झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 18 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 18 अप्रैल 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 18 अप्रैल

नगरपालिका द्वारा दो दिन में दीनदयाल अंत्योदय रसोई केंद्र पर 368 गरीब, निराश्रित और जरूरतमंदों को करवाया भोजन
संकल्प ग्रुप एवं संस्कार भारती से जुड़ी मंजु मिस्त्री ने वैवाहिक वर्षगांठ पर आर्थिक सहयोग प्रदान किया
jhabua news
झाबुआ। कोरोना वायरस (कोविड-19) से रोकथाम हेतु 3 मई तक शहर में संपूर्ण लाॅकडाउन किया हुआ है। 21 दिनों के लाॅकडाउन के बाद 19 दिनों के ओर बढ़े लाॅकडाउन-02 में जिला प्रषासन के निर्देष पर नगरपालिका परिषद् झाबुआ द्वारा बस स्टेंड के पीछे दीनदयाल अंत्योदय रसोई कंेद्र में गरीबों, निराश्रितों और जरूरतमंदों के लिए निःषुल्क भोजन की व्यवस्था 16 अप्रेल से की जा रहीं है। दो दिन में 368 जरूरतमंदों को भोजन के पैकेट नगरपालिका की ओर से वितरित किए जा चुके है। जानकारी देते हुए नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नूबेन डोडियार एवं सीएमओ एलएस डोडिया ने बताया कि नपा की पूरी टीम इस निःस्वार्थ सेवा के कार्य में लगी हुई है। विषेष सहयोग आजीविका मिषन की मैनेजर श्रीमती अनिषा राजसिंह के नेतृत्व में स्वयं सहायता की महिलाओं का प्राप्त हो रहा है। वे प्रतिदिन भोजन बनाने का कार्य कर रहीं है, तो वहीं राषन सामग्री की निःषुल्क व्यवस्था खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की ओर से चावल, गेहूं तथा दाल, सब्जी, तेल और मसाले की व्यवस्था नपा के समस्त अधिकारी और जनप्रतिनिधियों में पाषर्दगण के आर्थिक सहयोग से हो रहीं है। नपा कर्मचारी श्रमदान कर अपना आवष्यक सहयोग प्रदान कर रहे है।    श्

मंजु मिस्त्री ने अपने वैवाहिक वर्षगांठ पर सहयोग प्रदान किया
17 अप्रेल, शुक्रवार को संकल्प ग्रुप एवं संस्कार भारती से जुड़ी श्रीमती मंजु मिस्त्री एवं उमाषंकर मिस्त्री ने अपने वैवाहिक वर्षगांठ के उपलक्ष में गरीबों और जरूरतमंदों के भोजन की व्यवस्था हेतु आवष्यक आर्थिक सहयोग प्रदान किया। नपा परिषद् की ओर से उनका आभार माना गया। नपा अध्यक्ष श्रीमती डोडियार, उपाध्यक्ष रोषन डोडियार एवं सीएमओ श्री डोडिया ने कहा कि शहर का जो भी व्यक्ति गरीबों और जरूरतमंदों के भोजन प्रदाय व्यवस्था में जिस प्रकार का भी आर्थिक, राषन सामग्री सहयोग या श्रमदान भी देना चाहता है, आकर निःस्वार्थ भाव से दे सकता है।

दो दिन में 368 गरीबों को मिला भोजन
16 अप्रेल को दीनदयाल केंद्र पर 168 जरूरतमंदों ने पहुंचकर भोजन के पैकेट प्राप्त किए थे, वहीं 17 अप्रेल को यह आॅकड़ा बढ़कर 200 पर पहुंचा। यह व्यवस्था लाॅकडाउन-02 अर्थात 3 मई तक सत्त जारी रहेगीी।

अंबिका टेंट हाऊस की सराहनीय पहल, ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों, बैंक-कियोस्क सेंटर के बाहर खड़े रहने वाले ग्रामीणों के लिए की टेंट की व्यवस्था 

jhabua news
झाबुआ। नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) से रोकथाम हेतु शहर में 3 मई तक संपूर्ण लाॅकडाउन लगा हुआ है। लाॅकडाउन में जो पुलिसकर्मी तिराहों-चैराहों एव मुख्य स्थानों पर दिनभर खड़े रहकर अपनी सेवाएं दे रहे है। वहीं इमरजेंसी सेवाओं में बैंकों और कियोस्क सेंटरों के बाहर बैठने वाले ग्रामीणों के लिए अंबिका टेंट हाऊस द्वारा निःषुल्क टेंट की व्यवस्था की गई है। अंबिका टेंट हाऊस के संचालक जयंतीलाल राठौर ने बताया कि अप्रेल माह में गर्मी बढ़ने के साथ ही सुबह एवं दोपहर में अत्यधिक धूप के कारण तिराहों-चैराहांे और मुख्य स्थानों पर पुलिसकर्मियो को सूनी और विरान सड़कों पर खड़े रहने में काफी दिक्कते आ रहीं है। पुलिसकर्मी आपातकाल और संकट की इस घड़ी में दिन-रात अपनी सेवाएं दे रहे है। जिसे देखते हुए उन्हंे सुबह एवं दोपहर में धूप से बचाने के लिए अंबिका टेंट हाऊस की ओर से टेंट की व्यवस्था की गई है। यह टेंट फिलहाल शहर के मध्य राजवाड़ा सहित कई बैंकों और कियोस्क सेंटरों के बाहर जहां अपने खातों में से जमा पैसा निकालने के लिए प्रतिदिन शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की भीड़ लग रहीं है। लोग बाहर खड़े होकर चिलचिलाती धूप के कारण परेषान हो रहे है, यहां भी टेंट की व्यवस्था की गई है, ताकि टेंट के नीचे लोग सोषल डिस्टेनसिंग के साथ बैठकर अपना नंबर आने पर पैसा प्राप्त करने के बाद अपने घरों की ओर प्रस्थान कर सके।

8 स्थानों पर लगाए टेंट
संचालक जयंतीलाल राठौर ने बताया कि फिलहाल शहर में करीब 8 स्थानों पर टेंट की व्यवस्था की गई है। जिसे लगाने के कार्य में सहयोग अजय पंवार, अब्दुल रहीम अब्बू दादा, एचसी टेलर, चेतन सोनी आदि सहित अन्य कर्मचारियों द्वारा प्रदान किया जा रहा है। आगामी दिनों में अन्य बैंकों और मुख्य स्थानों पर भी जरूरत पड़ने पर टेंट की अस्थायी व्यवस्था लाॅकडाउन के समय तक की जाएगी।

चारों तरफ कोरोना का खतरा झाबुआ को सुरक्षित रखना कठिन चुनोती
राष्ट्रिय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास एवं आईजा के प्रदेशाध्यक्ष ने जनता से की जागरूकता की अपील
jhabua news
थांदला । झाबुआ जिलें के समीप राजस्थान के कुशलगढ़ में कोरोना के मरीज 59, गुजरात के दाहोद में 2, रतलाम में 12, धार में 3, अलीराजपुर में 1 ने दस्तक दे दी है। धार में तो फ्रूट के होलसेल व्यापारी को ही कोरोना पोजिटिव की खबर से मामला और गम्भीर हो चुका है। इंदौर व उज्जैन तो आज मध्यप्रदेश के सबसे ज्यादा कोरोना ग्रसित शहरों में शुमार होकर हॉट स्पॉट बन चुके है। ये सभी शहर व नगर झाबुआ से ज्यादा दूर नही है। झाबुआ के निकट कोरोना संक्रमण की सम्भावनाओं को देखते हुए जिलें में ख़तरा लगातार बढ़ने की संभावना बढ़ गई है, जिसके चलते अब हमें ओर अधिक सावधान ओर सतर्क रहने की आवश्यकता है। शासन प्रशासन निश्चित अपनी जिम्मेदारी का सही से पालन कर रहा है लेकिन अब हम जिलें वासियों को भी जागरूक रहते हुए अपने नगर, गाँव, गली, मोहल्लों यहाँ तक कि अपने पड़ोस की निगरानी करते हुए किसी बाहरी व्यक्ति को न आने दिया जाए यदि आ भी जाता है तो उसकी सूचना तुरन्त स्थानीय प्रशासन एसडीएम, तहसीलदार, एसडीओपी, थाना प्रभारी व स्वास्थ्य अधिकारी को दी जाए। हमे  यह सुनिश्चित करना होगा कि कोई व्यक्ति या रिश्तेदार किसी प्रभावित क्षेत्रों से बिना प्रशासन की अनुमति के आया तो नहीं या फिर अपने यहाँ से प्रभावित क्षेत्रों में गया तो नहीं । यदि हमने यह कर लिया तो सही मायने में बहुत सारी समस्या समाप्त हो जायेंगी। राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग व आल इण्डिया जैन जर्नलिस्ट एसोसिएशन (आईजा) के प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर ने अपने गृह जिलें सहित मध्यप्रदेश की जनता से अपील की है कि वे कोरोना महामारी को जड़ से खत्म करने में शासन प्रशासन का सहयोग करें व उन्हें अपने निकट आने वाले व्यक्ति की सूचना प्रशासकीय प्रबन्धन को देनी है जिससे वे व हमारा प्रदेश सुरक्षित रह सकता है। इस विषय मे प्रशासनिक अधिकारियों ने भी मुनादी करते हुए बाहर से आये किसी भी व्यक्ति की सूचना देने की बात कही है। यदि हम जरा सी सावधानी रख लेते है तो निश्चितरूप से कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने में सफल भी हो जाएंगे। नाहर ने कहा आगामी 20 अप्रेल से केंद्र व राज्य सरकारें कोरोना से अप्रभावित जिलों में कुछ ढील देने की बात कह रही है इसलिये उनके द्वारा जन सुविधाओं को देखते हुए उठाये गए कदम में हम सभी को जागरूक रहते हुए सोशल डिस्टेंश का पालन करने व करवाने की जरूरत होगी जिसे सभी को समझना भी होगा।

विश्व को कोरोना वायरस से मुक्ति के लिए गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पर प्रतिदिन किया जा रहा हवन, अर्थव वेद की 108 आहूतियां दी जा रहीं

झाबुआ। नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) से रोकथाम हेतु इन दिनों जिले में संपूर्ण लाॅक डाउन लगा हुआ है। इसी बीच गायत्री परिवार द्वारा कोरोना वायरस से विष्व को मुक्ति दिलाने के लिए विषेष रूप से हवन-पाठ आदि किए जा रहे है, ताकि यहां महामारी जड़ से समाप्त हो सके। गायत्री परिवार के जिला समन्वयक पं. घनष्याम बैरागी एवं नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी द्वारा प्रतिदिन प्रातःकाल गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पहुंचकर यहां वेद माता गायत्री, पं. श्री राम शर्मा आचार्य एवं मां भगवती देवी शर्मा की प्रतिमा एवं चित्र के सम्मुख हवन किया जा रहा है। हवन में अर्थव वेद के मंत्रों की 108 आहूतियां डालकर प्रार्थना की जा रहीं कि जल्द से जल्द देष सहित संपूर्ण विष्व को कोरोना वायरस जैसी जानलेवा और भयावह महमारी से मुक्ति मिल सके। साथ ही प्रत्येक मानव का कल्याण हो और उनमें सुख-षांति बनी रहे।

गायत्री महामंत्र एवं षिव महा-मृत्युंजय महामंत्र का जाप
प्रातःकाल एवं शाम को गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पर बैरागी दंपति के साथ शक्तिपीठ से जुड़े युवाओं द्वारा मंदिर परिसर में बैठकर गायत्री माता के सम्मुख गायत्री महामंत्र एवं स्फटिक महांकालजी के सम्मुख षिव महा-मृत्युंजय महामंत्र का जाप कर सभी के निरोगी और स्वस्थ रहने की कामना की जा रहीं है।

मनुष्यों द्वारा अपनी सोच और विचार में बदलाव से ही सतयुग को वापस लाया जा सकता है, कलयुग होने से संपूर्ण विष्व में आ रहीं विपदाएं -ः बीके षिवानी दीदी

झाबुआ। आज पूरा विष्व नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) जैसी वैष्विक महामारी से जूझ रहा है। देष में भी लगातार कोरोना संक्रमित मरीजांें की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रहीं है। अब तक सैकड़ों लोगों की मृत्यु हो चुकी है। इस बीच अच्छी खबर यह है कि कई संक्रमित मरीज ठीक भी हो रहे है, जिसका कारण उनकी समझदारी, हौंसला, सकारात्मक सोच, रोगों से लड़ने की क्षमता में अभिवृद्धि होना है। आज स्वयं देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस महामारी से देषवासियों को बचाने के लिए पूरी तरह से गंभीर होकर हर संभव प्रयास कर रहे है। श्री प्रजापिता ब्रम्हकुमारी ईष्वरीय विष्वविद्यालय माउंटआबू से जुड़ी बीके षिवानी दीदी ने हाल ही में एक चैनल पर आॅनलाईन इंटरव्यू देते हुए बताया है कि विष्व में आज जो कोरोना वायरस (कोविड-19) का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है, यह प्रलय एक ओर जहां मनुष्य जाति द्वारा प्रकृति का दोहन के साथ घोर कलयुग का नतीजा है। कलयुग में मनुष्यों में वैर भाव, ईष्र्या, घृणा, बदले की भावना इस कदर बढ़ गई है कि हम केवल और केवल अपने एवं परिवार की सोच रहे है। हमारा सोच का दायरा अपनो तक ही सीमित रह गया है। हम ना तो अपने समाज, शहर और पर्यावरण को बढ़ावा देने पर विचार करते है और ना ही भविष्य के बारे में कोई अच्छी सोच रखते है।

कोरोना वायरस इंसान को दे रहा बड़ी सीख
बीके षिवानी दीदी ने आगे इंटरव्यू में बताया कि कोरोना वायरस आज इंसान को बड़ी सीख दे रहा है। देष में लाॅकडाउन में कारण हम अपने घरों पर है, पारिवारिक मेल-मिलाप बढ़ा रहे है। अपने खान-पान पर विषेष ध्यान दे रहे है। आज देष और दुनिया की खबरे पढ़कर कोरोना के षिकार हो रहे लोगों की चिंताएं कर रहे है। इस दौरान हमने अपनी जीवन शैली बदली है, जीने का तरीका बदला है। निष्चित ही यह वायरस का प्रकोप जब पूरी तरह से समाप्त होगा, तो देष और दुनिया में मनुष्यों के व्यवहार, आचरण-विचारों में भी काफी परिवर्तन होगा।

कलयुग में ही सतयुग की स्थापना कर सकते है
बीके षिवानी दीदी ने आगे बताया कि मनुष्य कलयुग में ही सतयुग की स्थापना कर सकता है। जिसके लिए प्रत्येक व्यक्ति यदि अपनी बुरी आदतों को समाप्त कर, मन के अंदर वैर-भाव, घृणा, ईष्या, लोभ की भावना को निकालकर सकारात्मकता की ओर बढ़ते हुए ईमानदारीपूर्वक, सद्भाव, सद्कर्म, सद्प्रवृत्ति के साथ अपना जीवन यापन करे तो कलयुग में भी सतयुग की स्थापना हो सकती है। दीदी ने कहा कि हम वर्तमान दौर में आध्यात्म से जुड़कर प्रतिदिन मेडिटेषन (राजयोग) आवष्यक रूप से करे। इसमे हमारा मन स्थिर और शांत रहता है। साथ ही शरीर को स्वस्थ रखने के लिए प्रतिदिन योग, प्रणायाम, आसन आदि भी हम घर पर रहकर ही कर सकते है।

इम्यूनिटी पाॅवर बढ़ाने के लिए जिला आयुष विभाग द्वारा घर-घर जाकर लोगों को वितरित की जा रहीं आयुर्वेदिक एवं होम्योपैथिक गोली-दवाईयां
रोग प्रतिरोधात्मक क्षमता बढ़ने से कोरोना वायरस के संक्रमण से लड़ने में मिलती है शक्ति जाने आप घरों पर रहकर क्या घरेलु उपाय कर रह सकते है स्वस्थ और निरोगी
jhabua news
झाबुआ। कोरोना वायरस (कोविड-19) से रोकथाम हेतु संपूर्ण जिले में 3 मई तक संपूर्ण लाॅकडाउन हुआ है। इस बीच आयुष मंत्रालय भारत सरकार एवं मप्र आयुष विभाग के निर्देष पर जिला आयुष विभाग द्वारा जिलेभर में लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु सहायक आयुर्वेदिक एवं होम्यापैथिक गोली-दवाईयों का निःषुल्क वितरण किया जा रहा है। साथ ही इस दौरान आवष्यक परामर्ष भी दिया जा रहा है। जिला आयुष अधिकारी डाॅ. मीना भायल ने बताया कि देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा गत 21 मार्च से लगाए गए जनता कर्फयू, के बाद लाॅकडाउन में भी जिलेभर में जिला आयुर्वेदिक चिकित्सालय एवं आसपास के क्षेत्रों में स्थित आयुर्वेदिक-आयुषविंग औषधालयों के अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा प्रतिदिन अपने-अपने क्षेत्रों में मुंह पर मास्क पहनकर एवं हाथों को सेनेटाईज कर घर-घर जाकर सोषल डिस्टेनसिंग के साथ आयुर्वेदिक एवं होम्योपैथिक गोली-दवाईयांें के पैक वितरित किए जा रहे है। झाबुआ शहर में यह कार्य जिला आयुर्वेदिक चिकित्सालय के प्रभारी डाॅ. दीपेष कठोता के नेतृत्व में पूरी टीम द्वारा जोर-शोर से किया जा रहा है।

रोगों से लड़ने की मिलती है शक्ति
जिला आयुष अधिकारी डाॅ. मीना भायल ने बताया कि कोई भी व्यक्ति इन गोली-दवाईयों का यदि सलाह अनुसार नियमित सेवन करेंगे, तो आपके शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता में काफी वृद्धि होगी। साथ ही इससे कोरोना वायरस के संक्रमण से भी बचाव होता है। इन गोली-दवाईयों के नियमित सेवन में हमारे शरीर का इम्यूनिटी पाॅवर बढ़ने से यह संक्रमण सीधे हम पर अटैक नहीं कर सकता है और काफी हद तक हमारा बचाव होता है। साथ ही वर्तमान में मौसम जनित बिमारियों सर्दी-जुखाम, बुखार से बचने में आयुर्वेदिक काढ़ा भी काफी सहायक सिद्ध होता है, जो तुलसी, गिलौय आदि कई जड़ी बूटियों को मिलाकर तैयार होता है।

घरों में ऐसे रहे स्वस्थ, यह घरेलु उपाय करे
जिला आयुर्वेदिक चिकित्सालय के प्रभारी डाॅ. दीपेष कटोता ने बताया कि संपूर्ण लाॅकडाउन के दौरान लोग अपने घरों पर ही रहकर कई घरेलु उपाय कर स्वस्थ और निरोगी रह सकते है। जिसमें प्रतिदिनन प्रातःकाल योग, व्यायाम प्रणायाम करने के साथ तुलसी, अदरक, ईलायची वाली गरमा-गरम चाय पीए। तुलसी, दाल चीनी, काली मिर्च स्वादानुसार 150 एमएल गर्म पानी के साथ ले। रात को सोते समय में गर्म दूध में हल्दी का चूरण मिलाकर पीए। साथ ही भोजन में भी हल्दी, जीरा, लहसन आदि का अधिक से अधिक इस्तेमाल करे। प्रतिदिन दिन में 3-4 बार आवष्यक रूप से गर्म पानी पीने की आदत डाले, ऐसा करने से आप स्वस्थ और निरोगी रहेंगे।

जिले में अब तक 273 लोगों के सेम्पल जांच के लिए भेजे गये जिसमें से 119 सेम्पल की जांच रिपोर्ट प्राप्त एक भी सेम्पल पाॅजिटिव्ह नही पाया गया

झाबुआ। कोरोना वायरस संक्रमण के बचाव के लिए जिले में स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिला स्तर से अभी तक 273 लोगों के सेम्पल लेकर एम्स भोपाल जांच के लिए भेजे गये। जिसमें से 119 सेम्पल पाजिटिव नहीं पाये गये। ष्षेष 154 सेम्पलांें की जांच रिपोर्ट आन ष्षेष है ।जिले में 425 लोगों को कोरेन्टाइन सेन्टर में रखा गया है। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अवगत कराया कि खाद्य विभाग द्वारा जिले में माह मार्च, अप्रैल और मई माह का खाद्यान्न अग्रिम तौर पर उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से पात्रता पर्ची के द्वारा वितरित किया गया है। जिनका नाम नया सवेरा योजना के अन्तर्गत नहीं था अथवा जिनके पास किसी तरह की कोई पात्रता पर्ची नहीं थी उन्हें एन.जी.ओ. के माध्यम से 15-15 दिन का खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है। जिले में षक्रवार को 1240 भोजन के पैकेट वितरित किये गये है। जिले में मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम के तहत स्कूलों के षिक्षकों के माध्यम से बच्चों को राषन उपलब्ध कराया गया है। पुलिस विभाग द्वारा अब तक थ्1त् 10 की गई तथा धारा 151 के तहत 2 केष एवं 15 व्यक्तियों को अस्थाई जेल में निरूद्ध किया गया है। जिले में कुल 72 उद्योग है जिसमें 5 उद्योग फार्मेसी से संबंधित है। मेघनगर स्थित 10 उद्योगों को तथा झाबुआ के खनन से संबंधित उद्योग को लाॅक डाउन के दौरान सतत रूप से चालू रखने की अनुमती दी गई है।

लाॅकडाउन के दौरान बाहर से आकर रहने वालों को जिला प्रषासन को सूचना देना आवष्यक

झाबुआ। कोवीड.19 के संक्रमण एंव रोकथाम के दौरान लाॅक डाउन-02 की अवधि के दौरान झाबुआ अनुभाग क्षेत्र में जिसमें तहसील, झाबुआ, राणापुर, रामा सम्मिलित है, यदि कोई व्यक्ति, महिला, पुरूष, बच्चे छात्र, छात्राऐ, छण्त्ण्प्ण् बाहर से देष के विभिन्न राज्यों, केन्द्रषासित प्रदेष, विदेष से बिना पूर्व सूचना दिये किराये के मकान मे या अपने स्वयं के बने मकान मे आकर चुप-चाप निवास कर रहे है, तो इसकी सूचना क्षेत्र के अनु विभाग अधिकारी राजस्व/ एस.डी.एम. डाॅ. अभयसिंह खराडी को देवे- ताकि बाहर से आये हुए संम्बधित परिवार के सदस्यों का महिला, पुरूष, बच्चे, छात्र, छात्राऐ, छण्त्ण्प् का थर्मल स्क्रीन, मेडिकल जाॅंच की जा सके, संम्बधित व्यक्तियों की चिकित्सा जाॅंच लेब, जाॅंच, सेम्पल प्राप्त कर क्वारेन्टाइन किया जाना अनिवार्य है। बाहर से आये हुए व्यक्ति को जो भी षरण देगा एवं जिला प्रषासन को जानकारी नही देगा तथा ब्वअपक. 19 के नियमो का उल्लंघन करेगा या, गोपनीय रखेगा, ऐसे व्यक्ति के विरूद्ध वैधानिक/ दण्डात्मक कार्यवाही की जावेगी। अनुविभागीय दण्डाधिकारी एवं जिला नोडल अधिकारी कोरोना डा. अभयसिंह खराडी ने अवगत कराया कि जो व्यक्ति इसकी सूचना प्रषासन को देगा उसका नाम एवं पता मोबाइल नं. गोपनीय रखा जावेगा।

सब्जी मण्डी के स्थान में परिवर्तन

झाबुआ ।  जिला प्रषासन द्वारा जनहित में सब्जंी मण्डी जो कि वर्तमान में कृषि उपज मण्डी प्रांगण झाबुआ में संचालित है, कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम एवं सामाजिक दूरी का पालन कराने के लिए थोक सब्जी मण्डी को ष्षासकीय पोलीटेक्निक महाविद्यालय झाबुआ में स्थानांतरित की गई है। अनुविभागीय दण्डाधिकारी डाॅ. अभयसिंह खराडी ने अवगत कराया कि सब्जी (खेरची) क्रेता, विक्रेता षासकीय पाॅलीटेक्निक कालेज परिसर से खरीदकर ठेलागाडी, पिकअप वाहन लोडिंग रिक्षा आदि से ष्षहर, ग्रामीण में निधरित स्थान के लिए जिला प्रषासन झाबुआ द्वारा जारी किये गये अधिकृत पास के अनुसार ही वार्ड में विक्रय कर सकेगे।

रामा में कन्ट्रोल रूम स्थापित

झाबुआ। तहसीलदार रामा द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए तहसील कार्यालय रामा में कन्ट्रोल रूम स्थापित किया गया है। इस कन्ट्रोल रूम का मोबाईल नं. 7587982109 है। इस कन्ट्रोल रूम के प्रभारी, राजस्व निरीक्षक श्री केषरसिंह हाडा रहेगे। इस कन्ट्रोल रूम में छः पटवारीयों की ड्यूटी अलग- अलग समय के लिए लगाई गई है। 

कृषको तथा अनुज्ञप्तिधारी व्यापारियो से अपील

झाबुआ। अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) एवं भार साधक अधिकारी कृषि उपज मण्डी समिति झाबुआ डाॅ. अभयसिंह खराडी ने मण्डी क्षेत्र झाबुआ के कृषकों तथा अनुज्ञप्तिधारी व्यापारी कृषि उपज मण्डी समिति को सूचित किया है कि वह अपनी अधिसूचित कृषि उपजों के मूल्य में आपसी सहमति होने पर क्रय-विक्रय कर सकते है। जिसका सौदा पत्र मण्डी समिति झाबुआ द्वारा जारी किया जावेगा। कृषि उपज विक्रय का भुगतान तत्काल करने के निर्देष दिए गए है। कोरोना वायरस के बचाव के लिए सोषल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य रूप से करना होगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...