झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 01 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 1 जून 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 01 जून

कैसे बुझेगी प्यास : ग्राम पंचायत दोलतपुरा मे पंाच वर्ष के बाद भी सार्वजनिक कुए का निर्माण अधुरा, जनसुनवाई मे भी नही हुई सुनवाई

jhabua news
पारा ; अनिल श्रीवास्तव द्ध समिपस्थ ग्राम पंचायत दोलतपुरा के बोरी रोड स्थित हनुमान मंदिर के पास ग्राम वासीयो कि प्यास बुझाने के लिए सार्वजनिक कुए का निर्माण ग्राम पंचायत द्वारा करवाया जा रहा हे। पांच वर्ष बित जाने के बाद भी सार्वजनिक कुआ आज भी अधुरा हे। सिर्फ 7-8 फिट गहरे कुए मे भीषण गर्मी आज भी पानी हे।  किन्तु पुर्ण निर्माण कि सुध लेने वाला कोई नही । ग्राम पंचायत दोलतपुरा के  बोरी रोड स्थित हनुमान मंदिर के पास ग्रामीणो कि पेयजल समस्या  को दुर करने व ग्रामीणो कि मांग पर वर्ष 2014-15 मे एक सार्वजनिक कुए का निर्माण जिला प्रशासन कि स्विकृति से आरंभ किया गया। जिससे के आमजन कि प्यास बुझाई जासके। 2 लाख 70 हजार कि लागत से बनने वाले इस कुए कि निर्माण एंजेसी ग्राम पंचायत दोलतपुरा थी। करिब 5 वर्ष बित जाने के बाद भी उक्त कुए का निर्माण कार्य अधुरा ही हे। ग्राम पंचायत ने निर्माणकार्य आरंभ कर करिब 7-8 फिट कि खुदाई करवाई । कुए कि गहराई कम होने बाद भी कुए पानी निकल आया जो कि भीषण गर्मी मे जहां गाव के अधिकांश कुए सुख गए वही यह कुआ अभी भी तीन चार फिट भरा हुआ ग्रामीणो को पानी दे रहा है। ग्रामीणो ने बताया कि इस कुए मे वर्ष भर पानी रहता हे। किन्तु पंचायत ने आडर स्टिमेट के अनुसार कुए को ओर ज्यादा गहरा नही करते हुए कुछ दिनो के बाद खुदाई का कार्य बंद कर दिया गया जो कि आज भी बंद ही हे। ग्रामीणो ने सरपंच से कई बार कार्य पुरा करने के लिए कहा किन्तु कोरे आश्वासन के सिवाय कुछ नही मिला।

नही किया कुए का पक्का निर्माण-- प्रशासन के निर्देशानुसार कुए कि गहराई 15 फिट से ज्यादा होना चाहिए थी । बावजुद इसके 7-8 फिट गहरा करके खुदाई का कार्य बंद कर दिया गया। आर्डर स्टिमेट के अनुसार कए का पक्का निर्माण कार्य किया जाना चहिए था। बावजुद इसके कुआ अभीतक कच्चा ही हे व पुर्व मे किगई खुदाई का मलबा कुए मे गीर कर गहराई को को कम करता जा रहा हे। ग्रामीण जन कुए मे उतर कर कुए से पिने का पानी ला रहै।

जनसुनवाई मे नही हुई सुनवाई--सार्वजनिक कुए के निर्माण को ग्राम पंचायत दोलतपुरा द्वारा पुर्ण नही किए जाने पर जुवानसिह पिता सेकडीया चैहान ने अधुरे निमार्ण को पुर्ण करवाने के लिए कलेक्टर झाबुआ से दिनांक 4 जुन 2019 को जनसुनवाई मे  गुहार लगाई थी। जिसकी निराकरण कि तारीख कलेक्टर कार्यालय द्वारा 2 जुलाई 2019 दि गई थी। बावजुद इसके जन सुनवाई मे आवेदन देने के एक वर्ष बितने के बाद भी आज दिनांक तक न तो समस्या का निराकरण हुआ व न ही ग्राम पंचायत उक्त सार्वजनिक कुए का निमार्ण कार्य पुण करवाया। सुत्रो कि माने तो उक्त कुए के निमार्ण हेतु शासन द्वारा जारी कि गई रकम ग्राम पंचायत द्वारा पुरी ही निकाली जा चुकि हे।

दो सरपंच के बिच झुल रहा कुआं -- बताया जाता हे कि ग्राम दोलतपुरा के हनुमान मंदिर का सार्वजनिक कुआ देा सरपंच के बिच झुल रहा हे। सन 2014-15 मे जब यह कुआ स्विकृत हुआ था। तब दोलतपुरा पंचायत का सरपंच मगनसिह सोलंकि थै । कुए का निर्माण आरंभ होने के कुछ दिनो बाद पंचायत के चुनाव मे मगनसिह के पराजित होने के बाद पंचायत का कार्य भार श्रीमति अंतर बाई दिलीपसिह किराड के पास आगया। तभी से उक्त कुए का निर्माण कार्य उलझ गया। फिर भी यह जांच का विषय हे कि उक्त सार्वजनिक कुए का निर्माण पुरा नही होने के बावजुद भी कुए के निर्माण का पेसा पुरा निकल गया व अधिकारीयो मिलि भगत से अधुरे कुए पुर्ण निर्माण होने कि सीसी भी जारी होगई।

अधुरे कार्य की सीसी हुई जारी-- सुत्रो के अनुसार ग्राम पंचायत दोलतपुरा द्वारा बोरी रोड हनुमान मंदिर के समीप निर्माणधीन सार्वजनिक कुए की प्रशासन द्वारा निर्माण पुर्ण होनेकि सी सी जारी कर दी गई हे। जिसके चलते उक्त सार्वजनिक कुए के अधुरे निर्माण मे 2 लाख 70 हजार रुपए के भ्रष्टाचार कि भांग घुल गई हे। बताया जाता हे कि ब्लाक इंजिनियर ने अपसी सदभावना के चलते अधेरे निर्माणकार्य कि अन देखी करते हुए विभाग से सी सी जारी करवादी।

ये कहना हे इनका--उक्त मामला मेरे संज्ञान मे हे वस्तु स्थिती मामले कि फाईल खुलने के बाद ही पता चलेगी । अनियमीतता पाए जाने पर संबधित के विरुद्ध सख्त कारवाही कि जायेगी। - एम एल टांक जनपद पंचायत सी ई ओ रामा

ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार मूलक कार्य अधिक से अधिक संख्या में चलाये जावे। : कांतिलाल भूरिया

झाबुआ । कोराना महामारी के चलते इस समय अन्य राज्यों में पलायन कर गये मजदुर वापस अपने गृह ग्राम पहुंच गये है। वर्तमान में ग्रामीणों को रोजगार की अत्यन्त समस्या है। जिससे उनके परिवार के पालन पोषण करने में कठिनाईयां आ रही है। ऐसी स्थिति में तत्काल रोजगार मूलक कार्य अधिक से अधिक संख्या में प्रारंभ किये जावे।जल संवर्धन के कार्यो को प्राथमिकता दी जावे। यह बात झाबुआ विधायक कांतिलाल भूरिया ने माननीय मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान को अपने पत्र लिख कर मांग की है। उक्त जानकारी देते हुए युवक कांग्रेस अध्यक्ष विक्रान्त भूरिया एवं जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भटट बताया कि झाबुआ विधायक कांतिलाल भूरिया ने मुख्यमंत्री से पत्र लिख कर मांग की है कि ग्रामीण क्षेत्र में महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनान्तर्गत एवं अन्य शासन की योजना अन्तर्गत रोजगार मूलक कार्य ही चलाये जावे, जिसके अन्तर्गत जल संवर्धन के कार्य लिये जावे जैसे मेढ बधान,तालाब निर्माण,कपिल धारा कूप निर्माण तथा सार्वजनिक कूप निर्माण, सुदुर सडक निर्माण जैसे कार्य प्रारंभ कराये जावे। जिससे गांव के ही व्यक्तियों को रोजगार प्राप्त हो साथ ही यह भी अनुरोध है कि किसान के स्वयं के खेतों में मेढ बधांन जिससे खेतों की सुरक्षा होगी पानी का सग्रहण भी होगा, साथ ही खेत तालाब जैसी योजनाओं को भी प्राथमिकता दी जावे। मेढ बध्ंाान से जहां किसानों को अपने खेत सुधारने हेतु राशि प्राप्त होगी, जिससे उन्हे रोजगार प्राप्त होगा तथा खेतों में भी सुधार करने का मौका मिलेगा। श्री भूरिया ने मुख्यमंत्री से सुदुर सडक निर्माण भी ज्यादा से ज्यादा रोड निर्माण की भी मांग की है जिससे किसानों,गरीबों को रोजगार प्राप्त होगा साथ आने जाने में सुविधा होगी । इस सबंध में जिला कांग्रेस के अध्यक्ष निर्मल मेहता, शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौरव सक्सेना, जनपद अध्यक्ष शंकरसिंह भूरिया, मानसिंह मेडा, कार्यवाहक अध्यक्ष हेमचन्द्र डामोर, रूपसिंह डामोर, बन्टू अग्निहोत्री,आशिष भूरिया आदि ने भी ग्रामीण क्षेत्रों में ज्यादा से ज्यादा रोजगार मूलक कार्य चलाये जाने की मांग शासन से मांग की।

ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल समस्या को तत्काल निराकरण करे-कांतिलाल भूरिया

झाबुआ । वर्तमान में जिले में पेयजल की समस्या आ रही है जिससे ग्रामीण जन परेशान है । इस सबंध में कांतिलाल भूरिया विधायक झाबुआ द्वारा कलेक्टर प्रबल सिपाहा एवं कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी सेवा से ग्रामीण क्षेत्रों में बिना किसी भेदभाव के तत्काल हेण्डपंप खनन करने सबंधी निर्देश दिये है। साथ ही कार्यपालनयंत्री से चर्चा कर उन्हे निर्देष देते हुए बताया कि जहां पर पानी की अत्यन्त समस्या है वहां तत्काल प्राथमिकता से हेण्डपंप खनन करने सबंधी चर्चा की साथ ही जिन स्थानों पर पानी नीचे चला गया है वहां पर तत्काल पाईप बढाये जाने के भी मांग की है। श्री भूरिया ने यह भी अवगत कराया कि जिस स्थान पर नलजल योजना संचालित की जा रही है वहां भी जाकर पेयजल सबंधी समस्याओं का निराकरण करें तथा जहां नवीन नलजल योजना की स्वीकृति दी गई है उसकी गुणवत्ता पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है। श्री भूरिया ने इस सबंध में विभाग को जहां पानी की अत्यन्त समस्या है वहां की सूची भी उपलब्ध कराते हुए तत्काल हेण्डपंप खनन की मांग की है।

गा्रमीण बैक के सहायक प्रबंधक यतिन्द्र नवलखा की सेवा निवृत्ति पर दी बिदाई, यतीन्द्र भाई ने एक आदर्श प्रस्तुत किया’ 

jhabua news
झाबुआ ।  मिलन सारिता  के साथ ही हर व्यक्ति के कार्य को पूरी निष्ठा के साथ निर्लिप्त भाव से करने की  जिस व्यक्तित्व में नैसिर्गिक विशेषता होती है वह हर किसी की प्रसंशा पात्र बन जाता है। ऐसी ही एक सख्शियत का नाम है मध्यप्रदेश गा्रमीण बेंक आजाद चैक बा्रंच के सहायक प्रबंधक यतिन्द्र नवलखा जिन्होने अपने 34 साल के सेवा काल में बेदाग सेवाओं का निष्पादन करके झाबुआ सहित पूरे गा्रमीण अचंल में जो प्रसंशा अर्जित की है वह बिरले लोगों को ही मिलती है । यतिन्द्र नवलखा ने  1 जून 1984 से झाबुआ,धार गा्रमीण बेंक जो बाद में नर्मदा झाबुआ एवं वर्तमान में मध्यप्रदेष गा्रमीण बेंक के रूप  में पहचानी जाती है में 36 वर्षो तक बेंकिंग सेवायें देकर नगर के व्यापारीवर्ग, आम खातेदारों, के अलावा गा्रमीण अंचल से आने वाले गा्रमीणों के बेंकिंग कार्यो मेब डे ही सौम्य व्यवहार के साथ तथा तत्परता के साथ काम किया । 30 मई को उनकी सेवा निवृत्ति होने  पर  उन्हे बैंक परिवार की ओर से बिदाई दी गई । यतिन्द्र नवलखा हमेशा ही चेहरे पर मृदु मुस्कान के साथ बरसो ं से झाबुआ की इस बैंक में काम  करते हुए जन जन के प्रिय बन चुके थे । झल्लाहट या गुस्सा इनको कभी आया हो यह किसी के भी संज्ञान में नही है । गुड मोर्निग क्लब के सक्रिय एव फाउंडर सदस्य होने के नाते प्रातःकालीन भ्रमण के साथ योगासन एव  व्यायाम  मे भी निष्णात रहे है ।  बैंक प्रबंधन भी इनके कार्यो से काफी खुश रहा, कोई भी अधिकारी पदस्थ रहा हो सबने इनके कार्य करने के तरिकें एवं तत्परता के साथ काम करने की इनकी विशेषता के चलते पूरे सेवाकाल में कुछ समय के लिये रानापुर  कल्याणपुरा मे काम करने के अलावा पूरा समय इन्होने झाबुआ के मुख्य कार्यालय एवं शाखा कार्यालय मे रह कर अपने पदीय दायित्वो का निर्वाह किया है । बैक में कोई भी काम हो सभी यतिन्द्र भाई से मिलते ही उनका काम तत्परता से होता रहा है ।  30 मई को सेवा निवृति पर गा्रमीण बैंक परिवार की ओर से इन्हे भावभीनी बिदाई देते हुए इनके उत्कृष्ठ कार्यो की प्रसंशा करते हुए इन्हे अनुकणीय व्यक्तित्व बताया । गा्रमीण बैंक के श्री ओमप्रकाश पाटीदार, अकील त्रिवेदी, सुश्री लीना परमार, दीनकर त्रिवेदी, सुश्री ममता गामड आदि ने इन्हे सेवा निवृति पर  उनके द्वारा  की गई सेवाओं एवं व्यवहार की प्रसंशा करते हुए इनके कार्यकाल को सभी के लिये आदर्श बताया ।  गुड मार्निग क्लब के अध्यक्ष महेन्द्रकुमार शर्मा, अखिलेश मुलेवा, कमलेश पटेल, कमलेश शर्मा, राजेन्द्र सोनी, नीतिन भाई, योगेन्द्रभाई आदि ने भी इनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए सेवा निवृत्ति पर बधाई दी है ।                    

7500 परिवारों ने किया गृहे गृहे गायत्री यज्ञ कोरोना महामारी से मुक्ति के लिये गायत्री परिवार का आध्यात्मिक अभियान रहा सफल

jhabua news
झाबुआ ।  अखिल विश्व गायत्री परिवार शातिकुज हरिद्वार के आव्हान पर स्थानीय गायत्री शक्ति पीठ कोलज मार्ग झाबुआ  के पण्डित घनश्याम बैरागी एव श्रीमती नलीनी बैरागी के मार्गदर्शन मे  सम्पूर्ण जिले में गृहे गृहे गायत्री यज्ञ का  जिले भर मे 7500 से अधिक परिवारों द्वारा प्रातः 9 बजे से सायकाल 5 बजे तक  आयोजन करके शास्त्रोक्त विधि से अपने अपने घरों में श्रद्धा, भक्ति एव समर्पण भावना के साथ विश्व एवं भारत से कोरोना महामारी की मुक्ति के लिये हवन मे आहूतिया दी गई । श्रीमती नलिनी बैरागी ने जानकारी देते हुए बताया कि पूरे विश्व में 31 मई  रविवार को प्रातः 7 बजे से सायंकाल 5 बजे तक 15 करोड परिवारो में पृथक पृथक रूप  से गायत्री यज्ञ किया गया । श्रीमती बैरागी ने बताया कि  गृहे गृहे गायत्री यज्ञ में हर परिवार में पवित्रीकरण मंत्र के बाद चन्दन धारणम, रक्षा सूत्रम, गुरूपूजन, अग्नि स्थापना के साथ  भगवत स्मरण करते हुए गायत्री मंत्र ओम् भूर्भुवस्वः तत्सवितुवरेण्य३ण्ण् के साथ 24-24 आहूतिया यज्ञ सामग्री के साथ दी गई । इसके बाद ’’ औम त्रयम्बकम् यजामहे......माहमृत्युंजय महामत्र के साथ 5-5 आहूतिया यज्ञ मे अप्रित की गई । इस आयोजन में प्रत्येक परिवार के द्वारा मंत्रोच्चार के साथ आहूतियां देने का वृहद आयोजन पूरे जिले में इन घरों में पृथक पृथक एक साथ किया गया । इसी  कडी में  कोरोना निर्मूलन के लिये शास्त्रोक्त मंत्रों द्वारा तीन तीन आहूतिया  दी गई । एवं देव दक्षिणा पूर्णाहूति  मत्रोच्चार के साथ संपन्न हुई । तत्पश्चात विराजंन आरती , कर्पूर आरती के बाद शांतिपाठ किया गया । पूरे जिलेे मे अखिल विश्व गायत्री परिवार के आव्हान पर बडी सख्या मे श्रद्धालुओं द्वारा  लघु यज्ञ मे आहूतिया देकर कोराना मुक्ति के लिये प्रार्थना आराधना का अभिनव आयोजन किया गया । श्री घनश्याम बैरागी ने जानकारी देते हुए बताया कि झाबुआ जिले में शातिकुंज हरिद्वार द्वारा 2500 परिवारो मे गृहे गृहे गायत्री यज्ञ का लक्ष्य निर्धारित किया गया था जिसके विरूद्ध झाबुआ जिले मे ही  7500 से अधिक परिवारो द्वारा  यज्ञ मे आहूतिया दिये जाने का कीर्तिमान स्थापित किया गया है । उन्होने बताया कि झाबुआ नगर मे ही 2500 परिवारो ने, थांदला मे 1500, खवासा में 500, पेटलावद मे 1500, रानापुर 250 माण्डली नाथू मे 100,मेघनगर अंचल में 650 परिवारो द्वारा निर्धारित समय पर कोराना मुक्ति के लिये आहूतिया देकर कोरोना के निर्मूलन के लिये अनुष्ठान किये गये । श्रीमती नलिनी बैरागी ने बताया कि आज 1 जून को माता गायत्रीजी की जयन्ती का पावन दिवस होने  से इन समस्त परिवारो के साथ ही गायत्री शक्तिपीठो पर दीप यज्ञ होगा । जिसमे ंप्रत्येक परिवार द्वारा सायकाल 7 बजे अपने अपने घरो पर 5-5 दीपक प्रज्लित किये जावेगें तथा मां गायत्री की कृपा के लिये पूजा अर्चना वंदना की जावेगी ।

कोई टिप्पणी नहीं: