संवैधानिक मूल्यों, परंपराओं की विपरीत है मोदी सरकार : सोनिया गाँधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 15 अगस्त 2020

संवैधानिक मूल्यों, परंपराओं की विपरीत है मोदी सरकार : सोनिया गाँधी

modi-government-anti-constitutional-values-sonia-gandhi
नयी दिल्ली, 15 अगस्त, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने देशवासियों को 74वे स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला किया और कहा कि उनकी सरकार लोकतांत्रिक मूल्यों की अवहेलना कर संवैधानिक परंपराओं के खिलाफ खड़ी नजर आती है । श्रीमती गांधी ने कहा कि पिछले 74 साल के दौरान आजाद भारत ने अपने प्रजातांत्रिक मूल्यों को समय समय पर परीक्षा की कसौटी पर परखा है और उसे निरन्तर परिपक्व किया है। वर्तमान मपरिस्थितियों मे प्रतीत होता है कि सरकार प्रजातांत्रिक व्यवस्था, संविधान मूल्यों तथा स्थापित परम्पराओं के विपरीत खड़ी है। भारतीय लोकतंत्र के लिए भी यह परीक्षा की घड़ी है। उन्होंने कहा, “आज जब समूचा विश्व कोरोना महामारी की महाविभीषिका से जूझ रहा है, तब भारत को एकजुट होकर इस महामारी को परास्त करने के प्रतिमान स्थापित करने होंगे और मैं पूरे आत्मविश्वास से कह सकती हूँ कि हम सब मिलकर इस महामारी एवं गंभीर आर्थिक संकट की दशा से बाहर आ जाएंगे।” कर्नल संतोष बाबू तथा 20 जवानों की गलवान घाटी में वीरगति को प्राप्त हुए की शहादत को याद करते हुए नमन किया और सरकार से आग्रह किया कि वह उनकी वीरता का स्मरण करे और उचित सम्मान दे। भारत मां की सरज़मीं की रक्षा और चीनी घुसपैठ को विफल करना उन्हें सबसे बड़ी श्रद्धांजलि होगी।

कोई टिप्पणी नहीं: