दिल्ली में कोरोना वायरस की जांच दोगुनी करने का निर्णय - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 26 अगस्त 2020

दिल्ली में कोरोना वायरस की जांच दोगुनी करने का निर्णय

covid-test-double-in-delhi
नयी दिल्ली, 26 अगस्त, राजधानी में कोरोना वायरस के मामलों के एक बार फिर से जोर पकड़ने के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने वायरस की जांच दुगना करने का फैसला किया है। दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में बुधवार को एक अहम समीक्षा बैठक हुई जिसमें कोरोना की जांच संख्या दुगनी करने का फैसला हुआ। बैठक में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, मुख्य सचिव और स्वास्थ्य मंत्रालय के सभी आला अधिकारी मौजूद रहे। बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में श्री केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में दिल्ली में कोरोना के मामलों में थोड़ी बढ़ोतरी हुई, हालांकि बाकी स्थिति नियंत्रण में हैं और आगे हालात काबू में रहें इसके लिए अगले कुछ दिनों में जांच संख्या दुगनी की जायेगी। उन्होंने कहा," दिल्ली सरकार कोरोना टेस्ट की संख्या डबल करने जा रही है। अभी तक हम 20 हज़ार टेस्ट कर रहे थे, अब हम रोज़ 40 हज़ार टेस्ट करेंगे।" श्री केजरीवाल ने कहा पिछले कुछ दिनों से कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी नज़र आ रही है। हालांकि बाकी सब मानदे ठीक है। रिकवरी रेट 90 प्रतिशत से ऊपर है और मौत की संख्या में लगातार कमी आ रही है। अभी दिल्ली में कोरोना की स्थिति नियंत्रित है। उन्होंने कहा कि कोरोना से ठीक होने के बाद भी यदि लोगों को स्वास्थ्य संबंधी परेशानी होती है, तो दिल्ली सरकार उन्हें ऑक्सीमीटर देगी और जरूरत पड़ने पर घर पर ही ऑक्सिजन कन्संट्रेटर का इंतजाम भी करेगी। बैठक में सतर्कता को और कठोर करने के आदेश भी दिए गए है। उन्होंने लोगों से अपील की कि बाहर निकलते समय मास्क अवश्य पहने और लापरवाही न करें। दिल्ली में मंगलवार को कोविड-19 के 1,544 नए मामले सामने आए थे और 17 लोगों की मौत हुई थी। एक महीने से ज्यादा समय में राजधानी में संक्रमण के 1,500 से अधिक मामले सामने आए थे। पिछले सात दिन में एक बार फिर संक्रमित नमूनों के मिलने की दर में दो फीसदी इजाफा हुआ । प्रारंभ में संक्रमण की यह दर 25 फीसदी से अधिक थी। दिल्ली के सभी जिले लाल जोन में थे। बीते एक महीने में यह दर 10 फीसदी से भी काफी नीचे आ गई थी। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार 24 अगस्त को संक्रमण दर 8.90 फीसदी दर्ज रही, जबकि 18 अगस्त को यह 6.77 फीसदी थी। इस माह की शुरुआत में सक्रिय मामले कम होकर 9,897 तक आ गए थे, परंतु अब फिर बढ़कर 11,626 पर पहुंच गए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: