बिहार : लॉकडाउन में विनोद कुमार दास की आमदनी हो गयी लॉक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 24 अगस्त 2020

बिहार : लॉकडाउन में विनोद कुमार दास की आमदनी हो गयी लॉक

lock-down-and-trouble
जमुई,24 अगस्त। पांच साल और दस माह का एक बच्चा है जिसका नाम देवनारायण वीरा।वह ब्लड कैंसर (ल्यूकेमिया) से पीड़ित है। महादलित रविदास विनोद कुमार दास ने अपने कैंसर पीड़ित पुत्र का इलाज चार माह से करवा रहे हैं।जो जिंदगीभर की पूंजी पिता के पास था,उसे पुत्र की बीमारी में  लगाकर हार मान गया।अब पिता का आसरा कल्याणकारी राज्य के मुखिया पर जाकर टिक गया है। जमुई जिले के रामदासपुर ग्राम में विनोद कुमार दास रहते हैं। उनका पुत्र देवनारायण वीरा जानलेवा ब्लड कैंसर ल्यूकेमिया ( ए एल एल )से पीड़ित मरीज हैं।सबसे पहले पिता ने पुत्र का इलाज एक माह तक गृह जिला जमुई में ही कराया। उस समय बुखार का इलाज चल रहा था। बुखार का इलाज गृह जिला में ठीक नहीं होने पर तो उसे 19 अप्रैल 2020 को कोलकाता टाटा मेडिकल हॉस्पिटल में लिया गया।टाटा मेडिकल हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने जांचोपरांत परिजन को देवनारायण वीरा को ब्लड कैंसर होने की बात कही। यहां पर 3 महीने तक लगातार इलाज चलता रहा।टाटा मेडिकल हॉस्पिटल में कुल खर्चा 5 लाख 63 हजार हो गया। 


बताया गया कि टाटा मेडिकल हॉस्पिटल के बिल भुगतान करने के कारण महादलित विनाेद कुमार दास काफी लोगों का कर्जदार हो गया। इसके कारण आर्थिक स्थिति चरमरा गयी। आर्थिक समस्या के कारण विनोद ने 18 जून को देवनारायण को लेकर दिल्ली  AIIMS चले गये इलाज करवाने के लिए ।यहां पर भी लगभग 2 महीना से ज्यादा समय हो गया।यहां पर तीसरा प्रोटोकॉल शुरू हुआ। उसमें कीमो का पहला इंजेक्शन 14 अगस्त को पड़ा जिसका बहुत ज्यादा ही साइड इफेक्ट होने लगा।उसके स्प्लीन, आंत, और पेट में सूजन एवं पेट में तेज दर्द (इंफेक्शन) होने के कारण देवनारायण 15 अगस्त से हॉस्पिटल में एडमिट है एवं डॉक्टर के ऑब्जरवेशन में है। बताया जाता है देवनारायण नामक इस बच्चे की हालत बहुत ही गंभीर बनी हुई है। करीब 7 से 10 लाख रूपया और खर्च होने की बात डॉक्टरों के द्वारा बोला जा रहा है। मेरे प्रिय भाई और बहन आपलोगों   से अनुरोध करता हूं कि आप लोग परमेश्वर से और प्रभु यीशु मसीह के नाम से प्रार्थना कीजिए कि हमारे प्रभु इन्हें एक नया जीवन दें, जिससे परमेश्वर को अधिक से अधिक और महिमा मिले। आप लोग जरूर इस बच्चे के लिए प्रार्थना कीजिए। 

कोई टिप्पणी नहीं: