बिहार : भीषण अगलगी के कारण जान-माल समेत लाखों की हुई क्षति - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 6 अप्रैल 2020

बिहार : भीषण अगलगी के कारण जान-माल समेत लाखों की हुई क्षति

fire-in-bihar
अरुण शाण्डिल्य (बेगूसराय) एक तो कोरोना जैसी महामारी ऊपर से ये भीषण प्राकृतिक आपदा को लेकर आम जानो में जो घोर संकट उपस्थित हुई है उसे देखकर एकबार तो पाषाण ह्रदय वालो के आंखों में भी पानी उतर आए।जी हाँ बिहार के पटना,मुंगेर और मोतिहारी में भीषण आगलगी के कारण काफी नुकसान बताई जा रही है।पटना में गेहूं की खड़ी फसल में आग लगने के कारण किसानों का काफी नुकसान हुआ है।इसके साथ ही मुंगेर के एक घर में आग लगने के कारण वृद्ध महिला और दो बच्ची की झुलसकर दर्दनाक मौत हो गई है।इसके अलावा  मोतिहारी में तकरीबन आधा दर्जन घर जलकर राख हो गए हैं।

दादी और 2 पोती की आग में झुलसकर हुई मौत
पहली घटना मुंगेर जिले के संग्रामपुर थाना क्षेत्रान्तर्गत कहुआ मुशहरी गाँव के एक घर में आग लगने से हुई।जहाँ एक वृद्ध महिला और उसकी दो पोती की मौत आग की चपेट में आने से हो गई।तारापुर के अनुमंडलीय पुलिस पदाधिकारी रमेश कुमार ने आज यहाँ बताया कि दीदारगंज पंचायत के कहुआ मुशहरी गाँव स्थित एक घर में कल देर रात शार्ट सर्किट होने से आग लग गई थी,जिसके कारण यह बड़ा हादसा हुआ है।इस दुर्घटना में डुलिया देवी (70वर्ष) और उसकी दो पोती सती कुमारी (10वर्ष) और झकरी कुमारी (12वर्ष) की दर्दनाक मौत हो गई है।

इस आगजनी में लगभग 03 लाख से ऊपर की फसल बर्बाद होने की आशंका है।
दूसरी घटना पटना जिले के बिहटा इलाके की है।जहाँ बिहटा के कटेसर गाँव में अज्ञात कारणों से गेहूँ की खड़ी फसल में आग लग गई।देखते ही देखते आग ने बगल के दो और किसानों की फसल को भी अपनी चपेट में ले लिया।आग की लपटों को देखकर ग्रामीणों ने उसे बुझाने का प्रयास तो किया किन्तु आग की लपटें इतनी भीषण थी कि उस पर काबू नहीं पाया जा सका।आगजनी की घटना से करीब तीन लाख रुपये से ऊपर का नुकसान बताया जा रहा है। किसानों ने जिला प्रशासन से मुआवजे की माँग की है।

सात घर हुए जलकर राख।
अगली घटना पूर्वी चंपारण जिले के पचपकड़ी पुलिस आउट पोस्ट के सपही गाँव की है।जहाँ सात घरों में आग लगने से लगभग पाँच लाख रूपये मूल्य की संपत्ति जलकर नष्ट हो गई है।पुलिस सूत्रों ने आज यहाँ बताया कि सपही गाँव के वार्ड नम्बर 09 निवासी बुधू साह के घर में कल रात अचानक आग लग गई थी जिसे देखते ही देखते आग ने आसपास के 06 अन्य घरों को भी अपनी चपेट में ले लिया और इस दुर्घटना में करीब पाँच लाख रूपये मूल्य की संपत्तियों का जलकर नष्ट होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

बेगूसराय जिले में भी कई घरों में आग लगी और इस आगजनी में मवेशियों को भी काफी नुकसान हुआ है।
अगली घटना बेगूसराय जिले के मटिहानी थाना इलाके की है।जहाँ सिहमा पंचायत के गोसाई टोला वार्ड नंबर 4 में भीषण आग लगी जिसमें दर्जनों घर जल कर राख हो गए हैं।ग्रामीणों से मिली जानकारी के मुताबिक खाना बनाने के क्रम में एक घर से निकली चिंगारीयों से आग लग गई।तेज हवा के कारण काफी तेजी से आग बढ़ते गई और देखते ही देखते कई घरों में भीषण आग लग पकड़ ली।आग लगते ही आनन-फानन में स्थानीय लोगों ने अपने स्तर से आग बुझाने की कोशिश की लेकिन आग पर काबू नही पाया जा सका।सूचना के आधे घंटे के बाद अग्निशमन दल घटनास्थल पर पहुँची और आग बुझाने में जुट गई।आगे बेगूसराय जिले में ही बताते चलें कि बेगूसराय के छौराही थाना क्षेत्र के सहूरी पंचायत मैं भी आग ने कई घरों को अपनी चपेट में ले लिया जिससे घर में सभी रखे सामान जलकर राख हो गए।वहीं नीमा चाँदपुरा थाना क्षेत्र के नवटोलिया गाँव में चार झोपड़ी जलकर राख हो गए।इस अगलगी में दो लाख से अधिक रकम के सामान जलकर राख होने की शंकायें व्यक्त किये गए हैं।इस अगलगी में चार मवेशियों की भी मौत हो गई है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...