भारत में कोविड-19 के 62,064 नए मामले सामने आए, 1,007 और लोगों की मौत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 10 अगस्त 2020

भारत में कोविड-19 के 62,064 नए मामले सामने आए, 1,007 और लोगों की मौत

62064-new-covid-case-in-india
नयी दिल्ली, 10 अगस्त, भारत में कोविड-19 के 62,064 नए मामले सामने आने के बाद सोमवार को देश में संक्रमितों की कुल संख्या 22 लाख के आंकड़े को पार कर गई। वहीं ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 15.35 लाख से अधिक हो गई। यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी। मंत्रालय के आंकड़े के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण से 1007 और मरीजों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 44,386 हो गई है। उसने कहा कि वर्तमान में 6,34,945 मरीज उपचाराधीन हैं। कोविड-19 के कुल मामले अभी 22,15,074 हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि भारत में कोविड-19 से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 15 लाख से अधिक हो गई है क्योंकि अभी तक 15,35,743 लोग संक्रमण से ठीक हो चुके हैं। ऐसा ‘‘आक्रामक तरीके से जांच करने, संक्रमण के मामलों पर व्यापक तरीके से नज़र रखने और कुशलता से इलाज करने की नीति के चलते संभव हुआ है।’’ मंत्रालय ने कहा, ‘‘बेहतर एम्बुलेंस सेवाओं, देखभाल के मानकों पर ध्यान केंद्रित करने से वांछित परिणाम मिले हैं।’’ मंत्रालय ने कहा कि पिछले 24 घंटों में रिकॉर्ड 54,859 लोग ठीक हुए। देश में मरीजों के ठीक होने की दर लगभगत 70 प्रतिशत हो गई है। ठीक होने की रिकार्ड संख्या से उपचाराधीन मामलों का प्रतिशत कम हुआ है और वर्तमान में कुल मामलों में से केवल 28.66 प्रतिशत उपचाराधीन मामले हैं। मंत्रालय ने कहा कि आक्रामक जांच और अस्पताल में भर्ती मरीजों के कुशल क्लीनिकल प्रबंधन को लेकर केंद्र और राज्य / केंद्रशासित प्रदेशों के समन्वित प्रयासों से मृत्यु दर को लगातार कम करने में मदद मिली है। मृत्यु दर अभी दो प्रतिशत है और इसमें लगातार कमी आ रही है। मंत्रालय ने कहा कि मामलों की शुरुआती पहचान से भी उपचाराधीन मामलों के प्रतिशत में गिरावट आई है। यह गौर करना महत्वपूर्ण है कि कोविड-19 संक्रमण अभी भी 10 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों तक केंद्रित है जहां नए मामलों में 80 प्रतिशत से अधिक मामले हैं। देश में लगातार चौथे दिन कोविड-19 के 60,000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं।

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार देश में अभी तक कुल 2,45,83,558 नमूनों की जांच की जा चुकी है, जिनमें से रविवार को 4,77,023 नमूनों की जांच की गई। 1,007 और मौतों में से, 390 महाराष्ट्र से, 119 तमिलनाडु, कर्नाटक में 107, आंध्र प्रदेश से 97, पश्चिम बंगाल से 54, उत्तर प्रदेश से 41, गुजरात और पंजाब से 24-24, झारखंड में 22, मध्य प्रदेश में 19 और दिल्ली, ओडिशा और जम्मू कश्मीर में 13-13 मौतें हुई हैं। वहीं राजस्थान से 11, तेलंगाना से 10, हरियाणा से नौ, उत्तराखंड से आठ, छत्तीसगढ़ और पुडुचेरी से सात-सात, बिहार और असम से पांच-पांच, गोवा से तीन, केरल से दो, त्रिपुरा, हिमाचल प्रदेश, नागालैंड और चंडीगढ़ में एक-एक मरीज की मौत हुई है। कुल 44,386 मौतों में से, महाराष्ट्र में सबसे अधिक 17,757, इसके बाद तमिलनाडु में 4,927, दिल्ली में 4,111 और कर्नाटक में 3,198 मरीजों की मौत हुई है। गुजरात में 2,652, उत्तर प्रदेश में 2,069, पश्चिम बंगाल में 2,059, आंध्र प्रदेश में 2,036 और मध्य प्रदेश में 996 मौतें हुई हैं। महामारी के कारण राजस्थान में कुल 789 मरीजों की मौत हुई है, इसके बाद तेलंगाना में 637, पंजाब में 586, हरियाणा में 483 और जम्मू कश्मीर में 472 मरीजों की मौत हुई है। बिहार में 387, ओडिशा में 272, झारखंड में 177, असम में 145, उत्तराखंड में 125, केरल में 108 मौतें हुई हैं। छत्तीसगढ़ में 96 मौतें हुईं हैं, इसके बाद पुडुचेरी में 87, गोवा में 75, त्रिपुरा में 42 और चंडीगढ़ में 25 मौतें हुईं हैं। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में 20 मौतें, हिमाचल प्रदेश में 15, मणिपुर में 11, लद्दाख में नौ और नागालैंड में आठ मौतें हुई हैं। मेघालय में छह और अरुणाचल प्रदेश में तीन लोगों की मौत हुई हैं, जबकि दादरा और नागर हवेली और दमन और दीव में दो और सिक्किम में एक मरीज की मौत हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस बात पर जोर दिया कि मरने वालों में से 70 प्रतिशत को अन्य बीमारियां भी थीं। मंत्रालय ने कहा, "हमारे आंकड़ों का मिलान भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के साथ किया जा रहा है," आंकड़े राज्यवार सत्यापन और प्रतिपुष्टि के अधीन हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: