बिहार में किलर कोरोना से पांचवीं मौत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 8 मई 2020

बिहार में किलर कोरोना से पांचवीं मौत

किलर कोरोना के कहर से कोहराम मचना शुरू हो गया है। बिहार के 38 में से 33 जिलों में पांव पसार दिया है। धीरे -धीरे कोरोना संक्रमण के गिरफ्त में 567 लोग आ गये हैं।हालांकि 246 से अधिक लोग ठीक भी हुए हैं। अबतक मुंगेर, पूर्वी चम्पारण , वैशाली और सीतामढ़ी जिले से एक-एक व्यक्ति की हो मौत हो गयी है। कुल पांच लोग कोरोना काल कलवित हो गये....
5th-death-in-bihar-by-covid-19
पटना,8 मई । बिहार में अबतक पांच कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो चुकी है। सबसे पहले मुंगेर निवासी की मौत पटना के एम्स में हुई थी। दूसरी मौत वैशाली के 35 वर्षीय मरीज की हुई थी। वह एम्स में भर्ती थे। वह ब्रेन ट्यूमर के भी रोगी थे। तीसरी मौत पूर्वी चंपारण जिले के 54 साल के मरीज की हुई। वह एनएमसीएच में भर्ती थे। वह मुंह और गला के कैंसर से भी पीड़ित थे। चैथी मौत सीतामढ़ी के मरीज की हुई जो लंग्स कैंसर से पीड़ित थे।रोहतास में संक्रमित 70 साल के एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत हो गई। इस बुजुर्ग को गुरुवार को ही कोरोना पॉजिटिव पाया गया था जिसके बाद उनकी मौत हो गई। मृतक पहले से ही श्वास रोग से पीड़ित थे और वो इलाज के लिए नारायण मेडिकल कॉलेज जमुहार में भर्ती थे। मृतक रोहतास जिले के धौढाड़ गांव के निवासी बताए जाते हैं। यह पांचवी मौत है। बताते चले कि मुंगेर कोरोना संक्रमित एरिया में टॉप पर है। कुल 102 मरीज हैं। मुंगेर बिहार में कोरोना का सबसे बड़ा हॉट-स्पॉट बन गया है। राज्य में कोरोना की एंट्री भी मुंगेर से ही एक मौत के साथ हुई थी। 21 मार्च की सुबह पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में इलाज के दौरान एक युवक की मौत के बाद देर शाम पता चला कि वह कोरोना पॉजिटिव था। उसने अपना इलाज मुंगेर व पटना के कई और अस्पतालों में भी कराया था। स्वास्थ्य विभाग व प्रशासन ने मृतक के संपर्क में आए लोगों की पड़ताल कर उनके सैंपल जांच करा संक्रमित हुए लोगों का पता लगाया तथा उनका इलाज करा संक्रमण की चेन को तोड़ दिया। ऐसा लगा कि मुंगेर कोरोना फ्री हो रहा है, लेकिन फिर नए सिरे से मरीज मिलने लगे हैं।

कोरोना पॉजिटिव दूसरे मरीज की मौत पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में इलाज के दौरान हो गई। वह वैशाली जिले के राघोपुर का रहनेवाला 35 साल का युवक था।वह कई दिनों से बीमार था। इस दौरान वह कई बार वैशाली से इलाज और जांच के लिए पटना आया था। कोरोना के संदेह में उसे अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया था। डॉक्टरों के मुताबिक उसे टायफायड के साथ सांस लेने में परेशानी थी। वेंटिलेटर पर रखकर उसका सैंपल जांच के लिए भेजा गया था। 15 अप्रैल को उसकी रिपोर्ट आई, जिसमें कोरोना की पुष्टि हुई। खास बात यह है कि उसकी कोई ट्रैवेल हिस्ट्री नहीं रही है। चिंता की बात यह है कि उसे कहां और कैसे संक्रमण लगा, इसका पता अभी तक नहीं चला है।  पूर्वी पश्चिमी जिले के कोरोना पॉजिटिव व कैंसर पीड़ित वृद्ध की पटना में इलाज के दौरान  मौत हो गयी। यह जिले में कोरोना पॉजिटिव की मौत का पहला मामला है। वह बंजरिया प्रखंड में पाए गए तीन कोरोना पॉजिटिव मरीजों में शामिल था। वह मुंबई से 22 अप्रैल को इलाज कराकर घर लौटा था। उसे 26 अप्रैल को कैंसर पीड़ित होने के कारण पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया था। मौत की पुष्टि सिविल सर्जन डॉ. रिजवान अहमद ने की। शव को पटना से लाया जा रहा है। जिसे प्रशासन की देख-रेख में दफनाया जाएगा। विदित हो कि बंजरिया के दो अन्य व अरेराज के कोरोना पॉजिटिव को मोतिहारी के डायट भवन स्थित कोरोना सेंटर में रखा गया है। इधर, यहां से भेजे गए 166 लोगों के ब्लड सैंपल में 58 की रिपोर्ट आयी है, जो सभी निगेटिव है। वहीं यहां क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती करीब दो दर्जन लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। कोरोना से बिहार में शनिवार को चैथी मौत हो गई है। कोरोना पॉजिटिव मरीज सीतामढ़ी का था और उसकी उम्र 45 वर्ष थी। यह व्यक्ति लंग्स कैंसर का मरीज था जो मुंबई के टाटा मेमोरियल अस्पताल से इलाज के बाद सीतामढ़ी लौटा था। वह पटना के एनएमसीएच में 30.4.2020 को एडमिट हुआ था, जिसके बाद इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

बिहार में शनिवार को कोरोना के 15 नए केस सामने आए। इसके साथ ही राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 481 हो गई है। शनिवार को एनएमसीएच में एक मरीज की भी मौत हो गई। इससे राज्य में कोरोना से मौत की संख्या भी बढ़कर तीन हो गई है। एनएमसीएच में 45 साल के एक शख्स की मौत हो गई, जो लंग्स कैंसर के मरीज थे। 28 अप्रैल को वो मुंबई से सीतामढ़ी लौटे थे। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार के मुताबिक कटिहार जिला भी कोरोना की चपेट में आ चुका है। कल वहां से दो नए मरीज मिले हैं। बिहार में 45 वर्षीय एक व्यक्ति की शनिवार को कोविड-19 संक्रमण से मौत हो गई, जिसके बाद राज्य में इस संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा चार पर पहुंच गया। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने कहा कि सीतामढ़ी जिले का निवासी यह व्यक्ति अंतिम चरण वाले फेफड़े के कैंसर से पीड़ित था और हृदयाघात से उसकी मृत्यु हो गई। अधिकारी ने कहा कि वह कैंसर के इलाज के लिए हाल ही में मुंबई गए था और 28 अप्रैल को सीतामढ़ी लौटा था। रोहतास में कोरोना वायरस संक्रमित 70 साल के एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत हो गई।  इस बुजुर्ग को गुरुवार को ही कोरोना पॉजिटिव पाया गया था जिसके बाद उनकी मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक मृतक पहले से ही श्वास रोग से पीड़ित थे और वो इलाज के लिए नारायण मेडिकल कॉलेज जमुहार में भर्ती थे. मृतक रोहतास जिले के धौढाड़ गांव के निवासी बताए जाते हैं। कोरोना वायरस से पांचवीं मौत रोहतास जिले में हो गई। पिछले मामलों की तरह इस बार भी मरीज की मौत के बाद उनकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। इससे पहले राज्य में चार लोगों की कोरोना वायरस की वजह से जान चली गई , सभी गंभीर बीमारी से ग्रसित थे। पूर्व में एक मुंगेर जिले के युवक, फिर वैशाली, पूर्वी चंपारण के बाद सीतामढ़ी के एक मरीज की मौत हुई थी।

बिहार में कब-कब हुई कोरोना मरीजों की मौत
-बिहार में कोरोना से पहली मौत 22 मार्च को पटना के एम्स में हुई थी। मृतक मुंगेर के थे जो खाड़ी देश से लौटे थे और उन्हें किडनी की बीमारी थी।
-कोरोना से दूसरी मौत वैशाली के 35 वर्षीय मरीज की हुई थी। वह एम्स में भर्ती थे और ब्रेन ट्यूमर के मरीज थे।
 -कोरोना से बिहार में तीसरी मौत पूर्वी चंपारण जिले के 54 साल के मरीज की हुई। वह एनएमसीएच में भर्ती थे और मुंह व गला के कैंसर से भी पीड़ित थे।
-वहीं, चौथी मौत दो मई को पटना के एनएमसीएच में हुई थी। मृतक सीतामढ़ी के थे और उन्हें 30 अप्रैल को एनएमसीएच में भर्ती किया गया था। वह लंग्स कैंसर के भी मरीज थे।
-पांचवीं मौत 07.05.2020 रोहतास में हुई है।

कोई टिप्पणी नहीं: