कोटा से जमशेदपुर लौटे 9 छात्र, किया गया होम क्वॉरेंटाइन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 30 अप्रैल 2020

कोटा से जमशेदपुर लौटे 9 छात्र, किया गया होम क्वॉरेंटाइन

राजस्थान के कोटा में फंसे जमशेदपुर के छात्र अब घर वापसी कर रहे हैं. फिलहाल लौटे सभी छात्रों की जांच की जा रही है और उन्हें क्वॉरेंटाइन में रहने की सलाह दी गई है. 
kota-student-quarentine-in-jamshedpur
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता): कोटा में पढ़ रहे छात्र-छात्राओं का आना शुरू हो गया है. प्रशासन ने अलग-अलग जिले के चेकपोस्ट से 9 छात्रों को थर्मल स्कैनिंग कर होम क्वॉरेंटाइन में रहने की सलाह दी है. तीन छात्रों को पारडीह चेकपोस्ट के पास और 6 छात्रों को बिष्टूपूर थाना के खरखाई पुल के पास रोका गया था. जानकारी के अनुसार, बुधवार की रात राजस्थान के नंबर की एक इनोवा कार को बिष्टूपूर स्थित खरखाई पुल चेकपोस्ट के पास शहर में प्रवेश करते समय रोका गया. उस कार में चालक सहित एक महिला और उनकी दो बेटियां सवार थी. पूछताछ में उनलोगों ने बताया कि वे लोग राजस्थान के कोटा से आ रहे हैं. जिसके बाद सभी को रोका गया और कंट्रोल रूम को सूचना दी गई. कुछ ही देर के बाद एक और कार वहां पर रूकी. वह कार भी कोटा से आ रही थी. उसमें सवार तीन छात्र भी शहर के विभिन्न जगहों के थे. तीनों से पूछताछ की गई. करीब एक घंटे के बाद सर्विलांस टीम पहुंची. जांच-पड़ताल के बाद किसी में भी कोरोना के कोई लक्षण नहीं दिखे. उसके बाद होम क्वारेंटाइन में रहने की सलाह देकर सभी को छोड़ दिया गया. मालूम हो कि शहर के कोटा में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं का आना शुरू हो गया है और तीन दिनों के अंदर पंद्रह से ज्यादा स्टूडेंट लौट चुके हैं.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...