लॉकडाउन में घर बैठें 1 रुपये में करें ऑनलाइन कोर्स, टाटा स्टील दे रहा ऑफर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 3 मई 2020

लॉकडाउन में घर बैठें 1 रुपये में करें ऑनलाइन कोर्स, टाटा स्टील दे रहा ऑफर

टाटा स्टील ने लॉकडाउन के दौरान उपलब्ध समय का लाभ उठाते हुए प्रासंगिक विषयों पर अपने ज्ञान को उन्नत करने के लिए विद्यार्थियों और कामकाजी पेशेवरों की मदद करने के उद्देश्य से एक पहल की है. इस पहल के तहत अलग-अलग विषयों पर कुल 27 ई-लर्निंग कोर्स की पेशकश की गई थी. जबकि ई-लर्निंग मॉडयूल को होस्ट करने वाले पोर्टल ने 3.6 लाख से अधिक यूजर्स दर्ज किए तो दूसरी ओर 8 लाख से अधिक कोर्स लाइसेंस भी जारी किए गए हैं.
tata-steel-offer
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता)  इस संबंध में टाटा स्टील के कैपबिलिटी डेवलपमेंट के चीफ प्रकाश सिंह ने बताया कि वर्तमान कोविड-19 के समय युवा विद्यार्थियों और कामकाजी पेशेवरों की मदद करने के उद्देश्य से यह शुरू किया गया है. इसी संदर्भ में उन्होंने सीखने और विकास के एक इकोसिस्टम को सक्षम करने के लिए ई-लर्निंग पहल की शुरुआत की है. जो एक कुशल और सक्षम कार्यबल बनाने की प्रक्रिया को मजबूत करेगा. वह इस पहल पर जबरदस्त सकारात्मक प्रतिक्रिया पाकर बहुत खुश हैं. उन्होंने कहा कि वह युवा भारत को भविष्य के लिए तैयार करने में सक्षम बनाने के लिए अपना प्रयास जारी रखेंगे. बता दें कि युवाओं को उद्योग और फ्यूचर के लिए सक्षम बनाने के लक्ष्य को ध्यान में रखकर टाटा स्टील की लर्निंग एंड डेवलपमेंट शाखा कैपेबिलिटी डेवलपमेंट डिपार्टमेंट में ई-लर्निंग कोर्स को तैयार किया है. 1 रुपये प्रति कोर्स की लागत पर कोर्स उपलब्ध कराए गए हैं. ई-लर्निंग कोर्स में विभिन्न तकनीकी विषय जैसे मैकेनिकल इलेक्ट्रिकल और मेटलर्जी से लेकर वर्तमान औद्योगिक रुझान जैसे इंडस्ट्री 4.0, टोटल क्वालिटी मैनेजमेंट और मशीन लर्निंग आदि शामिल हैं. इसके अलावा, स्मार्ट क्लास और वेबिनार के माध्यम से प्रासंगिक तकनीकी और प्रायोगिक विषयों पर भी सीखने के सत्र उपलब्ध कराए गए हैं.

कोई टिप्पणी नहीं: