नासा के अंतरक्षियात्री 45 वर्ष में पहली बार ‘स्पलैशडाउन’ के जरिए धरती पर लौटे - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 3 अगस्त 2020

नासा के अंतरक्षियात्री 45 वर्ष में पहली बार ‘स्पलैशडाउन’ के जरिए धरती पर लौटे

nasa-scientist-return-earth-after-45-years
केप केनवरल (अमेरिका), 03 अगस्त,  नासा के दो अंतरिक्ष यात्री रविवार को पानी में उतरने के नाटकीय और पुराने अंदाज में धरती पर वापस लौटे जहां उनका अंतरिक्षयान पैराशूट की मदद से मेक्सिको की खाड़ी में उतरा। इसी के साथ एलन मस्क की स्पेसएक्स कंपनी द्वारा किया गया अभूतपूर्व परीक्षण उड़ान भी समाप्त हुआ। अमेरिकी अंतरिक्षयात्रियों द्वारा 45 वर्षों में किया गया यह पहला ‘स्पलैशडाउन’ (अंतरक्षियान को पैराशूट की मदद से समुद्र में उतारने की विधि) है और वह भी लोगों को कक्षा तक ले जाने और वापस लाने वाले पहले व्यावसायिक रूप से निर्मित एवं संचालित अंतरक्षियान के साथ। अंतरक्षियान और यात्रियों की सकुशल वापसी स्पेसएक्स के अगले महीने होने वाले एक और क्रू प्रक्षेपण तथा अगले साल की संभावित पर्यटक उड़ानों का रास्ता साफ करती है। परीक्षण पायलट डोग हर्ले और बॉब ब्हेनकेन स्पेसएक्स ड्रैगन अंतरक्षियान ‘एंडेवर’ में धरती पर लौटे। इससे कुछ ही घंटों पहले वे अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र से रवाना हुए थे और दो महीने पहले ही उन्होंने फ्लोरिडा से केंद्र के लिए उड़ान भरी थी। यह यान पेनसाकोला तट से करीब 40 मील दूर खाड़ी के शांत पानी में उतरा। फ्लोरिडा के अंटलांटिक तट जहां उष्णकटिबंधीय तूफान इसायस का कहर बरस रहा है, वह इस जगह से सैकड़ों मील दूर है। स्पेसएक्स मुख्यालय से मिशन कंट्रोल ने उनकी वापसी पर कहा, “धरती पर आपका फिर से स्वागत है और स्पेसएक्स कायान उड़ाने के लिए आपका धन्यवाद।”



कोई टिप्पणी नहीं: