अमेरिका कोरोना वायरस महामारी के सबसे बुरे दौर से निकल चुका है : ट्रम्प - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 17 अप्रैल 2020

अमेरिका कोरोना वायरस महामारी के सबसे बुरे दौर से निकल चुका है : ट्रम्प

usa-out-from-corona-trouble-trump
वाशिंगटन, 16 अप्रैल, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि अमेरिका कोरोना वायरस महामारी के सबसे बुरे दौर से निकल चुका है और उन्होंने कुछ राज्यों को इस महीने से फिर से खोलने का अनुमान जताया। अभी तक 637,000 से अधिक अमेरिकी कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं और 30,826 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जो दुनिया के किसी भी देश में सर्वाधिक संख्या है। ट्रम्प ने कोरोना वायरस पर व्हाइट हाउस में अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों से कहा कि देश को फिर से खोलने पर नए दिशा निर्देश गवर्नरों से बात करने के बाद बृहस्पतिवार को घोषित किए जाएंगे। ट्रम्प प्रशासन ने दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था को खोलने के लिए पहले एक मई की संभावित तारीख तय की थी लेकिन राष्ट्रपति ने कहा कि कुछ राज्यों में उससे पहले ही हालात सामान्य हो सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘लड़ाई जारी है, लेकिन आंकड़े बताते हैं कि राष्ट्रीय स्तर पर हमने नए मामलों की अधिकतम संख्या को पार कर लिया है। उम्मीद करते हैं कि यह जारी रहेगा और हम प्रगति करते रहेंगे।’’ उन्होंने कहा कि इन उत्साहजनक घटनाक्रमों के कारण हम देश को फिर से खोलने की खातिर राज्यों के लिए दिशानिर्देश को अंतिम रूप देने के लिए बहुत मजबूत स्थिति में आ गए हैं। इन नए कदमों की घोषणा बृहस्पतिवार को की जाएगी। कोरोना वायरस पर व्हाइट हाउस के कार्य बल की सदस्य डॉ. डेबोरा ब्रिक्स ने कहा कि पिछले पांच या छह दिनों में देशभर में नए मामलों की संख्या में गिरावट आई है। उन्होंने कहा, ‘‘यह हमें तसल्ली देने वाला है। साथ ही हम जानते हैं कि अमेरिका भर में मृतकों और संक्रमितों की संख्या जारी रहेगी।’’  उन्होंने बताया कि नौ राज्यों में 1000 से कम मामले हैं और हर दिन 30 से कम नए मामले हैं। कैलिफोर्निया, वाशिंगटन और ओरेगोन जैसे राज्यों में कभी बुरा दौर नहीं आया क्योंकि वहां नए मामलों को कम करने के लिए लोगों ने काफी काम किया। उन्होंने बताया कि पहले न्यूयॉर्क शहर में सबसे ज्यादा मामले आ रहे थे और अब बोस्टन इलाके से मामले बढ़ रहे हैं।  डॉ. ब्रिक्स ने दोहराया कि यह अत्यधिक संक्रामक विषाणु है। सामाजिक सभाओं और एक साथ आने में हमेशा यह खतरा रहता है कि बिना लक्षण वाला व्यक्ति अनजाने में इस विषाणु को फैला सकता है। उन्होंने कहा, ‘‘कोई भी जानबूझकर विषाणु को नहीं फैलाता। हम जानते हैं कि अगर आप बीमार हैं तो आप घर में रहेंगे। राष्ट्रपति कार्यालय से जारी दिशा निर्देशों का पालन करते रहें। हम अमेरिकी लोगों के प्रयास की सराहना करते हैं।’’  दुनिया में सबसे अधिक मौतें अमेरिका में होने के बारे में पूछे जाने पर ट्रम्प ने आरोप लगाया कि अन्य देश अपनी मृत्यु दर के बारे में झूठ बोल रहे हैं। उन्होंने चीन का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘क्या कोई इनमें से कुछ देशों की संख्या पर वाकई यकीन करता है?’’  देश में इतनी मौतों और नुकसान को देखने को भयावह वक्त बताते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि अमेरिका में जो चिकित्सा और स्वास्थ्य देखभाल प्रगति की है, वह जारी रहेगी। अमेरिका ने दुनिया के किसी भी देश के मुकाबले सबसे तेजी से और सटीक जांच प्रणाली विकसित की और वह 33 लाख से अधिक लोगों की जांच कर चुका है।  उन्होंने कहा, ‘‘अभी तक हमने कोरोना वायरस की 48 अलग-अलग जांचों को मंजूरी दी और एफडीए हमारी क्षमता को और बढ़ाने के लिए 300 कंपनियों तथा प्रयोगशालाओं के साथ काम कर रहा है।’’  ट्रम्प ने बताया कि उनका प्रशासन उपचार और इलाज विकसित करने पर काम कर रहा है। 

कोई टिप्पणी नहीं: