मधुबनी : 7 दिनों के लिए ओपीडी सेवा बंद एवं ओटी सेवा भी रहेगी बाधित - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 24 जुलाई 2020

मधुबनी : 7 दिनों के लिए ओपीडी सेवा बंद एवं ओटी सेवा भी रहेगी बाधित

madhubani-sadar-hospital-opd-closed
मधुबनी : जिले में कोरोना संक्रमण का रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रहा है प्रतिदिन कोरोना संक्रमित की संख्या बढ़ती जा रही है इसी बीच सदर अस्पताल में कई चिकित्सक कोरोना संक्रमित हो गए वहीं पर समकक्ष की एक स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ भी कोरोना संक्रमित हो गई है इनके अलावा जिले के अस्पताल प्रबंधक भी कोरोना संक्रमित हो गए। पिछले सप्ताह भी कई एएनएम, ममता संक्रमित हुई थी। चिकित्सकों के संक्रमित होने के बाद ओपीडी सेवा को 7 दिनों के लिए बंद कर दी गई है वहीं ओ टी सेवा भी प्रभावित रही। विदित हो कि जिले में प्रथम बार 27 अप्रैल को कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए थे तब से यह सिलसिला लगातार जारी है जिले में अब तक 740 कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए हैं जिसमें 641 मरीज ठीक हो चुके हैं वर्तमान में 97 एक्टिव केस है वही दो मरीजों की मृत्यु हो चुकी है।

जिले में 3 तरह से कोरोना संदिग्ध की जांच हो रही है:
जिले में कोरोना संक्रमित का जांच आरटी पीसीआर तथा त्रू नट मशीन से तथा रैपिड एंटीजन किट से हो रही है। आईडीएसपी एपिडेमियोलॉजिस्ट अनिल चक्रवर्ती ने बताया 11 जुलाई से आरटी पीसीआर से जांच नहीं हो रही है क्योंकि पटना में संबंधित मशीन खराब है और मधुबनी जिले के सैंपल जांच के लिए अभी तक किसी अन्य मेडिकल कॉलेज से टैग नहीं किया गया है।जिस कारण से अभी त्रुनट मशीन तथा एंटीजन किट से ही जांच हो रही है। त्रुनट मशीन से अभी तक 3066 मरीजों की जांच की गई है वहीं आरटी पीसीआर से 7161 मरीजों की जांच की गई है। इस संबंध में सिविल सर्जन डॉ सुनील कुमार झा ने बताया कि ओपीडी सेवा बंद होने की स्थिति में मरीज चिकित्सक से फोन पर सलाह ले सकते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: