मधुबनी : दहेज लोभियों ने घर के बहू की कर दी हत्या - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 16 जुलाई 2020

मधुबनी : दहेज लोभियों ने घर के बहू की कर दी हत्या

bribe-killed-women-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) एक बार फिर दहेज लोभी ससुराल वालों ने दहेज के लालच में घर के बहू की हत्या कर दी। घटना पंडौल थाना क्षेत्र के सरिसब पाही पश्चिमी पंचायत की है। 26 वर्षीय रंजू देवी को उसके ससुराल वालों ने मिलकर महज तीन लाख रुपये के लिए गला दबाकर हत्या कर दी। उक्त घटना में मृतका की सास संजू देवी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अन्य नामजदों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। घटना के संबंध में मृतका के भाई झंझारपुर बेहट निवासी उपेंद्र मंडल की बेटे संजय मंडल के बयान पर कुल नौ नामजद और सात अज्ञात लोगों के विरुद्ध दहेज के लिए हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार झंझारपुर के लखनऊ थाना क्षेत्र के बेहट निवासी उपेंद्र मंडल ने अपनी बेटी रंजू देवी की शादी वर्ष 2013 में सरिसब पाही पश्चिमी निवासी दिलीप मंडल के बेटे चंदन मंडल के साथ धूमधाम से की थी। विवाह में अपने हैसियत से बढ़कर दान दहेज दिया था। लेकिन, विवाह में दिए गए आभूषणों व उपहारों से मृतका के ससुराल वाले संतुष्ट नहीं थे। वे बराबर नगद तीन लाख रुपये की मांग करते रहे। इसके लिए ससुराल वाले मिलकर रंजू को प्रताडि़त करने लगे। प्रताडऩा के बावजूद रंजू अपने पति चंदन के साथ रह रही थी। हालांकि वो कह रहे थे कि अपनी बेटी को ले जाइए वरना कुछ अनहोनी हो जाएगी। रंजू ने कई बार ससुराल वालों को अपने माता-पिता व भाइयों की आर्थिक विपन्नता के बारे में बताते हुए कहा भी कि मायके वाले अब इतनी भारी रकम देने में असमर्थ हैं। इसको लेकर 13 जुलाई को पंचायत भी बुलाई गई थी, जिसमें मृतका की अविवाहिता ननद खुश्बू कुमारी ने उसके मायके वालों को धमकी देते हुए कहा था, कि आप अपनी बेटी को ले जाइए वरना कुछ अनहोनी हो जाएगी। 14 जुलाई की देर शाम मृतका की ननद खुशबू कुमारी सास संजू देवी ,ससुर दिलीप मंडल समेत कुल नौ नामजद व सात अज्ञात लोगों ने मिलकर गला दबाकर हत्या कर दी। साथ ही आनन-फानन में लाश को जलाने की तैयारी में लग गए। इसी बीच किसी ने मृतका के मायके फोन करके घटना की जानकारी दे दी। सूचना मिलते ही वे लोग घटनास्थल पर पहुंचे और पंडौल थाना को सूचित किया। जब वे घटनास्थल पर पहुंचे तो लाश नीचे पड़ी थी और उसे कपड़ा से ढक दिया गया था। थानाध्यक्ष अनोज कुमार ने बताया कि मृतका के भाई संजय मंडल के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। मृतका की सास संजू देवी को हिरासत में ले लिया गया है। लाश को पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया गया है। उक्त घटना में मृतका के भाई ने मृतका के पति चंदन मंडल को अभियुक्त नहीं बनाया है। जबकि, वह अभी गांव में ही था उक्त घटना के बाद से मृतका के चार साल की बेटी इशु व दो वर्ष के बेटे रौनक का रो-रो कर बुरा हाल है। उक्त घटना के बाद से गांव में मातमी सन्नाटा फैला है।

कोई टिप्पणी नहीं: