सेंसेक्स 38 हजार अंक के पार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 24 जुलाई 2020

सेंसेक्स 38 हजार अंक के पार

sensex-cross-38-thousaand
मुंबई ,23 जुलाई, बीएसई का सेंसेक्स गत दिवस की गिरावट से उबरता हुआ आज 268.95 अंक यानी 0.71 प्रतिशत चढ़कर 38,140.47 अंक पर पहुँच गया। सेंसेक्स 05 मार्च के बाद पहली बार 38 हजार अंक से ऊपर बंद हुआ है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 82.85 अंक की तेजी के साथ 11,215.45 अंक पर रहा। एशियाई बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों के बीच बाजार की शुरुआत गिरावट में हुई, लेकिन कुछ देर बाद ही यह हरे निशान में लौट आया। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के दाम बढ़ने से ऊर्जा क्षेत्र में सबसे अधिक तेजी देखी गई। इसके साथ यूरोपीय बाजारों की तेजी से भी घरेलू बाजारों को समर्थन मिला। रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईसीआईसीआई बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक, आईटीसी, भारतीय स्टेट बैंक और एचडीएफसी बैंक की बाजार की बढ़त में महत्वपूर्ण भूमिका रही। सेंसेक्स में स्टेट बैंक का शेयर सवा तीन फीसदी, आईसीआईसीआई बैंक और रिलायंस इंडस्ट्रीज के करीब तीन फीसदी तथा टेक महिंद्रा, कोटक महिंद्रा बैंक और आईटीसी के शेयर दो फीसदी से अधिक लुढ़क गये। एक्सिस बैंक में करीब चार प्रतिशत की गिरावट रही। आईटी, टेक और दूरसंचार समूहों में गिरावट रही। मझौली और छोटी कंपनियों में भी निवेशकों ने पैसा लगाया। बीएसई का मिडकैप 0.98 प्रतिशत की बढ़त के साथ 13,783.29 अंक पर और स्मॉलकैप 0.61 प्रतिशत चढ़कर 12,996.12 अंक पर बंद हुआ। एशिया में जापान का निक्की 0.58 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.56 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.24 प्रतिशत की गिरावट में बंद हुआ जबकि हांगकांग के हैंगसेंग में 0.82 प्रतिशत की तेजी रही। यूरोपीय बाजारों में तेजी रही। शुरुआती कारोबार में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.62 प्रतिशत और जर्मनी का डैक्स 0.54 प्रतिशत मजबूत हुआ।

कोई टिप्पणी नहीं: