झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 12 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 12 अप्रैल 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 12 अप्रैल

आंगनवाडी कार्यकर्ताओ ने घरो पर मास्क बनाकर ग्रामीणजनो को वितरीत किए

jhabua news
पारा । क्षेत्र कि ग्राम पंचायत रातीमाली मे आंगनवाडी कार्यकर्ताओ ने अपने अपने घरो पर सैकडो कि तादाद मे मशीन से कपडे के मास्क बना कर ग्रामीण जनो को वितरीत किए। समिपस्थ ग्राम पंचायत रातीमाली मे आंगनवाडी कार्यकर्ताओ कि टिम ने बडी संख्या मे अपने अपने घरो पर कपडे के मास्क बनाए व घर पर जा कर मास्क् वितरण किए। साथ ही कार्यकर्ताओ ने ग्रामीणो को बार बार साबुन से हाथ धोने कि समझाईस भी दी। कार्यकर्ताओ ग्रामाणो यह भी बताया कि सभी लोग मास्क पहने व आपस मे दुरी बना कर हे। टिम ने ग्रामीण जनो को दवाईयांे का वितरण भी किया। इस अवसर पर पंचायत सचिव, रोजगार सहायक व आगनवाडी कार्यकर्ता आशा कार्यकर्ता शकर मनयरी राकेश खराडी गंगा गोयल रमिला भाबोर सोमली डावर गुडडी भाबोर आदी उपस्थित थै।

कोरोना वायरस (कोविड-19) की जंग में अपनी सेवा दे रहे सेवादारों के जज्बे को नमन...’
भयावह महामारी की जंग में जी-जान से लगे असली हीरो डॉक्टर, पुलिस एवं सफाईकर्मी’
jhabua news
झाबुआ। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड-19 से इन दिनों पूरा भारत देष जूझ रहा है। देश में इस महामारी के प्रकोप को देखते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिनों का लाॅकडाउन किया हुआ है। इस दौरान देषवासियों से अपने घरों पर ही रहकर कोरोना को हराने एवं देष को जीताने की अपील की है।  साथ ही सोषल डिस्टेनसिंग का पूर्णतः पालन करने हेतु आव्हान किया है। इस बीच देष के लोगों से प्रधानमंत्री के इन निर्देषों का पालन करवाने में जो पुलिसकर्मी, कोरोना संदिग्ध या संक्रमित मरीजों का उपचार कर रहे चिकित्सक, वार्ड बाॅय, नर्सेस, पैरामेडिकल स्टाॅफ, प्रतिदिन सड़कों की सफाई, नाले-नालियों और कूड़ा-कचरे के ढ़ेर की सफाई तथा देष को सेनेटाईजेषन करने में लगे सफाई टीम के जज्बे को हम नमन करते है तथा इन सभी को तहेदिल से सैल्यूट करते है।

जिला प्रषासन एवं पुलिस प्रशासन की सेवा को नमन...’
जिला कलेक्टर प्रबल सिपाहा एवं जिला पुलिस कप्तान विनीत जैन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय डावर द्वारा पूरे जिले की कमान संभालते हुए जिले मैं सभी को लाक डाउन का पूर्ण रूप से पालन करवाया जा रहा है। जिले को कोरोना मुक्त रखने के लिए तमाम तरह की व्यवस्थाएं, इतंजामात किए जा रहे है। जिले की जनता भी आवश्यक निर्देशों का समय-समय पर पूर्णता पालन करते नजर आ रही है। एक सैल्यूट इनको भी .... ! 

जान की परवाह किए बगैर कर रहे मरीजों का उपचार
पेटलावद ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर मुन्नालाल चोपड़ा  जो कि पेटलावद ब्लॉक के सारंगी, करवड़, बामनिया, रायपुरिया, झकनावदा सेक्टर में अपने पूरे स्टाफ कर्मचारियों के साथ दिन-रात अपनी जान हथेली पर रख  कर मरीजों का उपचार कर रहे है। इस पर क्षेत्र की जनता आपका आभार मानते हुए आपकी इस भगवान के रूप में उपस्थिति को देखकर आपके जज्बे को नमन करते है। एक सैल्यूट इनको भी ... ।

एसडीओपी की सेवा भी सराहनीय
पेटलावद एसडीओपी बबीता बामनिया निरंतर क्षेत्र का वाहन से घूमकर कर जायजा लेते नजर आ रही है एवं चैकी-थानों पर आवश्यक निर्देश देते हुए हर क्षेत्र की जानकारी ले रही है। जब एसडीओपी बबीता बामनिया से हमारे द्वारा चर्चा की गई तो उन्होंने बताया कि मैं भी अपने परिवार एवं अपने छोटे-छोटे बच्चों से मिलकर घर जाती हूं लेकिन दूर से ही मिल पाती हूं और घर जाने के बाद दूर से ही बच्चों और परिवार से बात करना पड़ता है। मिलकर ड्यूटी पर वापस आ जाती हूं और साथ ही हमारे आसपास के मौहल्लेवासियों से बार-बार अपील करती हूं कि आप किसी बाहरी व्यक्ति को अभी आने से रोके और कहीं भी यात्रा करने से बचे। मीडिया से चर्चा करते हुए बताया कि आप भी अन्य लोगों को अपनी लेखनी और समाचारों के माध्यम से प्रेरित करे ताकि इस बीमारी से बचा जा सके। एसडीओपी बबीता बामनिया के निरंतर देश सेवा के जज्बे को देखते हुए झकनावदा में कुमकुम-बिंदी लगाकर श्रीफल भेंट कर उनका सम्मान किया गया।

स्थानीय पुलिस स्टाफ के जज्बे को नमन
झकनावदा चैकी क्षेत्र से लगने वाले तारखेड़ी, गरवाखेड़ी, मोहकमपुरा, कुंभाखेड़ी, बिजोरी, टोड़ी, सेमलिया, नाड़ातोड़, भेरुपाड़ा, धतूरिया, कमलखेड़ा, पिपलीपाड़ा, धोलीखाली, बखतपुरा, बोरिया, खिंदाखो आदि गांवो मे ंदिन रात अपनी पूर्ण लगन के साथ सुरक्षा प्रदान कर रहे जांबाज चैकी प्रभारी रंजनसिंह गणावा, एएसआई जवसिंह बिलवाल ,प्रधान आरक्षक हरिराम चैहान, प्रधान आरक्षक उमेश पुरोहित, प्रधान आरक्षक लाखनसिंह भाटी, आरक्षक पंकज राजावत, भूपेंद्र जाट, राकेश मौर्य, अंकित गिरवाल कोरोनावायरस जैसी महामारी के बीच कठिन परिस्थितियों में अपनी जान एवं परिवार कि बिना परवाह किए हमारे क्षेत्र एवं नगर की जनता की सुरक्षा कर रहे जांबाज वीर सेवादारों की सेवा को नमन करते है।

इनकी सेवा भी सराहनीय
नगर के वरिष्ठ समाजसेवी हर किसी के सुख-दुख मैं अपना सहयोग प्रदान करने वाले नगर सुरक्षा समिति के अध्यक्ष शांतिलाल कांसवा भी इस वैश्विक महामारी में लाॅक डाउन में पुलिस प्रशासन के साथ क्षेत्र में नगर में विशेष सेवा प्रदान करते नजर आ रहे है। इसके साथ ही संपूर्ण योगदान के बीच व्यापारियों से ग्रामीणों की मांग पर आवश्यक खाद्य सामग्री घर-घर पहुंचाते नजर आ रहे है। इनके सेवा की ग्रामीणों ने सराहना की !

नगर को स्वच्छ एवं सुंदर बनाने वाले सेवादारों की सेवा को नमन
ग्राम पंचायत झकनावदा के सरपंच बालू मेड़ा एवं सचिव भीमसिंह कटारा के निर्देशानुसार पंचायत कर्मी बाबू मेघवाल भी नगर में सेनेटाईजर का छिड़काव करवाकर अपनी विशेष सेवा प्रदान करते नजर आ रहे, तो दूसरी और नगर पंचायत के सफाईकर्मी, जो नगर की गंदगी हटाकर गंदगी से होने वाली बीमारियों का बचाव करने में निरंतर अपनी सेवा प्रदान करने में प्रकाश शिंदे ,श्रीमती मंगीबाई, रमेशचंद्र रेवाल एवं श्रीमती ललिता शिंदे विशेष सेवाएं दे रहीं है। नगर की जनता आपका आभार मानते हुए आपके निःस्वार्थ कार्य को नमन करती है।

क्षेत्र की जनता से की अपील
साथ ही पुलिस प्रशासन के चैकी प्रभारी रंजनसिंह गणावा एवं उनके स्टाफ ने क्षेत्र की जनता से आह्वान किया कि जिस प्रकार अभी तक आपने लॉक डाउन का पूर्णतः पालन किया है, उसी प्रकार आप आगे भी पालन करते रहे। आप अपने घरों में स्वस्थ रहकर अपने परिवार का ख्याल रखे।ं आपकी सेवा में हम बाहर डटकर खड़े है। आवश्यक कार्य हो, तभी आप घर के बाहर निकले अन्यथा नहीं निकले क्योंकि इस बीमारी से बचने का एकमात्र उपाय है जो कि घर में ही रहना। इसलिए आप सभी से निवेदन है आप अपने घर में सुरक्षित रहे।

क्षेत्रवासियों ने मीडिया की भी की प्रशंसा
ग्रामीणों का कहना है कि जिस प्रकार पुलिस-प्रशासन, डॉक्टर्स की टीम एवं सफाई कर्मी इस महामारी में निरंतर सेवा प्रदान कर रहे है। उसी क्रम में मीडियाकर्मी भी अपनी जान हथेली पर रखकर हर पल की अपडेट हम सभी को घर बैठे उपलब्ध करवा रहे हैं। इस हेतु मीडियाकर्मियों को भी ग्रामीणों ने बधाई प्रेषित की है।

एक सेवा ऐसी भी .... लाॅकडाउन में देष सेवा और सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों को माहेष्वरी परिवार पिला रहा चाय  

jhabua news
झाबुआ। नर सेवा को ही नारायण सेवा कहा गया है ....। वहीं इन दिनांे जबकि कोरोना वायरस जैसी महामारी से बचाव हेतु संपूर्ण देष में देष के मुखिया नरेन्द्र मोदी द्वारा 21 दिनांे का लाॅकडाउन किया गया है, इस बीच जो भी इमरजेंसी सेवाओं में लोग लगे हुए है, चाहे वह पुलिसकर्मी हो, चिकित्सक हो, वार्ड बाॅय हो, नर्सेस हो, सफाई कामगार हो, सभी जहां सैल्यूट के पात्र है, वहीं कोरोना यौद्धाओं के रूप में यह जो दिन-रात अपनी सेवाएं दे रहे है, उनकी सेवाओं को नमन करते हुए चूंकि वह भी मानव होने से उनका ध्यान रखना एवं उनकी सेवा करना भी हमारा प्रथम कर्तव्य बनता है। जिसे झाबुआ का माहेष्वरी परिवार भी इसे अपना कर्तव्य समझते हुए देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 24 मार्च की रात से संपूर्ण देष में 21 दिनों का जो लाॅकडाउन लगाया है, उस बीच झाबुआ शहर में लाॅकडाउन के बीच, जो भी पुलिस अधिकारी-कर्मचारी शहर की सूनी सड़कों और विरान पड़े बाजारों तथा तिराहो-चैराहों पर 24 घंटे खड़े रहकर सुरक्षा व्यवस्था संभाल रहे है। शहरवासी घर पर सुरक्षित रहे, इसके लिए अपनी जान के परवाह किए बगैर इन पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को लाॅकडाउन मंे प्रतिदिन माहेष्वरी परिवार द्वारा अपने घर से चाय बनाकर इन्हें पिलाने का कार्य कर सेवा का अनुपम कार्य किया जा रहा है।

पूरे शहर में घूमकर पुलिसकर्मियों को पिला रहे चाय
माहेष्वरी परिवार के दीपक माहेष्वरी एवं सतीष माहेष्वरी ने बताया कि परिवार के सदस्यों द्वारा घर पर सुरक्षा के साथ चाय बनाकर इसे वे प्रतिदिन अपने दो पहिया वाहन से मुंह पर मास्क पहनकर और हाथों में दस्ताने पहनकर पूरे शहर में जहां भी मुख्य बाजारों और तिराहो-चैराहों पर पुलिस अधिकारी-कर्मचारी, जवान निःस्वार्थ भाव से अपनी ड्यूटी कर रहे है, उन्हें कागज से बने डिस्पोजल में सुरक्षा के साथ चाय पिला रहे है। साथ ही उनकी कुषलक्षेम भी पूछ रहे है। यह कार्य उनके द्वारा 25 मार्च से सत्त किया जा रहा है, जो आगामी दिनों में भी जब तक लाॅकडाउन रहेगा, तब तक सत्त जारी रखा जाएगा।

कोरोना महामारी से सुरक्षा हेतु सेन समाज द्वारा अपने-अपने घरों में मनाई जाएगी सेनजी की महाराज की जयंती
संकट की इस घड़ी में सेन समाज शासन-प्रषासन के नियमों का करेगा पूर्णतः पालन

झाबुआ। नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) जैसी महामारी से इन दिनों संपूर्ण देष जूझ रहा है। इससे बचाव हेतु देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा फिलहाल 14 अप्रेल तक लाॅकडाउन किया गया है।  आगामी 19 अप्रेल को सेन समाज द्वारा सेनजी महाराज की जयंती मनाया जाना है, लेकिन झाबुआ शहर में सुरक्षा की दृष्टि से एवं शासन-प्रषासन के नियमों का पालन करते हुए समाज ने अपने धर्मगुरू की जयंती घरों पर ही मनाने हेतु निर्णय लिया है। इस दिन होने वाले सामूहिक कार्यक्रमों को निरस्त कर दिया है। जानकारी देते हुए समाज अध्यक्ष घनष्याम भाटी ने बताया कि वर्तमान हालातों में नोवेल कोरोना वायरस जैसी महामारी से बचाव के लिए सिर्फ और सिर्फ एक ही उपाय है, वह है सोष्यल डिस्टेनसिंग अर्थात लोग एक-दूसरे से दूर रहे, ताकि वायरस का इंफेक्षन एक-दूसरे में ना फैल सके और सुरक्षा की दृष्टि से अपने घरों पर ही रहे। प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा 14 अप्रेल तक तो लाॅकडाउन किया गया है, संभावना है कि यह लाॅकडाउन आगामी कुछ दिनों तक ओर आगे बढ़ाया जाएगा, जिसको लेकर समाज के लोगों ने अपने-अपने घरांे पर ही एक-दूसरे से मोबाईल पर चर्चा कर सर्व सम्मति से निर्णय लिया कि प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी आगामी 19 अप्रेल को सेनजी की महाराज की आ रहीं जयंती को समाज के लोग शासन-प्रषासन के नियमों का पूर्णतः पालन करते हुए अपने घरों पर ही रहकर सेनजी की महाराज की पूजन, आरती करेंगे। साथ ही प्रार्थना करेंगे कि देष को कोरोना वायरस जैसी महामारी से जल्द ही पूरी तरह निजात मिल सके और देष में सुख-षांति बनी रहे। घरों पर भी समाज के लोग सोष्यल डिस्टेनसिंग का पूर्णतः पालन करते हुए पूजन-आरती आदि करेंगे।

शोभायात्रा और महाआरती का कार्यक्रम किया निरस्त
समाज अध्यक्ष श्री भाटी ने आगे बताया कि समाजजनों द्वारा इस दिन निकाली जाने वाली शोभायात्रा पश्चात् महाकालिका माता मंदिर में की जाने वाली महाआरती एवं महाप्रसादी (भंडारा) कार्यक्रम निरस्त किया है। समाज के सभी लोगों से अपील की गई है कि वे 19 अप्रेल को अपने घरों पर ही रहकर सेनजी महाराज की जयंती मनाएं और इस तरह देष हित में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे।

लाॅकडाउन के बीच सकल व्यापारी संघ का मानवता के साथ जीव सेवा का एक ओर नया चेहरा, मूक पक्षियों को करवाया आहार, भोजन सेवा में 50 हजार का आॅकड़ा छूने की ओर अग्रसर

jhabua news
झाबुआ। कोरोना वायरस (कोविड-19) जैसी महामारी के बीच संपूर्ण देष में लगे लाॅक डाउन के साथ झाबुआ शहर भी संपूर्ण लाॅकडाउन है। सड़के पूरी तरह सूनसान है तो बाजार पूरी तरह से विरान है। व्यवसाय पूरी तरह से बंद है। इन संकट और विषम परस्थितियों के बीच शहर में सकल व्यापारी संघ के पदाधिकारी-सदस्य और उनसे जुड़े सेवाभावी सदस्य, अब जब कि गर्मी के तेवर भी तेज हो गए है। ऐसे में भी हर जीवित प्राणियों का ध्यान रखते हुए उनकी भूख-प्यास की तृष्णा को शांत करने का प्रयास कर रहे है। मानव के साथ पशु-पक्षी भी संकट और आपातकाल की इस घड़ी में घोर विपदा से जूझ रहे है, वहीं इस बीच अब जबकि अप्रेल माह आधा होने का आ गया है, तो तपती धूप और तेज गमी भी रोद्र रूप ले रहीं है। ऐसे में वर्तमान हालातों में मानव के साथ पशु-पक्षियों को भी इसे सहन करना किसी बड़ी चुनौती या परेषानी से कम नहीं है। मानव ने तो ऐसे में अपने घरों से बिल्कुल ही निकलना बंद कर दिया है, पर पशुओं के लिए कोई आसरा (घर) नहीं होने से वह अभी भी बेबस, बे-सहारा शहर की सड़कों, गली-मौहल्लों और काॅलोनियों में विचरण कर रहे है तो पक्षी भी खुले वातावरण में घूमते हुए दाना-पानी की तलाष में इधर से उधर गोते लगा रहे है। 200 किलोग्राम गेहूं की घुघरी तैयार कर पक्षियों के आहार की व्यवस्था की ऐसे में सकल व्यापारी संघ प्रतिदिन मूक पशुओं को शहर में ढूढते हुए उन्हें उनके स्थान पर ही आहार के रूप में चावल, रोटी खिलाकर उनकी भूख की पिपासा को शांत कर रहा है तो पक्षियों के लिए दाना-पानी की व्यवस्था करते हुए सकल व्यापारी संघ ने 11 अप्रेल, शनिवार को 200 किलोग्राम गेहूं की घुघरी तैयार कर शहर में बंटवाकर जहां पक्षियों की कहीं छतों, कहीं आंगनों, कहीं सूने पड़े सार्वजनिक स्थानों, रपटों पर पक्षियों का एकत्रितकरण होता है, वहां गेहूं की घुघरी बिखेरकर उनके लिए भी आहार की व्यवस्था की। 

भोजन का आॅकडा धीरे-धीरे पहुंच रहा 50 हजार पार
सकल व्यापारी संघ ने बीती 25 मार्च से शहर में गरीबांे एवं जरूरतमंदों के लिए भोजन की व्यवस्था का जो जिम्मा उठाया है, उसे वह सत्त जारी रखे हुए है और लगातार 17वें दिन यह आॅकड़ा 41 हजार 300 को छू गया। 11 अप्रेल शनिवार को 3200 गरीबांें और जरूरतमंदों को भोजन के पैकेट का वितरण किया गया। फिलहाल 14 अप्रेल तक लगे लाॅकडाउन में यह आॅकड़ा 50 हजार को भी आासानी से छू जाएगा।

कोविड-19 से सक्रंमित व्यक्ति की मृत्यु होने पर अंतिम संस्कार के लिए बाहर ले जाने की अनुमति नहीं दिए जाने के निर्देष

झाबुआ,। आयुक्त लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग भोपाल ने निर्देष जारी किए है कि कोविड-19 से सक्रंमित व्यक्ति की मृत्यु उपरान्त मृत षरीर का अन्तिम संस्कार मृत स्थान षहरी की सीमा में ही किया जाना होगा। जिससे मृत षरीर से होने वाले संक्रमण को रोका जा सके। किसी भी स्थिति में मृत षरीर को अन्यत्र जिले, गृह जिले, षहरी सीमा जहाॅ सक्रंमित व्यक्ति की मृत्यु हुई है, बाहर ले जाने की अनुमति प्रदाय नहीं की जाए। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने जिले के समस्त अनुविभागीय दण्डाधिकारियों तथा संबंधित अधिकारियों को इस संबंध में आवष्यक निर्देष जारी किए है। साथ ही इन निर्देषों का कडाई से पालन करने को कहा गया है।

षासकीय पोलिटेक्निक महाविधालय के पुराने छात्रावास भवन हाॅल का तीन दिवस के लिए अस्थाई कारागार घोषित

झाबुआ। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने जिले में कानून व्यवस्था की दृष्टि से कारागार अधिनियम 1984 की धरा-3 सहपठित द.प्र.सं. 1973 की धारा -147 के अन्तर्गत राज्य षासन की स्वीकृति की प्रत्याषा में किषनपुरी झाबुआ स्थित षासकीय पोलिटेक्निक महाविद्यालय के पुराने छात्रावास भवन हाॅल को आगामी तीन दिवस तक के लिए अस्थाई कारागार घोषित किया है। जेल अधीक्षक जिला जेल झाबुआ को निर्देष दिए है कि अस्थाई कारागार में परिरूद्ध किये जाने वाले बंदियों का आवष्यक रूप से स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। इसके लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वस्थ्य अधिकारी झाबुआ से समन्वय स्थापित किया जावे। अस्थाई जेल में समस्त व्यवस्थाओं के लिए सहायक जेल अधीक्षक जिला जेल झाबुआ श्री चंदरलाल परमार को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।

बिना पात्रता पर्ची वाल¨ं क¨ भी मिलेगा निरूशुल्क राशन रू मुख्यमंत्री श्री च©हान

झाबुआ ।  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह च©हान के निर्देशानुसार क¨र¨ना संकट के चलते प्रदेश के 32 लाख ऐसे व्यक्तिय¨ं क¨ भी निरूशुल्क राशन प्रदाय किया जाएगा, जिनके पास राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा य¨जना के अंतर्गत पात्रता पर्चियां नहीं हैं। इन्हें एक माह का निरूशुल्क उचित मूल्य राशन राज्य सरकार के क¨टे से प्रदाय किया जाएगा। राशन के अंतर्गत इन्हें चार किल¨ गेहूँ एवं एक किल¨ चावल प्रति व्यक्ति प्रदान किया जाएगा। प्रमुख सचिव खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभ¨क्ता संरक्षण श्री शिव शेखर शुक्ला ने बताया कि प्रदेश में 31 लाख 81 हजार 525 ऐसे व्यक्ति हैं, ज¨ राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा य¨जना के अंतर्गत निर्धारित 25 पात्रता श्रेणिय¨ं में त¨ आते हैं, परंतु उन्हें वर्तमान में उचित मूल्य राशन प्राप्त करने की पात्रता नहीं है। भारत सरकार द्वारा वर्ष 2014-15 में प्रदेश में य¨जना के अंतर्गत पात्रता पर्चीधारिय¨ं की संख्या 5 कर¨ड़ 46 लाख निर्धारित किए जाने से इन्हें पात्रता नहीं है। अब राज्य शासन ने इन्हें अपने क¨टे से एक माह का निरूशुल्क राशन दिए जाने का निर्णय लिया है। राज्य के समग्र सामाजिक सुरक्षा प¨र्टल पर इनका नाम दर्ज है। खाद्यान्न वितरण के लिए प्रदेश के इन 8 लाख 8 हजार 946 परिवार¨ं के 31 लाख 81 हजार 525 सदस्य¨ं के लिए राज्य स्तर से 12 हजार 726 मीट्रिक टन गेहूँ तथा 3 हजार 181 मीट्रिक टन चावल का क¨टा जारी किया जा चुका है।

किसी भी नजदीकी दुकान से प्राप्त कर सकेंगे राशन
बिना पात्रता पर्ची वाले सभी व्यक्ति सुविधानुसार अपने आस-पास की किसी भी उचित मूल्य दुकान से यह राशन प्राप्त कर सकेंगे। वर्तमान में क¨र¨ना संकट के मद्देनजर कलेक्टर्स क¨ निर्देश दिए गए हैं कि वे राशन वितरण में स¨शल डिस्टेंसिंग एवं अन्य सुरक्षात्मक उपाय¨ं का कड़ाई से पालन कराएं। हितग्राहिय¨ं से कहा गया है कि वे बारी-बारी से राशन प्राप्त करें तथा राशन दुकान¨ं पर एक-दूसरे की बीच दूरी कायम रखते हुए भीड़ न लगाएं। इन सभी हितग्राहिय¨ं की सूची देिं.ेंउंहतं.हवअ.पद प¨र्टल पर क्ैव् लाॅगिन में उपलब्ध है।

कोई टिप्पणी नहीं: