जमशेदपुर: वैश्विक महामारी को दूर करने साधु कर रहे यज्ञ, हठयोग का ले रहे सहारा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 6 मई 2020

जमशेदपुर: वैश्विक महामारी को दूर करने साधु कर रहे यज्ञ, हठयोग का ले रहे सहारा

जमशेदपुर में आधा दर्जन अघोर और नागा साधुओं ने यज्ञ का आयोजन किया है. साधुओं का कहना है कि कठोर तप के माध्यम से इस वैश्विक संकट से जरूर राहत मिलेगी. यज्ञ 1 जून तक जारी रहेगा.
hath-yog-for-jamshedpur
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता)  कोरोना महामारी जैसे वैश्विक संकट को दूर करने के लिए जिले में अघोर और नागा साधुओं ने हठयोग का सहारा लिया है. सोनारी स्थित भूतनाथ मंदिर में यज्ञ का आयोजन किया गया है. यहां अयोध्या और बनारस से आए संयासी हठयोग कर तपस्या कर रहे हैं. इनके तप के मुताबिक अघोर बाबा का कहना है कि इस पूजा के माध्यम से कोरोना वायरस से पूरी दुनिया मुक्त हो जाएगी. साधुओं के अनुसार शास्त्रों में इस तरह की महामारी को दूर करने के लिए वातावरण को शुद्ध करने का उपाय बताया गया है. कठोर तप के माध्यम से यह साधु वातावरण में फैले विकार को दूर करने को लेकर तप कर रहे हैं. इनका मानना है कि ऐसा करने से वैश्विक संकट के इस काल से जरूर राहत मिलेगी. बता दें कि मंदिर के चारों तरफ से अग्नि प्रज्वलित कर साधु तपस्या में लीन हैं. वैसे यह तपस्या 1 जून तक चलेगी और उसके बाद बनारस पहुंचकर ये सभी साधु गंगा स्नान करेंगे. आधा दर्जन साधु इस हठयोग में लगे हैं, जो अपने आप में एक नया कार्य है. वहीं, सोशल डिस्टेंसिंग का भी भरपूर ख्याल रखा जा रहा है ताकि कोरोना वायरस से लोगों को निजात मिल सके

कोई टिप्पणी नहीं: