विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 29 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 30 जून 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 29 जून

सफलता की कहानी : प्रवासी मजदूर को घर बैठे रोजगार मिला 

vidisha news
रोजगार की तलाश में राजस्थान के जयपुर शहर पहुंच गया था लॉकडाउन के बाद ठीक वैसा ही रोजगार अब मुझे अपने गांव बरखेडा नागिन में ही मिला है। यह कहना है प्रवासी मजदूर कदईराम अहिरवार का। परदेश में काम करने के दौरान कई प्रकार का भय बना रहता था। पर ऐसा भय अपने गांव में नही। घर परिवार के साथ रोजगार मिला है।  सिरोंज जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत ललितपुर के सरपंच श्री सोनू राजपूत ने ग्राम पंचायत से जितने भी मजदूरा वापिस आए है उन्हें उन ही गांव में विभिन्न शासकीय योजनाओं के तहत जारी निर्माण कार्यो में घर बैठे मजदूरी दिलाई गई है साथ ही कोविड-19 के बचाव के उपायों से अवगत कराते हुए अप्रवासी मजदूरो को मास्क सेनेटाइजर एवं राशन का वितरण नियमानुसार किया गया है। वही चिकित्सकों के द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है।  मजदूर कदईराम अहिरवार अपने पिता को स्वीकृत प्रधानमंत्री आवास योजना के निर्माण काम में मजदूरी कर रहे है। मजदूरी से उनकी रोज मर्रा की आवश्यकताओ की पूर्ति हो रही है। समय पर मजदूरी का भुगतान होने से घर बैठै रोजगार मिलने से ग्राम के सभी मजदूर प्रसन्नचित होकर जीवनयापन कर रहे है। 


निरस्त दावों का निराकरण प्राथमिकता से करें-कलेक्टर 

vidisha news
वन अधिकार अधिनियम के तहत निरस्त दावो का परीक्षण कर पात्र पाए गए अनुसूचित जनजाति वर्ग के हितग्राहियों को वन अधिकार पट्टे उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने सरकार के इस सर्वोच्च प्राथमिकता कार्य को शीघ्रतिशीघ्र दावो का परीक्षण कर सुपात्र हितग्राहियों को पट्टे उपलब्ध कराना है के निर्देश लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक में दिए।  कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि ग्राम स्तर से ग्रामसभा के माध्यम से प्राप्त दावो का परीक्षण करने के पश्चात् ऑन लाइन फीड करने तथा पात्र हितग्राहियों को लाभांवित करने के निर्देश पूर्व मेंं ही ग्राम पंचायत सचिव, पटवारी, वन रक्षक द्वारा इन दावो का परीक्षण किया गया है। ग्राम स्तरीय समिति से पारित होने के बाद परीक्षण कराए जा रहे है।  कलेक्टर डॉ जैन ने जिलाधिकारियों को सचेत करते हुए कहा कि आवश्यकता पडी तो पंचायत स्तर के लिए जिला स्तरीय अधिकारियों को नोडल का दायित्व सौंपा जा सकता है। सत्यापन कार्य इसी सप्ताह में पूरा किया जाना है।   कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि एक जुलाई से प्रदेशयापी अभियान किल कोरोना शुरू होगा। अभियान के तहत डोर-टू-डोर सर्वे करने के लिए टीमे गठित की गई है। टीमो के लिए सर्वे कार्य हेतु पैरामीटर निर्धारित किया गया है अर्थात घर-घर जाकर सर्वे टीम के सदस्य क्या जानकारी प्राप्त करेंगे और यदि चिन्हित लक्षणों में से यदि कोई सर्वे के दौरान किसी घर में पाया जाता है तो सर्विलेंस टीम को सूचित करेंगे। इसके पश्चात् यदि आवश्यकता के अनुसार संबंधित व्यक्ति का सेम्पल पृथक से गठित टीम के द्वारा लिया जाएगा। इस कार्य में किसी भी प्रकार की कोताही ना हो के निर्देश देते हुए उन्होंने स्वास्थ्य, महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को विभागीय अमले को प्रशिक्षित करने के निर्देश दिए है।  कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि मुख्यमंत्री जी की मंशा के अनुसार प्रदेश में कोरोना को समूल्य जड़ से नष्ट करने के लिए सोशल डिस्टेन्सिग का पालन करते हुए सर्वे कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता से पूरा कराया जाएगा। उन्होंने समस्त एसडीएमों को निर्देश दिए है कि अनुविभाग स्तर पर मंगलवार को बैठक आहूत कर शासन के दिशा निर्देशो से स्थानीय जनप्रतिनिधियों को भी अवगत कराए ताकि यह अभियान जन सामान्य का अभियान बन जाए।  लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि सर्वे टीम सार्थक एप पर तमाम जानकारियां दर्ज करेगी कि समीक्षा हर रोज करने के निर्देश उन्होंने एसडीएमों को दिए है।  कलेक्टर डॉ जैन ने सोयाबीन बीज का अंकुरण नही होने की शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए समस्त एसडीएमों को निर्देश दिए है कि पटवारियों से क्रास मानिटरिंग कर परीक्षण कराए और ऐसे बीज विक्रेता जिनके द्वारा प्रमाणित बीज विक्रय किया गया है और अंकुरित नही हुआ है उनके खिलाफ प्रकरण दर्ज किये जाएं।  कलेक्टर डॉ जैन ने ग्राम हिनोतिया माली नलजल योजना से अब तक 15 गांवो को लाभांवित किया गया है शेष गांव को शीघ्रतिशीघ्र करने के निर्देश दिए है। बैठक मेंं स्कूल शिक्षा, कृषि, ऊर्जा, पीएचई, पशुपालन, श्रम, पीआईयू, महिला एवं बाल विकास विभाग, आदिम जाति कल्याण विभाग, लोक निर्माण विभाग, जल संसाधन में लंबित आवेदनों की समीक्षा की है।  कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागृह में सम्पन्न हुई इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल के अलावा समस्त विभागों के जिलाधिकारी मौजूद थे। 

उद्योग स्थापित नही करने वालो के प्लाट निरस्त करें

कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज टीएल बैठक के दौरान जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के लंबित आवेदनों की समीक्षा दौरान औद्योगिक क्षेत्र कंजना बासौदा, में उद्योग स्थापित नही करने वालो के आवंटित प्लाट निरस्त करने के निर्देश विभाग के महाप्रबंधक श्री पीडी वंशकार को दिए है।  जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक श्री वंशकार ने बताया कि बासौदा अनुविभाग क्षेत्र में औद्योगिक विकसित क्षेत्र कंजना में उद्योग स्थापना हेतु कुल 139 प्लाट आवंटित किए गए है जिसमें से अब तक 14 उद्योग स्थापित हुए है जबकि 39 प्रगतिरत है शेष आवंटित प्लाटो पर उद्योग स्थापित नही करने वालो के प्लाट निरस्त करने की कार्यवाही प्र्रगतिरत है। 

मुख्यमंत्री कृषक जीवन कल्याण योजना के प्रकरण में मदद जारी

मुख्यमंत्री कृषक जीवन कल्याण योजना के एक प्रकरण में कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा चार लाख चार हजार रूपए की आर्थिक सहायता अनुदान स्वीकृत कर जारी कर दी है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा जारी आदेश में उल्लेख है कि नटेरन में कृषि कार्यो के दौरान करंट लगने से कृषक चरण सिंह की मृत्यु जो जाने पर मृतक की पत्नि श्रीमती रामश्रीबाई प्रजापति को चार लाख की सहायता व अन्त्येष्टि अनुदान चार हजार रूपए इस प्रकार कुल चार लाख चार हजार रूपए की सहायता जारी की गई है। 

दो प्रकरणों में मदद जारी

कलेक्टर एवं दावा निपटान आयुक्त डॉ पंकज जैन ने हिट एण्ड रन के दो प्रकरणों में आर्थिक मदद के आदेश जारी कर दिए है। जारी आदेश में उल्लेख है कि सड़क दुर्घटना में घायल होने पर संबंधित घायल को साढे बारह हजार रूपए प्रतिकर के रूप में मंजूर किए गए है जिन दो प्रकरणों में आर्थिक मदद जारी की गई है उनमें विदिशा तहसील में ग्राम छीरखेडा के मंजू सिंह तथा अरिहन्त बिहार कालोनी के श्री मिलन राठौर शामिल है। 

कलेक्टर द्वारा आज समीक्षा बैठके आहूत 

कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा 30 जून मंगलवार को नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागृह कक्ष में समीक्षा बैठके आहूत की गई है जारी कार्यक्रम के अनुसार दोपहर साढे बारह बजे से वन मण्डल अधिकारी एवं पावर ट्रांसमिशन कंपनी की बैठक तथा सायं पांच बजे से खनिज, वन एवं आदिम जाति कल्याण विभाग के माध्यम से क्रियान्वित योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक आहूत की गई है। 

मलेरिया बचाव के उपायों से अवगत हुए ग्रामीणजन

जिला मलेरिया अधिकारी श्री बीएम वरूण ने बताया कि जून माह में मलेरिया निरोधक गतिविधियों का आयोजन पूरे माह किया जाता है। विदिशा जिले में भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी निर्देशो के अनुपालन में सम्पूर्ण जून माह में विभिन्न गतिविधियों एवं कार्यक्रमों का आयोजन कर आमजनों को मलेरिया से बचाव के उपाय की विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई है। खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में जिले के चिन्हित 38 ग्राम जो मलेरिया से प्रभावित हुए थे इन ग्रामों में विशेष प्रचार प्रसार किया गया है। प्रचार रथ के माध्यम से ग्रामीणजनों को मलेरिया निरोधक की जानकारी देते हुए मच्छरजनित रोगो से बचाव के उपायों से अवगत कराया गया है इसके अलावा जिले के सभी विकासखण्ड मुख्यालय पर, सेक्टर स्तर पर, पंचायत स्तर पर, हाट बाजार में प्रचार रथ के माध्यम से जनजागरूकता का संदेश दिया गया है वही मलेरिया, डेंगू, चिकुनगुनिया से बचाव के उपायों पर आधारित पम्पलेट व साहित्य का वितरण किया गया है। 

स्पेशल फीवर स्केनिग केम्पेन 

एक जुलाई से 15 जुलाई तक जिले में स्पेशल फीवर स्केनिग केम्पेन किल कोरोना संचालित किया जाएगा। ततसंबंध में कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने समस्त अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों, बीएमओ, जनपदों के सीईओ तथा निकायो के अधिकारियों को निर्देश जारी किए है कि स्वास्थ्य संचालनालय द्वारा जारी परिपत्र के अनुपालन में कार्यवाही कर समुचित जानकारी सार्थक एप दर्ज कराई जाए।  कलेक्टर डॉ जैन ने इस अभियान में जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिकों की सहभागिता को अतिमहत्वपूर्ण बताते हुए बैठकों में आमंत्रित कर राज्य शासन द्वारा जारी दिशा निर्देशो की जानकारी दी जाए। जिले में किल कोरोना अभियान की शुरूआत जनप्रतिनिधियों, एनजीओ, सामाजिक कार्यकर्ताओं की सक्रिया सहभागिता अपेक्षित की गई है। इसके अतिरिक्त दल की आशा, आंगनबाडी कार्यकर्ता, पायलेट के रूप में गृह भेंट कर बुखार, डायरिया, गर्भवती माताओं तथा अन्य टीकाकरण से छूटे हुए बच्चों की जानकारियां प्राप्त करेंगी वही आवश्यकतानुसार एएनएम, एमपीडब्ल्यू, सुपरवाईजर एवं दल के अन्य सदस्य एसएआरआई/आईएलआई व अन्य प्रकरणों की जांच कर सार्थक एप पर दर्ज करेंगे। संभावित रोगी को स्वास्थ्य संस्थान एवं फीवर क्लीनिक में रेफर करेंगे। क्रमांक 195/अहरवाल

कोई टिप्पणी नहीं: