मधुबनी : मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में विडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक का आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 18 अप्रैल 2020

मधुबनी : मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में विडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक का आयोजन

cm-inspaction-via-vc-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता)  मुख्यमंत्री के द्वारा शनिवार को विडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से कोविड-19 के संक्रमण काल में जिला स्तर पर किये जा रहे कार्यो की समीक्षा की गयी।  समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि जिले के विभिन्न विद्यालयों एवं पंचायत स्तर पर अन्य भवनों में क्वारंटाइन में रह रहे व्यक्तियों की संख्या-109(दिनांक-17.04.20), आपदा राहत केन्द्रों में रह रहे व्यक्तियों की संख्या-53(दिनांक-17.04.20 को), दिनांक 04.03.2020 के पश्चात मधुबनी आए व्यक्तियों की संख्या-339, जिला स्तरीय आपदा राहत केन्द्रों की संख्या(दिनांक-17.04.20 तक)-3, आपदा राहत केन्द्रों पर भोजन ग्रहण करनेवाले व्यक्तियों की संख्या(दिनांक-17.04.20 को)-188, क्वारंटाइन केन्द्र की संख्या-365, क्वारंटाइन कैंपों की संख्या-36, आईसोलेशन केन्द्र की संख्या-27, कुल संदिग्ध व्यक्तियों की सैंपल प्राप्त-281, कुल संदिग्ध व्यक्यिों के जांच के उपरांत परिणाम(-वी0ई0)-236, कुल संदिग्ध व्यक्तियों के जांच के उपरांत परिणाम(+वी0ई0)-0, कुल संदिग्ध व्यक्तियों के जांच के उपरांत परिणाम हेतु लंबित-45, प्रवासी बिहारियों के द्वारा प्राप्त कुल आवेदन-115059 तथा जिला के द्वारा प्रवासी बिहारियों का स्वीकृत आवेदन-97464 है।  तत्पश्चात माननीय मुख्यमंत्री, बिहार द्वारा कहा गया कि वैसे राशन कार्ड का आवेदन जो किसी कारण से अनुमंडल स्तर पर लंबित है, उस पर जिला के द्वारा क्या काम किया गया, इसकी जानकारी ली गयी। आपदा राहत केन्द्र में गरीब, निःसहाय एवं बंद के दौरान विभिन्न जगहों पर फंसे यात्रियों, मजदूरों को भोजन कराने का निदेश दिया गया। मनरेगा के अंतर्गत पंचायतों में काम प्रारंभ कराने का भी निदेश दिया गया। हर-घर नल का जल का काम सही ढ़ंग से कराया जाए तथा जल-जीवन-हरियाली योजना अंतर्गत भी काम प्रारंभ कराने का निदेश दिया गया। साथ ही गेहूं की अधिप्राप्ति का भी काम करने की कार्रवाई करने का निदेश दिया गया। शत-प्रतिशत लाॅकडाउन का अनुपालन कराने हेतु भी निदेश दिया गया। आंगनवाड़ी केन्द्र के माध्यम से दिये जा रहे पैसा के साथ-साथ दुग्ध पाउडर भी उपलब्ध कराया जाए। 200 ग्राम के दूध पाउडर से 11 दिनों तक दूध का सेवन कर सकेंगे। बाजार या हाट के संचालन मे सोशल डिस्टेंसिंग का अवश्य पालन कराया जाय। उन्होंने सोशल मीडिया एवं अन्य माध्यमों से अफवाहों की रोकथाम हेतु व्यवस्था करने का भी निदेश दिया। आवश्यक सामग्रियों की उपलब्धता की स्थिति तथा सप्लाई चेन की निरंतरता बनाये रखने की स्थिति की भी समीक्षा की गयी। साथ ही दूरदर्शन बिहार पर कक्षा 09 एवं 10 की सिलेबस के अनुरूप विषय का प्रसारण 20 अप्रैल से किया जाएगा। यह प्रसारण शिक्षा बिभाग से किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं: