विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 21 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 22 जुलाई 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 21 जुलाई

कोविड केयर सेन्टर का कलेक्टर द्वारा जायजा

vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज कोविड केयर सेन्टर का जायजा लिया है। उन्हें अवगत कराया गया कि अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के अस्पताल में संचालित कोविड केयर सेन्टर में आज दिनांक तक कुल 114 कोरोना वायरस प्रभावित मरीज उपचारित है।  कलेक्टर डॉ जैन को बतलाया गया कि रायसेन जिले के बरेली उप जेल के 41 कोरोना पॉजिटिव बंदी भी आज उपचार हेतु विदिशा की अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सालय महाविद्यालय के कोविड केयर सेन्टर में भर्ती कराया गया है।  कलेक्टर डॉ जैन ने कोविड केयर सेन्टर के प्रभारी को निर्देश दिए है कि केयर सेन्टर में भर्ती सभी मरीजो को निर्धारित मापदण्डानुसार तमाम सुविधाएं मुहैया कराई जाए उन्हें स्वस्थवर्धक बेहतर खाना देने के साथ-साथ अन्य बुनियादी आवश्यकताओं की पूर्ति समयावधि में अविलम्ब सतत की जाए। निरीक्षण के दौरान अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सालय महाविद्यालय के डीन डॉ सुनील नंदेश्वर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार भी साथ मौजूद थे।

समयावधि का उल्लघंन करने वाले दुकानो पर जुर्माना 

कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में विदिशा शहरी क्षेत्र की तहसीलदार श्रीमती सरोज अग्निवंशी के द्वारा व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद करने की समयावधि 6.30 बजे के उपरांत ही दुकानें संचालित करने वालो के खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की है।  तहसीलदार श्रीमती अग्निवंशी ने बताया कि निर्धारित समयावधि के उपरांत भी तीन प्रतिष्ठानों के द्वारा दुकाने संचालित की जा रही थी। जिन्हें सील्ड कर जुर्माना की राशि तीन हजार सात सौ रूपए वसूले गए है। ज्ञातव्य हो कि जिले की समस्त व्यावसायिक प्रतिष्ठान दुकानो को सायं 6.30 बजे तक पूर्णतः बंद करने के निर्देश पूर्व में ही कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण को रोकने हेतु जारी दिशा निर्देशो के अनुपालन में किए गए है जिले के सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के संचालकों से चर्चा उपरांत निर्धारित समयावधि तय की गई है अतः संबंधित से अपेक्षा व्यक्त की गई है कि वे निर्धारित समयावधि का पालन व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के संचालन में अवश्य करें।

जिला स्तरीय टीम गठित

कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा जिले में बढते हुए नोबल कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला स्तरीय टीम गठित करने का आदेश जारी कर दिया है। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने जारी आदेश का हवाला देते हुए बताया कि जिला स्तरीय टीम का नोडल अधिकारी का दायित्व श्रम पदाधिकारी श्री सुधीश कमल को सौंपा गया है। इसके अलावा टीम में तीन सहायक नोडल अधिकारी, नायब तहसीलदार श्री सिद्वांत सिंह सिंगला, लोक सेवा गारंटी के प्रबंधक श्री अमित अग्रवाल तथा ई गवर्नेंस के जिला प्रबंधक श्री निजामुद्दीन शेख शामिल है। अपर कलेक्टर श्री वृदावंन सिंह ने बताया कि जिला स्तरीय नोडल अधिकारी हर रोज अन्य सभी नोडल अधिकारियों से  जानकारी प्राप्त कर मध्यप्रदेश शासन के हेल्थ रिस्पांस पोर्टल, सार्थक पोर्टल से जानकारी प्राप्त कर नियमित मानिटरिंग में रखेंगे। टीम के सहयोग हेतु पूर्व से संलग्न कम्प्यूटर आपरेटर सहयोग करेंगे।

प्रतिदिन परीक्षण हेतु तीन सौ सेम्पल लें-कलेक्टर 
व्हीसी के माध्यम से समीक्षा   
vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने मंगलवार को व्हीसी के माध्यम से समीक्षा की। उन्होंने समस्त एसडीएम एवं बीएमओ को निर्देश दिए कि जिले में कोरोना वायरस कोविड-19 के कम से कम हर रोज तीन सौ सेम्पल एमएमयू टीम के द्वारा लिए जाए। कलेक्टर ने प्रत्येक विकासखण्ड में औसतन चालीस से पचास सेम्पल लेने के प्रबंध सुनिश्चित करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिए है। कलेक्टर डॉ जैन ने फीवर क्लीनिक पर आने वाले मरीजो के भी सेम्पल लेने के निर्देश दिए है। 

कंटेनमेंट जोन
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने वीडियो कांफ्रेसिंग समीक्षा के दौरान समस्त एसडीएम एवं अन्य संबंधितों को निर्देश दिए है कि कंटेनमेंट जोन का दायरा निर्धारित मापदण्डो के अनुरूप हो। उन्होंने पॉजिटिव चिन्हित मरीज के कांटेक्ट लिस्ट में कम से कम 14 लोग शामिल हो। जिस भी क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाता है उस क्षेत्र में लगातार 14 दिनों के भीतर यदि कोई अन्य सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त नही होता है तो तभी उस क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन से मुक्त करने की कार्यवाही की जाए। 
दो हफ्ते बाद मिलेंगे
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कहा कि ऐसे व्यक्ति जो अन्य जिलो अथवा प्रदेश से आए है अथवा जिले के ऐसे व्यक्ति जिन्हें सर्दी, खांसी है उनके घर पर सांकेतिक सूचना चस्पा कराई जाएगी। मुझे सर्दी, खांसी है मैं आप सब से दो हफ्ते बाद मिल सकूंगा। इसी प्रकार की प्रक्रिया उन व्यक्तियों के मामलों में भी अपनाई जाए जिनके सेम्पल निगेटिव प्राप्त होते है उन्हें भी 14 दिनों के कोरोन्टाइन में रखा जाएगा।

टीव्ही की सुविधा 
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने जिले के समस्त कोविड केयर सेन्टरों में चिन्हित मरीजो को जारी गाइड लाइन के अनुसार सुविधाएं मुहैया को इसके लिए उन्होंने प्रत्येक कोविड केयर सेन्टर में टीव्ही की सुविधा उपलब्ध कराने के साथ-साथ मरीजो को अखबारो की आपूर्ति कराई जाए। हर दूसरे रोज अखबारो का विनिष्टिकरण किया जाए। उन्होने कोविड केयर सेन्टरो में भर्ती मरीजो को बेहतर खाना उपलब्ध कराने के निर्देश देते हुए कहा कि कोविड केयर सेन्टर में अच्छा वातावरण भर्ती मरीजो को मिलें। 
लॉक डाउन
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कहा कि जिले में रविवार को लॉक डाउन घोषित किया गया है एसडीएम अपने स्तर पर समीक्षा कर लॉक डाउन की अवधि लगातार दो दिवस तक कर सकते है इसके लिए जारी गाइड लाइन अनुसार एसडीएम अपने-अपने स्तर पर व्यापारियों की बैठक आहूत कर उन्हें कोरोना वायरस कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को रोकने में सहयोग अपेक्षित से अवगत कराते हुए जनप्रतिनिधियों की सहमति उपरांत निर्णय लें। 

सात दिन के लिए लॉक डाउन
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि जिले में यदि किसी व्यावसायिक संस्थान अथवा कार्यालयों में कोई व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव चिन्हित होता है तो संबंधित व्यवसायिक संस्थान या कार्यालय को सात दिन तक के लिए लॉकडाउन किया जाएगा अर्थात सात दिन तक बंद रहेगा। 

समयावधि में बंद हो
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कहा कि जिले में संचालित व्यवसायिक संस्थानो को बंद करने का समय पूर्व में जारी गाइड लाइन के अनुसार घोषित किया गया है। अतः संबंधित एसडीएमों की यह नैतिक जबावदेंही होगी कि अपने-अपने कार्यक्षेत्रों में सायं 6.30 तक अनिवार्य रूप से बंद हो जाए।

जांच पड़ताल 
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने सख्त रवैया में हिदायत देते हुए समस्त राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए है कि सोशल डिस्टेन्सिग और मास्क का उपयोग जिनके द्वारा नही किया जा रहा है उनके ऊपर नियमानुसार कार्यवाही कर जुर्माना वसूलने की कार्यवाही की जाए। उन्होंने इस कार्य में पृथक-पृथक दल गठित कर कार्यक्षेत्रों के व्यवसायिक प्रतिष्ठानों के अलावा सब्जी मंडियों तथा विभिन्न चौराहो पर औचक निरीक्षण करने की कार्यवाही क्रियान्वित की जाए।  
चिट फण्ड की जांच
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कहा कि जिले में एक भी चिट फंड कंपनी संचालित ना हो इनकी जांच के लिए प्रत्येक थाना स्तर पर शिविर आयोजित किए जाए। आयोजन के पूर्व थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्रामों में सूचनाएं प्रसारित की जाए। इसके लिए उन संसाधनो का उपयोग किया जाए जिससे सूचनाएं अविलम्ब ग्रास रूट तक पहुंच सकें। 

पट्टे
वन अधिकार अधिनियम के तहत पात्रताधारियों को वन अधिकार पत्र प्रदाय किए जाने है इस कार्य में समस्त एसडीएम, एफआरसी से कोई प्रकरण स्वीकृत होता है तो उसके समस्त दस्तावेंजो का बारिकी से अध्ययन करें और इस बात का पता लगाये कि आवेदक द्वारा संलग्न दस्तावेंज तथा भू-कब्जा का नक्शा गूगल शीट के अनुसार है कि नहीं। उपरोक्त कार्य एक सप्ताह के दरम्यिन शत प्रतिशत पूरा हो के प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं। खासकर ऐसे प्रकरण जो निरस्त हुए है उनमें निरस्त होने के कारणो का स्पष्ट उल्लेख हो इसी प्रकार की प्रक्रिया स्वीकृत प्रकरणों में अपनाई जाए। 

जेल का निरीक्षण 
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने जिले के जिला जेल एवं उप जेलों में कोरोना वायरस कोविड-19 की जारी गाइड लाइन का पालन हो रहा है कि नहीं का पता लगाने हेतु औचक निरीक्षण अनिवार्यतः करते रहें। बंदियों के सेम्पल लेने के प्रबंध सुनिश्चित करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिए है।
गौशालाओं हेतु जमीन 
वीडियो कांफ्रेसिंग के दौरान जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल ने समस्त एसडीएम एवं जनपदों के सीईओ से कहा है कि जिले में 120 गौशालाओं का निर्माण कराया जाना है इसके लिए आवश्यक भूमि का चिन्हांकन करने के निर्देश उनके द्वारा दिए गए है ताकि शासन की मंशा के अनुरूप गौशालाओं में चारे के साथ-साथ अन्य प्रबंध सुनिश्चित हो सकें। एनआईसी के वीडियो कांफ्रेसिंग कक्ष में समीक्षा के दौरान अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार, एनआईसी के डीआईओ श्री एमएल अहिरवार, ई गवर्नेंस के जिला प्रबंधक श्री निजामुद्दीन शेख मौजूद थे। 

राशन नही लेने वालो के कार्ड निरस्त  

विदिशा जिले में ऐसे राशन कार्डधारक जिनके द्वारा संबंधित उचित मूल्य दुकान से विगत छह माह से राशन नही लिया है। उन परिवारों के राशन कार्डो का सत्यापन कार्य जिले में जारी है।  जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने बताया कि जुलाई माह तक जिले में कुल 27 हजार 973 राशनकार्डधारक ऐसे है जिनके द्वारा विगत छह से 13 माह तक शासकीय उचित मूल्य दुकानों से राशन नही लिया है। इन राशनकार्डधारकों का सत्यापन कार्य कराए जाने के निर्देश कलेक्टर द्वारा संबंधितों को पूर्व में ही दिए गए है।  डीएसओ श्रीमती साहू ने बताया कि अब तक 16 हजार 486 राशन कार्डो का सत्यापन हो चुका है जिसमें से दस हजार 110 कार्डधारकों द्वारा पूर्व उल्लेखित माह का खाद्यान्न उठाव नहीं किया गया है शेष 11487 राशन कार्डधारको का सत्यापन कार्य लंबित है।

आज 22 सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए  

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने बताया कि कोरोना वायरस कोविड-19 के सेम्पलों में से 22 पॉजिटिव प्राप्त हुए है। कुल पॉजिटिव में सिरोंज तहसील के 12, शमशाबाद के आठ तथा विदिशा तहसील के दो पॉजिटिव सेम्पल शामिल है। 

104 डिस्चार्ज हुए

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने बताया कि कोरोना वायरस कोविड-19 के जिले में कुल 4774 सेम्पल लिए गए है इनमें से 196 सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए है। अब तक पॉजिटिव 196 में से 104 मरीज पूर्ण स्वस्थ होने पर कोविड केयर सेन्टरों से डिस्चार्ज हुए है वही 91 उपचारित है। कोविड-19 के विकासखण्डवार अब तक पॉजिटिव तथा डिस्चार्ज होने वालो की संख्यात्मक जानकारी इस प्रकार से है। सिरोंज तहसील में 83 कोरोना वायरस पॉजिटिव चिन्हित हुए है जिसमें से 33 डिस्चार्ज हो चुके है। वही 47 उपचारित है। जबकि एक व्यक्ति की मृत्यु हुई है।  विदिशा तहसील में पॉजिटिव केस कुल 63, डिस्चार्ज 39, उपचारित 24 बासौदा में पॉजिटिव केस की संख्या 21, डिस्चार्ज 17, उपचारित चार, नटेरन में पॉजिटिव प्रकरण 16, डिस्चार्ज तीन, उपचारित 13, ग्यारसपुर में पॉजिटिव केस छह, डिस्चार्ज चार, उपचारित दो, कुरवाई में  चार पॉजिटिव, डिस्चार्ज तीन, उपचारित एक, इसी प्रकार लटेरी में तीन पॉजिटिव केस दर्ज हुए है और तीनों ही पूर्ण स्वस्थ होकर कोविड केयर सेन्टरों से डिस्चार्ज हो चुके है। इस प्रकार जिले के सातो विकासखण्डो में अब तक 196 पॉजिटिव केस दर्ज हुए है। जिसमें से 104 पूर्ण स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज हो चुके है वही 91 उपचारित है। 

नोडल अधिकारियों की बैठक आज

कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने तथा अन्य कार्यो के लिए नियुक्त किए गए नोडल अधिकारियों की संयुक्त बैठक बुधवार 22 जुलाई को आयोजित की गई है कि जानकारी देते हुए अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि नोडल अधिकारियों की बैठक नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में प्रातः 11 बजे से शुरू होगी।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने समस्त नोडल अधिकारियों को समुचित जानकारियों सहित बैठक में समय पर उपस्थित होने के निर्देश प्रसारित किए है।

कोई टिप्पणी नहीं: