यों को निर्देश दिए हैं कि क्षतिग्रस्त फसल का आकलन खेत पर जाकर करें कोई भी पीड़ित कृषक सर्वे से वंचित ना हो  का पूरा ध्यान रखा जाए उन्होंने सर्वे के दौरान पीड़ित कृषक भी उपस्थित हो सके ऐसी व्यवस्था  क्रियान्वित करने के निर्देश दिए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: