व्यापार में पारदर्शिता और विश्वास पर जोर दें सभी देश : भारत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 24 जुलाई 2020

व्यापार में पारदर्शिता और विश्वास पर जोर दें सभी देश : भारत

all-countries-should-emphasize-transparency-and-trust-in-trade-india
नयी दिल्ली 23 जुलाई, भारत ने आज कहा कि सभी देशों को अंतरराष्ट्रीय व्यापार में पारदर्शिता और विश्वास पर बल देना चाहिए तथा कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ से निपटने के लिए सभी व्यापार बाधाओं को दूर करना चाहिए। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने भारत, रूस, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका और चीन-ब्रिक्स देशों की दसवीं व्यापार मंत्री स्तरीय बैठक में भाग लेते हुए कहा कि विश्व व्यापार संगठन में बहु-स्तरीय व्यापार प्रणाली स्थापित करने पर बल देना चाहिए। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय व्यापार में पारदर्शिता आवश्यक है जिससे उत्पादों की गुणवत्ता और बाजार पहुंच सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने कहा कि सभी देशों को व्यापार में ऐसे उपाय करने चाहिए जिससे आपसी विश्वास हो सके। कोरोना महामारी के संकटों का उल्लेख करते हुए श्री गोयल ने कहा कि महामारी से निपटने के लिए दवाओं के बाजार में सभी बाधाओं को प्राथमिकता के आधार पर दूर करना चाहिए। इससे गरीबों और वंचितों को भी कोरोना महामारी के प्रकोप से बचाने में मदद मिलेगी। श्री गोयल ने कहा कि व्यापार के जरिए फिर विश्व अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाया जा सकता है। कोरोना वायरस के संकट ने यह तय कर दिया है कि सभी देशों को एक-दूसरे से सहयोग करना होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: