पायलट की कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से सुलह की बातचीत जारी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 11 अगस्त 2020

पायलट की कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से सुलह की बातचीत जारी

congress-talk-with-sachin-pilot
जयपुर, 10 अगस्त, राजस्थान में कांग्रेस से अलग गुट बनाने वाले निष्कासित पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन  पायलट और पार्टी आलाकमान के बीच सुलह की बात चल रही है।श्री पायलट गुट के एक विधायक भंवरलाल शर्मा ने आज मुख्यमंत्री अशेक गहलोत से मुलाकात करके गिले शिकवे दूर होने का दावा भी किया है। श्री शर्मा ने कहा कि क्षेत्र के विकास को लेकर उनकी नाराजगी थी, लेकिन बातचीत में सब ठीक हो गया है। एक आडियो में विधायकों की खरीद फरोख्त की बातचीत में श्री शर्मा का नाम आया था। इस सम्बन्ध में एसओजी ने उनसे पूछताछ करने के कई बार प्रयास किये, लेकिन वह नाकाम रही। श्री शर्मा ने आशा व्यक्त की कि पायलट सहित अलग गुट बनाने वाले सभी 19 विधायक वापस जयपुर आ जायेंगे तथा सरकार को समर्थन देंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व पर आस्था जताते हुए कहा कि वह अब पूरी तरह श्री गहलोत के साथ हैं।उधर श्री पायलट ने पार्टी आलाकमान सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से मुलाकात करके सुलह के संकेत दिये हैं। अभी स्पष्ट नहीं हुआ है कि श्री पायलट के साथ क्या समझौता फार्मूला तय हुआ है। उल्लेखनीय है कि राजस्थान में गहलोत सरकार करीब एक महीने से राजनीतिक संकट से जूझ रही है। उसे आज राहत मिली है। श्री गहलोत के सामने अब 14 अगस्त को विधानसभा सत्र में बहुमत साबित करने की खास चुनौती नहीं होगी। इस मामले में श्री गहलोत ने भाजपा पर धन बल पर विधायकों की खरीद फरोख्त करके उनकी सरकार को अस्थिर करने का आरोप लगाया था।

कोई टिप्पणी नहीं: