मधुबनी : ओलावृष्टि से किसानों को हुई क्षति के लिए कांग्रेस ने की मुआवज़े की मांग - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 19 अप्रैल 2020

मधुबनी : ओलावृष्टि से किसानों को हुई क्षति के लिए कांग्रेस ने की मुआवज़े की मांग

madhubani-congress-demand-compensation-for-farmer
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) पिछले दिनों बेमौसम हुई बारिश ने किसानों की परेशानी बढ़ा दी है। 14, 15 और 17 अप्रैल को रात में ओलावृष्टि, आँधी, तूफान एवं बारिश की बौछारों ने किसानों की खेतो में लगी गेहुँ,दलहन,आम,लीची पूर्णतया बर्बाद कर दिया है। साथ ही गरीबो के फुस के घर पूर्णतया बर्बाद हो गए है। इस परिस्थिति में गरीब एवं मध्यमबर्ग के लोग बेसहारा हो गए हैं। खासकर मधुबनी जिला सहित सम्पूर्ण मिथिलांचल एवं बिहार का कमोबेश इसी प्रकार का स्तिथि है। मधुबनी कांग्रेस जिलाध्यक्ष शितलाम्बर झा ने माननीय प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री से किसानों की गेहूं ,दलहन,आम,लीची की फसल की क्षति पूर्ति के लिए प्रति एकड़ कम से कम 25 हजार रुपया एवं क्षतिग्रस्त हुए घरों को के मालिक को नया घर एवं 25 हजार रुपए मुआबजा देना की अपील की है। किसानों के जीवन बचाने के लिए कृषि ऋण अविलम्भ मांफ हो,साथ ही नई ऋण बिना सूद के कम से कम 5 लाख देने का प्रावधान हो। किसान सम्मान निधि पांच सौ रुपया को बढ़ा कर पांच हजार रुपया कम से कम होना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...