मधुबनी : व्यवहार न्यायालय के पूर्व जीपी श्री श्यामबिहारी राय के प्रतिमा का हुआ अनावरण - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 2 जून 2020

मधुबनी : व्यवहार न्यायालय के पूर्व जीपी श्री श्यामबिहारी राय के प्रतिमा का हुआ अनावरण

shyam-bihari-rai-statue-inaugrated
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता)  शहर के निकटतम चकदह में रविवार को मधुबनी नगर विधायक श्री समीर महासेठ के मुख्य आतिथ्य में मधुबनी व्यवहार न्यायालय के पूर्व जी पी स्व श्री श्यामबिहारी राय के आवास पर उनके मूर्ति का अनावरण हुआ। यह मूर्ति उनके धर्मपत्नी श्रीमती अजन्ता देवी के द्वारा उनकी स्मृति में प्रतिस्थापित किया गया है। ज्ञात हो कि श्री श्यामबिहारी राय जी ने अपने जीवन के 10 वर्ष जी पी के रूप में स्थानीय व्यवहार न्यायालय में अपना योगदान दिया और विगत  अक्टूबर 2018 में उनका देहावसान हुआ था। समारोह में मुख्य अतिथि,वर्तमान जी पी एवं पी पी ने संयुक्त रूप से फीता काटकर मूर्ति का अनावरण और माल्यार्पण भी किया। मुख्य अतिथि ने अपने सम्बोधन में कहा कि श्यामबिहारी बाबू का सोच हमेशा एक वृहत समाज बनाने का रहा है। हम पूरे परिवार के प्रति आभार व्यक्त करते हैं जिन्होंने इनकी प्रतिमा के साथ उन्हें हमारे बीच सदा जीवंत कर दिया। इस अवसर पर जिला व्यवहार न्यायालय के वर्तमान पी पी श्री राजेन्द्र राय ने अपने सम्बोधन में कहा कि श्री राय एक नेकदिल इंसान थे। उनका कार्यकाल काफी सराहनीय रहा है और अपने कार्यों के लिए सदा याद किये जायेंगे। साथ ही वर्तमान जी पी श्री वासुदेव झा ने अपने वक्तव्य में कहा कि श्यामबिहारी बाबू अपने कार्यकाल में कार्यों के समय मानवता का भी परिचय देते थे। समारोह में अतिथियों का स्वागत  उनके सुपुत्र श्री अरुण राय ने किया। इस अवसर पर ज़िला न्यायालय के अधिवक्ता शिवशंकर राय, रामनरेश राय, सन्तोष साहू, शिवलोचन राय, रामचन्द्र राय, सुरेश बैरोलिया, इंद्र भूषण रमण, सुपौत्र रंजीत राय, अभिषेक, रमेश, प्रभात, रौशन सहित इप्टा एवं परिवार के सदस्य उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: