मधुबनी : मुख्यमंत्री ने किया गया राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल का शिलान्यास - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 6 जून 2020

मधुबनी : मुख्यमंत्री ने किया गया राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल का शिलान्यास

cm-inaugrate-jhanjharpur-medical-college
मधुबनी 06, जून (आर्यावर्त संवाददाता) मुख्यमंत्री, बिहार के द्वारा विडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शनिवार को झंझारपुर अनुमंडल मुख्यालय परिसर स्थित राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल का शिलान्यास-सह-कायांरंभ किया गया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री, बिहार ने कहा कि मधुबनी में पूर्व से ही एक निजी मेडिकल काॅलेज कार्यरत है। इसी कड़ी में जिले में एक सरकारी काॅलेज भी जुड़ गया है। इसे जिले के लिए ऐतिहासिक उपलब्धि बताया और उन्होंने कहा कि भविष्य में लोगो को इलाज के लिए अन्य जगह जाने कि आवश्यकता नहीं होगी।सूबे के मुखिया ने कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के अलावे अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के रूप में विकसित करने का कार्य किया जायेगा। साथ ही प्राथमिक चिकित्सा केन्द्र के लिए जमीन यदि उपलब्ध नहीं हो रहा है, तो सरकार का उदेश्य है कि जो व्यक्ति जमीन दान स्वरूप देगा, उनके नाम पर ही प्राथमिक चिकित्सा केन्द्र का निर्माण किया जायेगा। साथ ही उन्होंने बताया कि वत्र्तमान में प्रत्येक दिन प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर लगभग 10,000 लोग ईलाज करवाते है। स्वास्थ्य मंत्री, बिहार ने कहा कि वत्र्तमान में 17 मेडिकल काॅलेज है, इसे अगले पांच वर्षो में 28 करने का लक्ष्य है। राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल झंझारपुर का निर्माण कार्य केन्द्र प्रायोजित योजना अंतर्गत अनुमंडल मुख्यालय परिसर में 22 एकड़ भूखंड पर 515 करोड़ रूपये की लागत (केन्द्रांश 150 करोड़ रूपये एवं राज्यांश 365 करोड़ रूपये) से प्रारंभ किया जा रहा है। इस परियोजना में मुख्यतः तीन प्रकार के भवनों यथा शैक्षणिक भवन, अस्पताल भवन एवं आवासीय भवन का निर्माण कराया जाना प्रस्तावित है। साथ ही सभी प्रकार के आवश्यक मेडिकल उपकरण की आपूत्र्ति भी सुनिश्चित की जाएगी। शैक्षणिक भवन का निर्माण कार्य प्रति वर्ष 100 नामांकन के भारतीय चिकित्सा परिषद (एम0सी0आई0) के मानक के अनुसार कराया जाना प्रस्तावित है, जिसमें प्रषासनिक भवन, विभिन्न विभागीय भवन, लेक्चर थियेटर, केन्द्रीय पुस्तकालय, परीक्षा भवन, प्रयोगशाला इत्यादि का प्रावधान किया गया है। इस परियोजना हेतु चिकित्सा महाविद्यालय के साथ 500 बेड के अस्पताल का निर्माण भी प्रस्तावित है, जिसमें विभिन्न प्रकार के बीमारियों के ईलाज हेतु आधुनिक चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। अस्पताल में ओ0पी0डी0 आधुनिक आकस्मिकी, आई0सी0यू0 लेबर रूम, माॅड्यूलर ऑपरेशन थियेटर, ब्लड बैंक, रेडियोलाॅजी एवं पैथोलाॅजी जाॅच की सुविधा का भी प्रावधान किया गया हैै। अस्पताल में आधुनिक धोबीघर, रसोई घर, दवा भंडार एवं वितरण कक्ष, सी0एस0एस0डी0 एवं मेडिकल गैस पाईपलाईन की व्यवस्था की गई है। अस्पताल भवन को भूकंपरोधी बनाने के उदेश्य से बेस आईसोलेशन तकनीक का प्रावधान किया गया है। चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल में शिक्षा प्राप्त करने वाले सभी छात्र एवं छात्राओं हेतु छात्रावास तथा एम0सी0आई0 के मानदंड के अनुरूप संकाय एवं स्टाफ हेतु आवासीय भवन का निर्माण कार्य प्रस्तावित है। मरीजों के परिजन हेतु 100 बेड के धर्मशाला का भी निर्माण कार्य कराया जाना प्रस्तावित है। इस परियोजना को कुल 36 माह में पूर्ण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस अवसर पर विडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से श्री सुशील कुमार मोदी, माननीय उपमुख्यमंत्री, बिहार, श्री मंगल पांडेय, माननीय स्वास्थय मंत्री, बिहार, श्री विनोद नारायण झा, माननीय मंत्री, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग, बिहार, श्री संजय झा, माननीय मंत्री, जल संसाधन विभाग, बिहार, श्री लक्ष्मेश्वर राय, माननीय मंत्री, आपदा प्रबंधन विभाग, बिहार, श्री दीपक कुमार, मुख्य सचिव, बिहार, श्री चंचल कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव समेत अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे। वहीं कार्यक्रम स्थल पर श्री रामप्रीत मंडल, माननीय सांसद, झंझारपुर, श्री सुमन कुमार महासेठ, माननीय विधान पार्षद, मधुबनी, श्री गुलाब यादव, माननीय विधायक, झंझारपुर, श्री सुधांशु शेखर, माननीय विधायक, हरलाखी, डाॅ0 निलेश रामचन्द्र देवरे, जिलाधिकारी, मधुबनी, डाॅ0 सत्यप्रकाश, पुलिस अधीक्षक, मधुबनी, श्री शैलेश कुमार चौधरी, अनुमंडल पदाधिकारी, झंझारपुर, श्री बुद्धप्रकाश, प्रभारी पदाधिकारी, आपदा प्रबंधन शाखा, मधुबनी, श्री विकाश कुमार, वरीय उप समाहत्र्ता-सह-प्रखंड विकास पदाधिकारी, झंझारपुर, श्री कन्हैयालाल, अंचल अधिकारी, झंझारपुर समेत अन्य पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...