जमशेदपुर : झारखंड-ओड़िशा बॉर्डर पर नहीं है थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 8 मई 2020

जमशेदपुर : झारखंड-ओड़िशा बॉर्डर पर नहीं है थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था

  • चेक पोस्ट पर कर्मी जान जोखिम में डाल कर रहे ड्यूटी

कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम को लेकर पश्चिम सिंहभूम जिला प्रशासन के द्वारा झारखंड ओड़िशा इंटरस्टेट चेक पोस्ट जराईकेला में बनाया गया है, लेकिन इस चेक पोस्ट पर आना-जाना करने वाले लोगों को जांच करने के लिए कोई भी सुरक्षा के उपकरण नजर नहीं आते हैं.
no-screening-on-jharkhand-odisa-border
चाईबासा (आर्यावर्त संवाददाता) इंटरस्टेट चेक पोस्ट से मात्र 15 किलोमीटर दूर स्थित ओड़िशा के बिसरा थाना क्षेत्र में कोरोना के मरीज पाए गए हैं. ओड़िशा सरकार ने इस क्षेत्र को पूरी तरह सील कर रखा है. झारखंड के सीमावर्ती राज्य ओड़िशा के बिसरा थाना क्षेत्र में कोरोना संक्रमित मरीज पाए जाने से झारखंड के जराइकेला और मनोहरपुर थाना क्षेत्र सहित पश्चिम सिंहभूम जिले में कोरोना को लेकर खतरा बढ़ गया है. ओड़िशा के मिश्रा थाना क्षेत्र में कोरोना के मरीज की संख्या में बढ़ोतरी की सूचना के बाद जराइकेला में स्थापित इंटरेस्ट चेक पोस्ट पर पुलिस प्रशासन ने चौकसी बढ़ा दी है. हैरत की बात तो यह है कि पश्चिम सिंहभूम जिले के जराईकेला इंटरस्टेट चेक पोस्ट पर सुरक्षा के जांच उपकरण उपलब्ध नहीं है. इसे लेकर पश्चिम सिंहभूम पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. इंटरस्टेट चेक पोस्ट पर और वहां से गुजरने वाले वाहनों, राहगीरों पर कड़ी निगाह रखे जाने के बावजूद ओड़िशा के बिसरा और राउरकेला से छोटे-बड़े वाहन क्षेत्र की कच्ची सड़क से मनोहरपुर के साथ-साथ आसपास के क्षेत्रों में बेरोकटोक आने-जाने लगे हैं. मनोहरपुर से ओड़िशा के बिसरा और राउरकेला आने-जाने को एक मुख्य सड़क मार्ग लाईलोर जराईकेला होते हुए ओड़िशा के बिसरा, राउरकेला का है. इसी रास्ते पर जराइकेला रेलवे फाटक के पास प्रशासन द्वारा लॉकडाउन के मद्देनजर अस्थाई चेक पोस्ट स्थापित किया गया है. ओड़िशा के बिसरा में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद सीमावर्ती झारखंड राज्य के मनोहरपुर में खतरे की आशंका बढ़ गई है. ओड़िशा से सटे झारखंड के जराइकेला में लगाए गए इंटरसिटी चेक पोस्ट पर थर्मल स्क्रीनिंग तक की व्यवस्था नहीं है. चेक पोस्ट पर कोई मेडिकल टीम भी नहीं रहती है, जिससे इंटर स्टेट में आने जाने वाले लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग के जरिए उनकी जांच की जा सके. पश्चिम सिंहभूम जिला प्रशासन के द्वारा इंटरस्टेट चेक पोस्ट पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी के अलावा पुलिस पदाधिकारी और पुलिस बल मौजूद रहते हैं. चेक पोस्ट पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी आजाद बताते हैं कि जिला प्रशासन के आदेशानुसार उन्हें इंटरस्टेट चेक पोस्ट से आने जाने वाले लोगों का अनुमति पत्र देखकर आने जाने देना है. उन लोगों के जांच के लिए थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था नहीं दी गई है. उन्हें भी करोना संक्रमण होने का भय सताते रहता है लेकिन मजबूरी है कि प्रशासन की ओर से मास्क, हैंड सेनिटाइजर आदि सुरक्षा उपकरण उपलब्ध नहीं कराए गए हैं. हालांकि चेक पोस्ट पर कड़ाई से जांच पड़ताल की जाती है, उसके बाद ही लोगों को उनके गंतव्य स्थानों के लिए जाने दिया जाता है.

कोई टिप्पणी नहीं: