PM का संबोधन मजबूत आत्मनिर्भर भारत के निर्माण का संकल्प : नड्डा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 15 अगस्त 2020

PM का संबोधन मजबूत आत्मनिर्भर भारत के निर्माण का संकल्प : नड्डा

pm-speech-shows-stromg-india-nadda
नयी दिल्ली, 15 अगस्त, भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने शनिवार को कहा कि देश के 74वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ओजस्वी और प्रेरणास्पद संबोधन एक व्यापक और मजबूत आत्मनिर्भर भारत के निर्माण के उनके संकल्प को दर्शाता है। लाल किले की प्राचीर से 74वें स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य पर देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘‘आत्मनिर्भर भारत’’ के आह्वान ने लोगों का ध्यान खींचा है और यह हर किसी के लिए एक ‘‘मंत्र’’ बन गया है। उन्होंने कहा कि भारत की विश्व अर्थव्यवस्था में जो हिस्सेदारी है, वह बढ़नी चाहिए और इसके लिये हमें आत्म-निर्भर होना होगा। प्रधानमंत्री ने इस मौके पर कहा कि हमारा मन पूरी तरह से ‘वोकल फॉर लोकल’ (स्थानीय उत्पादों पर जोर देने वाला) होना चाहिए। प्रधानमंत्री के संबोधन की सराहना करते हुए नड्डा ने ट्वीट किया, ‘‘लाल किले की प्राचीर से देश के 74वें स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन बहुत ओजस्वी और प्रेरणास्पद रहा। उनका संबोधन एक व्यापक और मजबूत आत्मनिर्भर भारत के निर्माण को लेकर उनकी दूरदृष्टि व उनके मिशन और संकल्प को दर्शाता है। ’’ उन्होंने समस्त देशवासियों को 74वें स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दीं और स्वतंत्रता के लिए अपना सर्वस्व समर्पित करने वाले क्रांतिकारियों एवं स्वतंत्रता सेनानियों को नमन किया।

कोई टिप्पणी नहीं: