बिहार : अब कोरोना को रखे आगे और ई-पीओएस मशीन का करने लगे हैं विरोध - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 31 जुलाई 2020

बिहार : अब कोरोना को रखे आगे और ई-पीओएस मशीन का करने लगे हैं विरोध

फेयर प्राइस डीलर्स एसोसिएशन के सभी डीलरों की जांच करायी जाए तो काफी संख्या में विक्रेता संक्रमित मिलेंगे। लाभुकों के अंगूठा प्रमाणीकरण से वितरण होगा तो विक्रेता एवं लाभुक दोनों में संक्रमण का फैलाव होगा। जिले के अधिकांश विक्रेता उम्र दराज हैं। संक्रमित होने पर उनको बचा पाना मुश्किल होगा....
fir-price-protest-corona
पटना। जन वितरण प्रणाली की दुकानों में राशन ई-पीओएस मशीन से दिये जाने की घोषणा सरकार ने की थी,जिसे 01अप्रैल,2017 से लागू कर दिया गया है। इस मशीन के जरिए कार्ड धारक के अंगूठे से मिलान करके खाद्यान्न दिया जा रहा है। बताते चले कि 31 मार्च तक सभी कार्ड धारकों को अपना आधार कार्ड और मोबाइल नंबर अपने राशन डीलर के यहां उपलब्ध कराना था ताकि ई-पीओएस मशीन में फीड किया जा सके। ऐसा नहीं करने वालों को राशन नहीं दिया जा रहा है। सरकार ने राशन की काला बाजारी रोकने के लिए विभागीय कार्रवाई के तहत ई-पीओएस प्रणाली लागू की है। अप्रैल में आधार कार्ड से मशीन के माध्यम से अंगूठे का मिलान कर खाद्यान्न का वितरण कार्डधारियों को किया जा रहा है। इसको लागू करने से जन वितरण प्रणाली की दुकानदार खफा हो गये। समय-समय पर फेयर प्राइस डीलर्स एसोसिएशन के बैनर तले आंदोलन कर मांग करते रहे। अब महामारी कोरोना काे आगे रखकर 10 अगस्त से अनिश्चितकालीन आंदोलन का करने का बिगुल फुक दिया गया है। फेयर प्राइस डीलर्स एसोसिएशन ने सरकार को 10 अगस्त से अनिश्चितकालीन हड़ताल करने का अल्टीमेटम दे रखा है। इस बात का निर्णय फेयर प्राइस डीलर्स के एसोसिएशन की बैठक में ली गयी।प्रदेश से लेकर जिला स्तर तक  ई-पीओएस मशीन को बंद करने की वकालत की जा रही है। जिला फेयर प्राइस डीलर एसोसिएशन के अध्यक्ष महेंद्र सिंह ने बताया कि एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष वरुण कुमार सिंह एवं महामंत्री कृष्ण कुमार सिंह के दिशा निर्देश में हमलोग अपनी आठ सूत्री मांगों को लेकर 10 अगस्त से अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे। 

 ई-पीओएस मशीन (पॉस मशीन) से अनाज नहीं बाटेंगे, सभी डीलरों ने अपनी-अपनी पॉस मशीन को संघ के प्रखंड अध्यक्ष विजय कुमार कुशवाहा के पास जमा कर दिया। विजय कुमार कुशवाहा ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने को लेकर राज्य सरकार फिर से लॉकडाउन जारी की है। उसके बावजूद डीलरों के माध्यम से पॉस मशीन से लाभुकों के अंगूठे से अनाज बांटा जा रहा है। पॉश मशीन पर फिलहाल रोक लगाने की मांग की गई है। जिले के जन वितरण प्रणाली के विक्रेता अगस्त महीने में अनाज उठाने के लिए चालान जमा नहीं करेंगे। आगामी 10 अगस्त से हड़ताल पर चले जाएंगे, यदि खाद्यान वितरण में पॉस मशीन का इस्तेमाल बंद करने का आदेश राज्य सरकार नहीं देती है। इसकी सूचना डीएम समेत अन्य को दे दी है। को-आपरेटिव अध्यक्ष संतोष कुमार सिंह की अध्यक्षता एवं कुटुंबा प्रखंड अध्यक्ष कुमार सिंह के संचालन में बैठक हुई। जिसमें संगठन के पदाधिकारी, प्रखंड अध्यक्ष उपस्थित रहे। सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि कोरोना जैसी महामारी में इनके साथ अन्याय हो रहा है। विक्रेताओं को पॉस मशीन पर उपभोक्ताओं का अंगूठा लगवा कर अनाज का वितरण करवाया जा रहा है, जबकि हर जिले से विक्रेताओं के संक्रमित होने की खबरें आने लगी हैं। एक प्रखंड के विक्रेता एवं उनके पुत्र तो दूसरे प्रखंड में एक विक्रेता एवं उनकी पत्नी कोरोना पॉजीटिव पाए गए। संघ का कहना है कि यदि सभी डीलरों की जांच करायी जाए तो काफी संख्या में विक्रेता संक्रमित मिलेंगे। लाभुकों के अंगूठा प्रमाणीकरण से वितरण होगा तो विक्रेता एवं लाभुक दोनों में संक्रमण का फैलाव होगा। जिले के अधिकांश विक्रेता उम्र दराज हैं। संक्रमित होने पर उनको बचा पाना मुश्किल होगा। इन सब के बावजूद प्रदेश सरकार की और से सहानुभूति न मिलते देख संघ के प्रदेश पदाधिकारियों के आह्वान पर उपरोक्त निर्णय लिया गया है। कहा कि देश के प्रधानमंत्री ने भी कहा है कि जान है तो जहान है। बैठक के बाद अध्यक्ष संतोष कुमार सिंह ने डीएम को एक पत्र भेजा है। इसकी प्रतिलिपि जिला आपूर्ति पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी औरंगाबाद एवं दाउदनगर, जिला प्रबंधक राज्य खाद्य निगम औरंगाबाद एवं सभी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी को दी गई है।

फेयर प्राइवेट डीलर एसोशिएशन के बैनर तले प्रखंड के सभी डीलरों की बैठक युगल सिंह की अध्यक्षता में हुई। राज्य कमेटी के निर्देश पर आठ मांग को लेकर आगामी दस अगस्त से अनिश्चिकालीन हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया गया। जन वितरण प्रणाली के दुकानदारों ने कहा कि सरकार द्वारा जारी किए गए पॉस मशीन में गड़बड़ डाटा अपलोड हुआ है। जिसके कारण कई बार राशन लाभुकों से झंझट होता है। इस लिए पॉस मशीन में सुधार करने की जरूरत है। राशन का आवंटन पॉस मशीन पर त्रुटिपूर्ण दर्शाया जा रहा है। जिसका स्थानीय स्तर पर किसी पदाधिकारी द्वारा संज्ञान नही लिया जा रहा है। पॉस मशीन पर अंगूठा लगवाकर वितरण करने से बिक्रेता डरे हुए है। इसके साथ उपभोक्ता को भी परेशानी हो रही है। ऐसी परिस्थिति में प्रांतीय कमिटी के आह्वाहन पर अगिआंव प्रखंड के सभी जन वितरण प्रणाली के दुकानदारों ने आगामी 10 अगस्त से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया गया है। बैठक में चंदन सिंह, रामकुमार सिंह, पारस सिंह, मनु राम, अशोक सिंह, तुलसी साह, उत्तम कुमार, बसंत कुमार, कृष्णकांत सिंह, जयराम रजक सहित अन्य शामिल हुए।

कोई टिप्पणी नहीं: