झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 16 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 16 अप्रैल 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 16 अप्रैल

लाकडॉउन के चलते नगर में बड़ी चोरी की वारदात एक हफ्ते में चैथी चोरी, तीन किलो चांदी के आभुषण सहीत 50 हजार नकदी लेगए चोर

jhabua news
पारा । जिले भर सहीत नगर मे चल रहै टोटल लॉकडाउन के चलते चप्पे चप्पे पर जहा पुलिस तेनात हे। वही चोरो के हांेसले भी बुलंद हें। गत एक सप्ताह से नगर में चोरी की घटनाएं भी लगातार बढ रही हे। जिससे आम जन भय का वातावरण बना हुआ हे। कोरोना वायरस के चलते जहा सभी लोग अपने अपने घरो मे बेठे हे। वही चैरे के होसले बुलंद हे। गत एक सप्ताह मे नगर मे चैरो चार वारदात को अंजाम दिया। जिसमे सदर बाजार पारा से राकेश पिता सुखलाल कहार कि मोटर सायकल हिरो होन्डा स्प्लेन्डर क्रमांक एम पी 11एम जे 8316 को चोर रविवार दिनांक 12 अप्रेल कि रात्री मे उठा लेगए। वही दिनांक 13 अप्रेल कि रात्री मे हरीजन बस्ती के पास कालु उर्फ साजिद पिता साबिर कुरेशी कि बुलेट मोटर सायकल क्रमांक जी जे 17 बीएफ 9092 भी चोर उठा लेगए थे। जिसे बाद मे मोहल्ले वालो के जागने व पिछा करने पर चोर मोटर सायकल जंगल मे छोड कर भाग गए। वही दिनांक 9 अप्रेल को पारा के बखतपुरा फलिए निवासी मिठालाल पिता चैनसिह चौहान कि कुए पर लगी पानी कि मोटर भी चैर उठा कर लेगए। गत रात्री मे बखतपुरा मे ही झाबुआ रोड पर पेटो्रल पम्प के सामने पारिया पिता अदिया सिंगाड के घर मे सेघ लगा कर चोर करिब तीन किलो चांदी कि रकमे व 50 हजार रुपए नगद लेगए जोकि परिया ने अपने तुफान वाहन कि किस्त भरने के लिए रखे थे। बताया जाता हे कि जिस घर मे चौरी हुई वो मकान मालिक पारिया स्वयं क्षेत्र मे बडती चोरी कि वारदात के कारण रात्री मे गस्ती दल के साथ अपने ़क्षेत्र मे गस्ती पर था। उधर व गांव व मोहल्ले वासीयो कि चोरो से निगरानी कर रहा था। इधर चोरो ने ही पारिया के घर को निशाना बना कर करिब दो लाख के माल पर हाथ साफ कर दिया। चारो फरियादी ने पुलिस चौकि पारा पर घटना कि सुचना का आवेदन दिया है । चैकी प्रभारी केसरसिह पांडव ने मौके पर पहुंच कर घटनास्थल का मुआयन कर मामले को विवेचना मे लें लिया है । 

’स्वास्थ्य सेवा एवं स्वच्छता कर्मी को भोजन के  पैकेट का किया गया वितरण’

jhabua news
पारा । पूण्य सम्राट राष्ट्रसंत जयंतसेनसुरेश्वर जी महाराज साहब की तृतीय पुण्यतिथि के उपलक्ष अखिल भारतीय राजेन्द्र जैन नवयुवक एवं तरुण परिषद के द्वारा स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर मरीजों को भोजन का वितरण किया । साथ ही साथ स्वच्छताकर्मी एवं उन के  परिवारजनों को भी भोजन के पैकेट दिया गये, नगर में रात- दिन सेवादार पुलिसकर्मियों को भोजन कराया एवं स्थानीय झुग्गी झोपड़ी में निवासरत जरूरत मंद व्यक्तियों को भी भोजन के पैकेट बांटे,  पुरी, सब्जी, दाल, चावल, एवं मिठाई के लगभग 250पैकेट का वितरण किया गया। वही महावीर जयंती के अवसर पर भी परिषद के द्वारा पशुओं को दलिया दिया जा रहा हे वही आज ,रोटी, घास,आदि के साथ मिठा दलिया भी खिलाया गया ।साथही नगर के प्रमुख चोराहो पर पशुओ के पीने के पानी कि व्यवस्था कि गई हे। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ए एस खान,डॉ के एस डोडवा थाना प्रभारी केसरसिंह पांडव् के साथ नवयुवक परिषद अध्यक्ष दिलीप कोठारी , सुरेश कोठारी, अनोखीलाल नाहटा, शेकू रावत,अंतीम भंडारी, मोनू कोठारी ,पलाश कोठारी , राजकुमार कोठारी मनीष व्होरा, तरुण परिषद अध्यक्ष नमन जैन, पियूष कोठारी, रिंकल नाहटा ,सोमिल कोठारी, हर्ष कोठारी आदि उपस्थित थे।

झाबुआ -अलीराजुपर जिले के मजदुरों को वापस लाने के सबंध में सरकार करे कार्यवाही- कांतिलाल भूरिया
गुजरात एवं अन्य राज्यों में फंसे मजदुरों को अपने घर लाने की मांग
झाबुआ । कोरोनो वायरस एक वैश्रिवक महामारी है। भारत देश सहित दुनिया भर के तमाम देश इसके चपेट में है , मै झाबुआ का जनप्रतिनिधि होने के हैसियत मै जनता को सुविधा देने हेतु प्रतिबद्व हूं। झाबुआ विधायक कांतिलाल भूरिया ने प्रदेश शासन से मांग की है कि झाबुआ अलीराजपुर जिले के अनेक ग्रामीण अन्य राज्यों में रोजगार की तलाश में गये और वही पर लाॅक डाउन में फंस गये है तथा भूखमरी के कगार पर आ गये है। वर्तमान में झाबुआ अलीराजपुर जिले के अनेक मजदुर गुजरात एवं अन्य  राज्यों में लाॅकडाउन के कारण फंस गये है वहां पर उन्हे खाने पीने एवं मूलभूत सुविधा उपलब्ध नहीं हो पा रही है। ऐसी स्थिति में म.प्र.शासन को चाहिए कि वे उन दिहाडी मजदुरों को अपने घर लाने सबंध में आवश्यक कार्यवाही करे तथा उन्हे लाने के पूर्व उनकी आवश्यक मेडिकल जांच आदि कर ली जावे। एवं गुजरात एवं महाराष्ट्र सरकार से चर्चा कर उन्हे राशन,भोजन आदि की सुविधा उपलब्ध करावे। श्री भूरिया ने शासन से यह भी मांग की है कि वर्तमान में अनेक ग्रामीण जो कि दिहाडी मजदुर के रूप से अन्य राज्यों एवं प्रदेश के अन्य हिस्सों में कार्य कर रहे थे वे वापस अपने घर आ गये है उनके पास वर्तमान में किसी प्रकार का रोजगार नहीं है ऐसी स्थिति में सहकारी संस्थाओं के उचित मूल्य की दुकानों को सम्पूर्ण सात दिवस खोला जावे तथा ग्रामीणों एवं आम जनता को तीन माह का अग्रिम राशन प्रदाय किया जावे ।जिससे दिहाडी मजदुर एवं जो गरीब वर्तमान मे ंअपना रोजगार नहीं चला पा रहे है उन्हे भी इसका लाभ मिल सके। श्री कांतिलाल भूरिया द्वारा कलेक्टर से यह भी अनुरोध किया गया कि जो शासकीय भवनों में क्वारंटाईन केन्द्र बनाये गये है वहां भी सम्पूर्ण व्यवस्था रहे । उक्त जानकारी जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भट्ट ने दी।

अब 19 दिन के लाॅक डाउन में नगरपालिका परिषद् दीनदयाल अंत्योदय रसोई केंद्र में करेगी गरीबों और जरूरतमंदों के भोजन की व्यवस्था
  • खाद्य एवं आपूर्ति विभाग तथा नपा परिषद् के अधिकारी और जनप्रतिनिधियों के सहयोग से होगी राषन सामग्री की व्यवस्था
  • आजीविका मिषन से जुड़ी स्वयं सहायता समूह की महिलाएं बनाएंगी भोजन
jhabua news
झाबुआ। नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) से रोकथाम हेतु संपूर्ण देष में 19 दिनों का लाॅकडाउन ओर बढ़ाया गया है। झाबुआ शहर में भी संपूर्ण लाॅकडाउन लगा हुआ है। पिछले 21 दिनों के लाॅकडाउन में शहर में गरीबों और जरूरतमंदों को भोजन के पैकेट वितरित करने का कार्य पूरी निःस्वार्थ और समर्पण भावना से सकल व्यापारी संघ झाबुआ द्वारा किया गया। अब जिला कलेक्टर प्रबल सिपाहा के निर्देष पर नगरपालिका परिषद् झाबुआ द्वारा यह निर्णय लिया गया कि शेष 19 दिनों के लाॅकडाउन-02 अर्थात आगामी 3 मई तक इनकी भोजन की व्यवस्था बस स्टेंड के पीछे दीनदयाल अंत्योदय रसोई केंद्र में की जाएगी। जानकारी देते हुए नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नूबेन डोडियार एवं सीएमओ एलएस डोडिया ने बताया कि जिला कलेक्टर श्री सिपाहा के निर्देष पर नगरपालिका के समस्त अधिकारियों-कर्मचारियों, पार्षदगणों की आपात चर्चा 15 अप्रेल, बुधवार दोपहर नगरपालिका कार्यालय परिसर में हुई। जिसमें सभी मंुह पर मास्क पहनकर एवं हाथों में सेनेटाईजर लगाकर शामिल हुए। साथ ही सोषल डिस्टेनसिंग में एक-दूसरे से चर्चा करते हुए निर्णय लिया गया कि 19 दिनों के लाॅकडाउन-02 में 3 मई तक नगरपालिका परिषद् के माध्यम से दीनदयाल अंत्योदय रसोई केंद्र में सभी गरीबों और जरूरमंदों के भोजन की निःषुल्क व्यवस्था की जाएगी। जिसमें राषन सामग्री में चावल, गेहूं जिला खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की ओर से एवं दाल, तेल, मसाला, सब्जी तथा अन्य वस्तुएं की व्यवस्थाएं नपा परिषद् करेगी। भोजन प्रदाय एवं वितरण कार्य में पूर्ण सहयोग तथा जरूरत पड़ने पर आर्थिक सहयोग भी नगरपालिका परिषद् के समस्त अधिकारी-कर्मचारी एवं पार्षदगण वहन करेंगे। भोजन नगरपालिका की आजीविका मिषन की मैनेजर श्रीमती अनिषा राजसिंह के नेतृत्व में स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा बनाया जाएगा। इस दौरान सुरक्षा और सोषल डिस्टेनसिंग का भी पूर्णतः ध्यान रखा जाएगा।

सीमित स्तर पर शुरू होगा यह कार्य
नपा अध्यक्ष श्रीमती डोडियार एवं सीएमओ श्री डोडिया के अनुसार फिलहाल यह कार्य छोटे स्तर पर किया जाएगा। गरीब और जरूरतमंद दीनदयाल अंत्योदय रसोई केंद्र आकर परिसर में लगी कुर्सियों एवं प्रांगण में बैठकर भोजन कर सकेंगे। इसके साथ ही जरूरत पड़न ेपर फुटपाथ एवं सड़क किनारे विक्षिप्त तथा भिखारी प्रवृत्ति के लोगों को उनके स्थान पर जाकर भोजन प्रदाय करने की व्यवस्था पार्षदगणों द्वारा की जाएगी। इस अवसर पर नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती डोडियार, उपाध्यक्ष रोषनी डोडियार, सीएमओ श्री डोडिया के साथ लेखापाल पंकज गौड़़, सब-इंजिनियर सुरेष गणावा, पार्षदगणों में पपीष पानेरी, साबिर फिटवेल, अजय सोनी, रषीद कुरैषी, हेमेन्द्र बबलू कटारा, नरेन्द्र संघवी, मालू डोडियार, जितेन्द्र पंचाल, विवेक मेड़ा, जुवानसिंह गुंडियार, जाकिर कुरैषी, नरेन्द्र राठौरिया, दीपू डोडियार एवं नपा के अन्य कर्मचारीगण उपस्थित थे।

आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था मर्यादित शाखा में समर्थन मूल्य पर गेहूं तुलाई का हुआ श्री गणेश

झाबुआ। मप्र शासन द्वारा चलाई जा रही समर्थन मूल्य गेहूं खरीदी योजना का जिले की आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था झकनावदा केंद्र में विधिवत रूप से श्री गणेश हुआ। इस अवसर पर आदिम जाति जिला सहकारी केंद्रीय बैंक शाखा प्रबंधक धर्मेंद्र सोलंकी, पर्यवेक्षक एवं प्रबंधक दिनेश खतेड़िया द्वारा गेहूं तुलाई के   पहले महालक्ष्मीजी, महासरस्वतीजी एवं प्रथम पूज्य श्री गणेशजी की तस्वीर पर पं. संजय व्यास द्वारा विधिवत रूप से पूजन की गई। बाद तोल-कांटे का पूजन करवाया। तत्पश्चात विधिवत रूप से गेहूं तुलाई का कार्य शुरू हुआ। समर्थन मूल्य में गेहूं झकनावादा एवं आसपास हेतु 35 गांव के 731 कृषक द्वारा पंजीयन करवाया गया। जिसमें 55-380 क्विंटल गेहूं तुलने का लक्ष्य हैै। इस अवसर पर सहायक प्रबंधक हरीराम पडिीयार, लेखापाल आयदान चोयल, रवि राठौड़ सुरेंद्र पवार ऑपरेटर भारत राठौर, ऑपरेटर हरेंद्रसिंह राठौर सहित पूरा स्टाफ उपस्थित था। धर्मेन्द्र सोलंकी ने बताया कि कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी को देखते हुए शासन के दिए गए निर्देशानुसार कोरेना के बचाव के लिए तमाम सुविधाएं उपलब्ध करवा रखी है। जिसमें स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी बहादुर मेड़ा एवं पुलिस प्रशासन टीम की ओर से झकनावदा प्रधान आरक्षक लाखनसिंह भाटी तैनात है। इसके साथ ही हमारे द्वारा सोशल डिसटेंसिंग का पूरा ध्यान रखते हुए है। निश्चित दूरी पर बोले बना रखे हैं इसके साथ ही हमारे द्वारा हर कृषक के लिए स्वल्पाहार पीने का पानी एवं सभी के हाथ धुलाई हेतु सेनिटाइजर की व्यवस्था रखी गई है। साथ ही हर कृषक व हर माल को बार-बार हाथ धोने की सलाह एवं मुंह पर मास्क लगाने की सलाह दी जा रही है। इसके साथ ही धर्मेंद्र सोलंकी ने बताया कि झाबुआ शाखा  द्वारा 6 कृषक को गेहूं तुलाई के लिए मैसेज फॉरवर्ड कर दिया गया है, प्रतिदिन कृषक को के गेहूं तुलाई का कार्य किया जाएगा। इसके साथ ही गेहूं तुलाई संबंधित जानकारी हेतु संस्था द्वारा दो नंबर 97522-82087 एवं 97557-82087 जारी किए है।ं जिस पर आपको झकनावदा गेहूं तुलाई हेतु जानकारी उपलब्ध हो सकेगी, लेकिन हमारे संवाददाता द्वारा हरिराम पडियार से चर्चा पर पड़ि़यार ने बताया कि हमारे द्वारा मैसेज किए गए एवं कृषको को से फोन पर भी संपर्क किया गया,, लेकिन उसके बाद भी कृषक गेहूं तुलाई के लिए यहां नहीं पहुंचे हमें लगता है। कहीं ना कहीं कृषकों में भी वैश्विक महामारी कोरोनावायरस की भयावह बीमारी के भय से कृषक 15 अप्रैल दोपहर 3 बजे तक नहीं आए गेहूं तुलाई के लिए कृषकों को भी बना हुआ है, इस महामारी का भय।

शहर में 16 अप्रेल से थोक सब्जी दुकाने कृषि उपज मंडी प्रांगण की जगह पाॅलिटेक्निक काॅलेज परिसर में लगेगी, जिला प्रषासन ने जारी किए निर्देष

झाबुआ। जिला प्रषासन ने निर्देष जारी किए है कि झाबुआ शहर में जो थोक सब्जी दुकाने फिलहाल कृषि उपज मंडी प्रांगण में लग रहंी है, उनका स्थान 16 अप्रेल से बदलकर अब थोक सब्जी क्रय-विक्रय की दुकाने पाॅलिटेक्निक काॅलेज प्रांगण में लगेगी। सभी थोक सब्जी विक्रेताओं से कहा गया है कि वे नए निर्धारित किए गए स्थान पर अपनी दुकाने लगाएं, अन्यथा जिला प्रषासन द्वारा वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

शहर के वार्ड क्र. 9 में पार्षद एवं रहवासियों ने नगरपालिका के सफाई फायटरों का किया स्वागत, कोरोना महामारी के बीच जमीनी स्तर की सेवाएं देने पर किया सेल्यूट

jhabua news
झाबुआ। शहर के वार्ड क्र. 9 में पार्षद संतोष कहार एवं अन्य रहवासियों ने वार्ड में लगातार सेनटाईज का कार्य करने के साथ ही नियमित सड़कों, नाले-नालियों और कूड़ा-कचरे के ढ़ेर की सफाई का कार्य करे नगरपालिका के सफाई फायटरों का स्वागत किया। कोरोना वायरस जैसी महामारी के बीच भी जान की परवाह किए बगैर कार्य करने से उनकी इन सेवाओं को सैल्यूट किया गया। शहर के कुरैषी कंपाउंड में  वार्ड पार्षद संतोष कहार एवं अन्य रहवासियों ने अपने घरों से मुंह पर मास्क पहनकर और हाथों को सेनेटाईज कर बाहर निकलकर सोषल डिस्नेसिंग के साथ वार्ड में लाॅकडाउन के बीच भी लगातार सफाई का कार्य कर रहे सफाई कामगारों को पुष्पमाला पहनाई। नपा के इन सुपर हीरों के लिए सभी ने तालियां बजाई और उनके स्वस्थ तथा सुरक्षित रहने के लिए प्रार्थना की।

जय भीम जागृति समिति ने डाॅ. अंबेडकर पार्क में भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर पुष्प अर्पण कर उन्हें नमन किया, नहीं किया सामूहिक कार्यक्रम

झाबुआ। देष के संविधान निर्माता डाॅ. भीमराव अंबेडकर की जयंती पर शहर के डीआरपी लाईन स्थित डाॅ. अंबेडकर पार्क में 14 अप्रेल, मंगलवार को जय भीम जागृति समिति के दो पदाधिकारियों ने पहुंचकर उन्हें नमन किया। जय भीम जागृति समिति अध्यक्ष एमएल फुलपगारे एवं संयोजक बेेनडिक्ट डामोर अपने मुंह पर मास्क पहनकर और हाथों को सेनेटाईज कर प्रातः डाॅ. अंबेडकर पार्क पहुंचे और डाॅ. अंबेडकर की आदमकद प्रतिमा के साथ समीप वर्षों से स्थापित एक अन्य पुरानी प्रतिमा पर भी पुष्प अर्पण करते हुए उन्हे ंयाद किया। इसके बाद श्री फुलपगारे एवं श्री डामोर वर्तमान हालातों को देखते हुए तत्काल ही अपने गंतव्य स्थल के लिए रवाना हो गए। वह अपने घरों से भी मुंह पर मास्क पहनकर एवं हाथों को सेनेटाईज कर निकले।

जयंती मनाने की परंपरा को जारी रखा, नहीं किया सामूहिक कार्यक्रम
श्री फुलपगारे एवं श्री डामोर ने बताया कि जय भीम जागृति समिति पिछले कई वर्षों से लगातार डाॅ. अंबेडकर की जयंती एवं पुण्यतिथि पर शहर में यात्रा निकालकर डाॅ. अंबेडकर पार्क में पुष्पांजलि के साथ सामूहिक कार्यक्रम का भी सत्त आयोजन करती आ रहंी है, लेकिन इस वर्ष कोरोना वायरस से रोकथाम हेतु लगे लाॅकडाउन के चलते समिति के केवल दो पदाधिकारियों ने इस परंपरा के निवर्हन को जारी रखते हुए यहां पहुंचकर डाॅ. अंबेडकर को पुष्प अर्पित कर नमन करने के अतिरिक्त कोई कार्यक्रम नहीं किया।

कोरोना के अंधकार को समाप्त करने के लिए शारदा विद्या मंदिर (हिन्दी माध्यम) परिवार ने सूर्यदेवता को प्रातःकाल दिया अघ्र्य
देश के प्रधानमंत्री की सात बातों का पालन करने हेतु की अपील
झाबुआ। शहर के समीपस्थ ग्राम बिलिडोज में स्थित शारदा विद्या मंदिर (हिन्दी माध्यम) के षिक्षक-षिक्षिकाओं ने कोरोना वायरस से फैले अंधकार को देष सहित पूरे विष्व से मिटाने के लिए एक अनूठी पहल की है। जिसमें सभी ने प्रातःकाल जल्दी उठकर सूर्य देवताजी को जल से अघ्र्य देकर प्रार्थना की कि जल्द ही एक नया सवेरा आए, जब भारत सहित पूरा विष्व कोरोना से मुक्त होकर देषवासी एवं विष्ववासी खुषहाल, आनंदमय और स्वस्थ जीवन व्यतीत कर सके।  संस्था संचालिका श्रीमती किरण शर्मा एवं प्राचार्य डाॅ. कंचन चैहान ने बताया कि कोरोना वायरस जैसी महामारी से आज पूरा देष सहित विष्व जूझ रहा है। इससे बचाव सिर्फ और सिर्फ अपने घरों पर ही रहकर और सोषल डिस्टेनसिंग का पूर्णतः पालन कर ही किया जा सकता है। देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देष में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या लगताार बढ़ने के चलते ही देष में 21 दिनों के लाॅकडाउन के बाद 19 दिनों का लाॅकडाउन ओर बढ़ाया है। अब आगामी 3 मई तक लाॅकडाउन रहेगा। देष के प्रधानमंत्रीजी ने देषवासियों से सात बातो का विषेष ध्यान रखने का जो संदेष दिया है, उसका सभी देषवासी पूर्णतः पालन करे। राष्ट्र प्रेम से ओत-प्रोत एवं राष्ट्र को ही सर्वोपरि मानने वाले प्रधानमंत्रीजी का हर बात का हमे अक्षरषः पालन करना चाहिए, तभी हम कोरोना वायरस से लड़ाई की जंग में फतह हासिल कर सकेंगे। इसके साथ ही घरों पर रहकर भी आवष्यक सावधानियां और सुरक्षा का विषेष ध्यान रखे।

सूर्यदेवता से नया सवेरा लाने हेतु जल से दिया अघ्र्य
देष के संविधान निर्माता डाॅ. भीमराव अंबेडकर की जयंती पर 14 अप्रेल, मंगलवार को शारदा विद्या मंदिर (हिन्दी माध्यम) के षिक्षिक-षिक्षिकाओं में देवेन्द्र व्यास, राजेष चैहान, योगिता पाठक, सतीष लाख्ेारी, दिनेष भूरिया, संगीता बामनिया, ममता भूरिया सहित शाला परिवार से जुड़े सभी सदस्यों ने प्रातःकाल सुबह 6 से 7 बजे अपने-अपने घरों की छतों पर जल से सूर्यदेवता को अघ्र्य देकर उनके प्रार्थना की कि जल्द ही कोरोना वायरस से देष और विष्व को निजात मिले और एक नया सवेरा आए, जिसमें पूरे विष्व के लोग अमन, शांति के साथ स्वस्थ और बिना भय के अपना जीवन यापन कर सके।

कोरोना वायरस के कारण लगे लाॅकडाउन के बीच संस्कार भारती आजाद इकाई ने आॅनलाईन शुरू की गायन प्रतियोगिता, प्रतियोगियों ने सांग्स की रेकार्डिंग कर व्हाट्स-एप ग्रुप पर की सेंड
विजेताओं को संस्कार भारती के वरिष्ठ संरक्षक एवं वरिष्ठ रोटेरियन उमंग सक्सेना की ओर से लाॅकडाउन के बाद प्रदान किए जाएंगे पुरस्कार
झाबुआ। कोरोना वायरस (कोविड-19) से रोकथाम हेतु झाबुआ शहर में संपूर्ण लाॅकडाउन लगा हुआ है। इस बीच संस्कार भारती आजाद इकाई झाबुआ ने घरों पर ही रहकर प्रतिभाओं को निखारने के लिए गायन प्रतियोगिता शुरू की है। जिसमें संस्कार भारती के व्हाट्स-एप ग्रुप पर प्रतियोगियांे ने अपने-अपने मोबाईल पर वर्तमान हालातों और देषभक्ति से ओत-प्रोत गानों की रिकार्डिंग कर उसे सेंड किया। जिसके माध्यम से ग्रुप पर ही निर्णायकों ने उनका चयन किया। विजेता प्रतियोगियों को पुरस्कार लाॅकडाउन खुलने के बाद संस्कार भारती के वरिष्ठ संरक्षक एवं वरिष्ठ रोटेरियन उमंग सक्सेना की ओर से प्रदान किए जाएंगे। जानकारी देते हुए संस्कार भारती आजाद इकाई अध्यक्ष श्रीमती भारती सोनी एवं मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी ने बताया कि 13 अप्रेल, सोमवार को संस्कार भारती के सभी पदाधिकारी-सदस्यों के लिए गायन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। बकायदा दो दिन पूर्व इसकी प्रतिष्ठीयां व्हाट्स-एप पर ही सभी से ली गई। बाद जिन प्रतियोगियों ने अपनी सहमति प्रदान की, उन्होंने 13 अप्रेल को निर्धारित तय समय पर अपने मोबाईल पर अपनी आवाज में वर्तमान आपातकाल और संकट की परिस्थितियों तथा इसी बीच देष के प्रति अपने प्रेम को प्रकट करते हुए सांग्स गाकर उसे व्हाटस-एप पर सेंड करने के लिए कहा गया। कुल 12 प्रतियोगियों ने इसमें हिस्सा लिया। इसमें फिल्मी गीत की स्थायी के साथ एक अंतरा गाने, साथ ही बिना किसी वाद्य के गायन को शामिल किया गया। प्रतियोगिता में कोई आयु सीमा नहीं होने से अपनी रूचि अनुसार भाग लिया।  

ये प्रतियोगी हुए शामिल और ये गाना गाया
प्रकाश त्रिवेदी ने ‘‘तुम्ही मेरे मंदिर, तुम्ही मेरी पूजा’’, स्मृति मोना भट्ट ने ‘‘तेरी मिट्टी में मिल जावा’’, रोहित सारोलकर ने ‘‘किसी राह में किसी मोड़ पर’’, स्नेहा गीते ने ‘‘जिदंगी की यहीं रीत है, हार के बाद ही जीत है’’, नीतिष सोनी ने ‘‘चैक पुराओ माटी रंगाओं, आज मेरे पिया घर आएंगे’’, महेन्द्रकुमार खुराना ने ‘‘अ आ इ ई, उ, ऊ, रे’’, अतिषी पाठक ने ‘‘ए वतन मेरे आबाद रहे तू’’, ज्योति त्रिवेदी ने ‘‘ हम होंगे कायमाब एक दिन’’, षिल्पा सोनी ने ‘‘जीवन के दिन छोटे सहीं, हम भी बड़े दिल वाले, सुरीली गायिका निहाली चैहान ने ‘‘नाम गुम जाएगा, चेहरा ये बदल जाएगा’’, कलाकार अन्नू भाबर ने ‘‘जीना है तो हंस के जीयो, जीवन में एक पल भी रोना ना’’ एवं पवेन्द्रसिंह चैहान ने ‘‘प्यार दीवाना होता है, मस्ताना होता है’’ गाकर समां बांधने के साथ ग्रुप के सभी पदाधिकारी-सदस्यों को काफी आनंदित एवं रोमांचित किया। निर्णायक की भूमिका संस्कार भारती मालवांचल की प्रांतीय उपाध्यक्ष श्रीमती अंजलि चैहान, ऋ़तु भटनागर देवास एवं उमंग सक्सेना, संस्क्षक संस्कार भारती आजाद इकाई ने निभाई। साथ ही इसमें रोटरी सूर श्री के संयोजक का भी निर्णय में सहयोग लिया गया।

ये रहे विजेता
प्रतियोगिता में प्रथम नितीष बबलू सोनी, द्वितीय रोहित सारोलकर एवं तृतीय निहाली चैहान रहीं। इसके अलावा सभी प्रतिभागियों को भी प्रोत्साहन पुरस्कर प्रदान किए जाएंगे। पुरस्कारों की घोषणा इकाई अध्यक्ष एवं वरिष्ठ रोटेरियन उमंग सक्सेना ने की, जो लाॅकडाउन समाप्त होने के बाद सभी को दिए जाएंगे। प्रतियोगिता को सफल बनाने में विषेष सहयोग प्रिया सारोलकर एवं ऋतु भटनागर आदि का रहा। प्रतियोगिता की सफलता पर सभी का आभार अध्यक्ष श्रीमती भारती सोनी ने माना। संस्कार भारती सचिव श्रद्धा जैन ने बताया कि आगामी 3 मई तक लगे लाॅकडाउन के बीच यह प्रतियोगिता जारी रखी जाएगी। 

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता  वार्डो में अपने हाथों से बनाकर मास्क बाट रहे

jhabua news
थांदला । महिला बाल विकास विभाग परियोजना थांदला में सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता   पुषपा डौडियार, अतिमबाला सौनी ,ललीता डामौर, विधा भाभर ,किरण चैधरी,,ओर साहिकाए द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में ओर सहरी छेत्रो में अपने अपने घर पर मास्क बना कर बांटे जा रहे हैं क्यों कि अभी पूरे भारत में कोरोनावायरस के चलते लाक डाउन होने के कारण कही पर भी मास्क नहीं मिल रहें हैं तों महिला बाल विकास विभाग परियोजना थांदला जिला झाबुआ में सभी कार्यकर्ता के द्वारा मास्क बना कर वितरण किया जा रहे हैं और कार्यकर्ता ओर स्वयं सहायता समूह के माध्यम से गांव में जा कर बच्चो के लिए पोषण आहार एवं सुखा नाश्ता दिया जा रहा है कम से कम 15  15 दिनों का एक साथ में नाश्ता दिया गया है और आंगनबाड़ी  सुपरवाइजर पुष्पा डोडियार व वार्ड नंबर 3,9,14,15 की  आगनवाड़ी कार्यकर्ता अतिमबाला सौनी ,ललीता डामौर, विधा भाभर ,किरण चैधरी व सहायिका द्वारा थांदला के विभिन्न    वार्डो में   समझाइश भी दि जा रही है कि आप सभी अपने अपने घर में रहें कोई भी घर से बाहर नहीं निकले ओर अपने अपने परिवार और अपने बच्चों को भी साफ सफाई रखें और घर से बाहर निकलने पर अपने मुंह पर मास्क बाघ कर निकलना है और कोई भी जगह पर भिड़ लगा कर नहीं बैठना है और अपने गांव में कोई भी अनजान व्यक्ति दिखाई देता है तो तूरंत हमारी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को बताना है या फिर पुलिस को जानकारी देना है। उक्त जानकारी परियोजना अधिकारी जे एस मूवेल परियोजना थांदला द्वारा दी गई है।

राषन आपके द्वार एप प्रारम्भ

झाबुआ,। जिला प्रषासन द्वारा  जिले में राषन आपक द्वार एप ष्षुरू किया है। यह एक अभिनव प्रयास है। इस एप के तहत आपको घर बैठे राषन दूध तथा दवाईयां प्राप्त हो सकेगी। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने इस एप के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि राज्य तथा केन्द्र ष्षासन द्वारा कोविद 19 के तहत जिले में लगाए गए सम्पूर्ण लाॅकडाउन को प्रभावी रूप से क्रियान्वयन के लिए यह एप बनाया गया है इस एप के माध्यम से व्यक्ति आपनी आवष्यक सामग्री घर पर ही प्राप्त कर सकता है। यह एप्प कोरोना वायरस से बचने में मददगार साबित होगा। उपभोक्ता को यह सामग्री प्राप्त करते समय नगद भुगतान करना होगा। जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी श्री कपिल कुमावत ने अवगत कराया कि यह एप दो चरणों में कार्य करेगी। सबसे पहले उपभोक्ताओं को अपने मोबाईल पर गुगल प्ले स्टोर से एप डाउनलोड करना होगा। इसके बाद अपने मोबाईल नम्बर रजिस्टर करना होगा। और अपना एरिया चूनना होगा। नई विण्डों खुलेगी जिसमें आप अपने उपभोग की मन पसंद वस्तुए ब्राण्ड एवं दुकान चुनकर आर्डर कर सकते है। इस एप्प के द्वितीय चरण में रजिस्टर करना एवं दवाई दुकान अपना एरिया तथा पासवर्ड डालकर लागिंन करेगा। उपभोक्ता द्वारा किये गये आर्डर प्रदर्षित करेगा। आर्डर सुनिष्चित होने के बाद उपभोक्ता को सामग्री घर बैठे प्रदान की जावेगी। यह एप &https://rationapke-dwar.online/k~ पर उपलब्ध है। अधिक जानकारी के लिए इस वेबसाईड पर सम्पर्क किया जा सकता है। जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी श्री कुमावत ने बुधवार को यहां कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में इस एप के सम्बन्ध में दुकानदारों को आवष्यक प्रषिक्षण भी दिया।

हितग्राहियों की राषि उनके बैंक खाते में ही जमा रहेगी

झाबुआ, 15 अप्रैल 2020। भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा कोविद -19 को दृष्टिगत एवं रखते हुए विभिन्न वित्तीय पैकेजों के माध्यम से विभिन्न योजनाओं के तहत हितग्राहियों के बैंक खाते में राषि जमा की जा रही है कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अवगत कराया के महिलाओं के प्रधानमंत्री जन-धन खाते में तीन माह तक प्रतिमाह 500 रूपये जमा किये जाएगें। इसी प्रकार प्रधान मंत्री किसान सम्मान योजना के तहत किसानों के खाते में 2000 रूपये जमा किये जायगें और निर्माण मजदूरों के खाते में 1000 रूपये की राषि जमा की जावेगी। श्री सिपाहा ने अवगत कराया कि इन योजनाओं के तहत हितग्राहियों के बैंक खातों में राषि जमा हो जाने के बाद यह राषि उनके खाते में ही उपलब्ध रहेगी। इस राषि का आहरण खातेदार स्वयं कर सकता है। यदि खाते दार की मृत्यु हो जाने पर नामिनी व्यक्ति या वैध उत्तराधिकारी इस राषि को आहरित कर सकेगा। श्री सिपाहा ने आगे बताया कि भारत सरकार के निर्देषानुसार महिलाओं के प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत खोले गये बैंक खाते में तीन माह तक प्रतिमाह 500 रूपये जमा किये जायेगें। हितग्राहियों द्वारा प्रथम किष्त की राषि आहरित नहीं किये जाने पर भी आगामी किष्ते उनके खाते में सरकार द्वारा जमा कर दी जावेगी। भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा कोविद-19 को देखते हुए विभिन्न वित्तीय पैकेज के द्वारा आर्थिक सहायता के रूप् में यह राषि प्रदाय की जा रही है। हितग्राही इस राषि का उपयोग कभी भी कर सकता है। बैंक द्वारा इस राषि का हितग्राही द्वारा बैंक से ली गई ऋण राषि की वसूली के लिए समायोजन नहीं किया जावेगा। श्री सिपाहा ने अवगत कराया कि लाॅक डाउन के दौरान बैंक का कारोबारी समय प्रातः 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक रहेगा। इसी प्रकार लाॅकडाउन के दौरान बीसी तथा कियोस्क संचालक का कारोबारी का समय प्रातः 10 बसे से सायं 5 बजे तक रहेगा। खातेदार राषि आहरित करते समय बीसी या कियोस्क संचालक को किसी प्रकार का नगद राषि का भुगतान नहीं करें।

ई-दक्ष केन्द्र में कन्ट्रोल रूम स्थापित अधिकारीयों-कर्मचारियों की डयूटी

झाबुआ। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने जिले में कोविद -19 के संक्रमण के प्रभाव को व्यापक रूप से फैलने से रोकने और वायरस के संक्रमण के प्रभावी रोकथाम को दृष्टिगत रख लोकहित में सामान्य के स्वास्थ्य सुरक्षा के उद्देष्य से कलेक्टर कार्यालय में स्थित ई-दक्ष केन्द्र में कन्ट्रोल रूम स्थापित किया है। कन्ट्रोल रूम के सुचारू रूप से संचालन के लिए अधिकारियों-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। इस कन्ट्रोल रूम का दूरभाष क्रमांक (07392).245844,244688,243653,244262,तथा 243661 है। इस कन्ट्रोल रूम के लिए उपायुक्त सहकारीता श्री अम्बरीष वैद्य को नोडल अधिकारी बनाया गया है। श्री वैद्य का मोबाईल नं. 9425174564 है। इस कन्ट्रोल रूम में अंकेक्षण अधिकारी (समन्वयक) श्री दिनेष चन्द्र भिण्डें, सहकारी निरीक्षक श्री अषोक कुमार जैन प्रबंधक जिला थोक भण्डार श्री संजय ष्षर्मा, बैंकिंग सहायक श्री अंकित पाल, श्री नवीन हिंघल, श्री मेहल पंवार की ड्यूटी प्रतिदिन दोपहर 3 बजे से रात्रि 9 बजे तक रहेगी। इस कन्ट्रोल रूम सें परियोजना संचालक आत्मा श्री जी.एस.त्रिवेदी को भी नोडल अधिकारी बनाया गया है। उनका मोबाईल नं. 9826213800 है। इनकी ड्यूटी प्रतिदिन प्रातः 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक रहेगी। इनके साथ सहायक संचालक कृषि (समन्वयक) श्री विलास राव पाटील, भूमि संरक्षण सर्वे अधिकारी श्री माधुसिंह देवडा, सागर सिंह वागुल, सहायक ग्रेड-3 कृषि उपज मंडी समिति श्री मुकेष डामोर, भृत्य मत्स्य पालन विभाग श्री किषोर कटारा, सहायक ग्रेड-3 श्री मयंक चावडा की ड्यूटी लगाई गई है। सहायक ग्रेड-3 श्री हेमतसिंह को रिजर्व में रखा गया है।

कोविड-19 (कोरोना) का कन्ट्रोल रूम संचालित होगा -05 लेण्डलाईन नम्बर निर्धारित, सहकारिता उपायुक्त एवं उप संचालक (आत्मा) प्रभारी

झाबुआ,। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने जिले से संबंधित समस्त मूलभुत आवष्यकताओं के उचित व्यस्थापना एवं प्राप्त षिकायतों के निराकरण हेतु प्रारंभ किये इस कन्ट्रोल रूम के दूरभाष क्रमंाक क्रमषः (07392-245824,244688, 243653,244262 एवं 243661) में किसी भी सूचना एवं समस्या से अवगत कराया जा सकता है। कोरोना महामारी के विस्तार की रोकथाम हेतु आगामी 03 मई 2020 तक घोषित देष व्यापी लाॅक डाउन की आपातकालीन परिस्थतियों में झाबुआ जिले में प्रारंभ समर्थन मूल्य पर गेहॅंू व चने की खरीदी, सार्वजनिक वितरण प्रणाली अन्तर्गत राषन प्रदाय सहित समस्त मूलभुत आवष्यकताओं के बेहतर समन्वय हेतु यह कन्ट्रोल रूम प्रातः 09 बजे से रात्रि 09 बजे तक निरंतर संचालित रहने की व्यवस्था की है। उपरोक्त लेंडलाईन नबंरों के अतिरिक्त कन्ट्रोल रूम के प्रभारी अधिकारियों के मोबाईल नम्बर 9826213800 एवं 9425174564 से सम्पर्क किया जा सकता है।

कोरोना वायरस से सवंमित 05 सेम्पलों को पुनः जांच के लिए भेजने के निर्देष
झाबुआ 14 अप्रैल 2020। जिला चिकित्सालय द्वारा जिले के कोरोना वायरस के लक्षणों के व्यक्यिों के 11 अपै्रल को 108 सेम्पल एम्स भोपाल जाॅच के लिए भेजे गए थे। इन सेम्पलों में 74 सेम्पल कीजाॅच रिपोर्ट आ गई है जिसमें से 69 सेम्पल की रिपोर्ट नेगेटिव आई है और एम्स भोपाल द्वारा 05 सेम्पल रिजेक्ट किये थे। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने इन 05 व्यक्तियों के पुनः सेम्पल लेकर एम्स भोपाल जाॅच के लिए भेजने के निर्देष मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिए है।

गेहूं एवं चना उपार्जन का कार्य प्रारम्भ

झाबुआ,। जिले में गेहॅंू/ चचना उपार्जन का कार्य बुधवार से प्रारंभ हो गया। सभी 20 उपार्जन केन्द्रों में प्रति केंद्र 6 कृषक के मान से 120 कृषको को ैडै के माध्यम से सूचना प्रेषित की गई। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा के निर्देष पर सभी कृषकों को व्यक्तिगत रूप से मोबाईल पर सूचित किया गया। साथ ही सोषल डिसटेसिंग बनाये रखने एवं मास्क का उपयोग करने एवं साबुन से हाथ धाने की जानकारी भी दी गई। सभी ैडै प्राप्त कृषकों को एक दिन पूर्व मोबाईल से जानकारी देने की व्यवस्था नियमित रूप से की गई है। बुधवार को रजला, पेटलावद, मार्केटींग, कालीदेवी एवं रायपुरिया, बामनिया उपार्जन केन्द्रों पर कृषकों द्वारा गेहूॅं समर्थन मुल्य पर साढे ग्यारह क्विंटल एस.एम.एस की जानकारी सरपंच एवं सचिव को भी दी जा रही है ताकि एस.एम.एस प्राप्त किसान ही अपनी फसल बैचने के लिए उपार्जन केन्द्र पर आ सके। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अवगत कराया की प्रत्येक उपार्जन केन्द्र में प्रतिदिन 6 एस.एम.एस की सीमा तक पंजीकृत किसानों को बुलाया जा सकेगा जिन किसानों को एस.एम.एस के माध्यम से बुलाया जाएगा उन्हीं किसानों को विक्रय के लिये अनुमति होगी।

जिले से बाहर या अन्य राज्यों में आवागमन के ई-पास के लिए पोर्टल लाॅन्च 

झाबुआ । मध्यप्रदेष ष्षासन द्वारा लाॅक डाउन अवधि में खाद्यान्न उपार्जन एवं अनुषांगिक गतिविधियाॅं तथा अत्यावष्यक सेवाओं एवं आपातकालीन कार्यों के लिए जिले के भीतर अंतर जिला एवं जिले से अन्य राज्यों में आवागमन हेतु ई-पास की अनुमति के लिए एक नया पोर्टल http://mapit.gov.in/covid-19 

कोई टिप्पणी नहीं: