मधुबनी : जाप सुप्रीमो पप्पू यादव ने पीड़ित परिवार को की आर्थिक मदद। - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 23 अगस्त 2020

मधुबनी : जाप सुप्रीमो पप्पू यादव ने पीड़ित परिवार को की आर्थिक मदद।




कलुआही/मधुबनी (अनुराग  कुमार) मधुबनी जिले के कलुआही प्रखंड के मलमल गाँव में गैंगरेप के बाद हत्या की गई बच्ची सोनी कुमारी के घर पहुंच कर उनके परिजनों से मिले जन अधिकार पार्टी सुप्रीमो पप्पू यादव। वहाँ का माहौल देख कर सभी गमगीन हो गए। जाप सुप्रीमो पप्पू यादवने वहाँ पहुंच कर पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाया ओर उनके परिजन को तत्काल निजी तौर से ₹20000 की आर्थिक मदद की, साथ से उनको उनके बांकी दो बच्चीयों के शादी और भरण-पोषण के लिए मदद की बात कही। साथ ही पीड़ित परिवार को आश्वासन दिया कि वो सरकार और डीआईजी से जल्द करवाई एवं एसपीडी ट्रायल की मांग करेंगें, ताकि दोषियों को जल्द से जल्द सजा मिले। बता दें कि कुछ दिनों पहले ही इस मलमल गाँव के 13वर्षीय नाबालिक लड़की सोनी कुमारी के साथ गैंगरेप कर बगल उसकी हत्या कर दी गयी थी। उसकी लाश उसके घर के बगल के घर से ही बरामद हुई थी। इस मामले में उसके गांव के ही तीन लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया गया है। लेकिन लगभग एक हफ्ता बित जाने के बाद भी काफी दबाब के कारण कल देर रात एक गिरफ्तारी हुई है। हालांकि आधिकारिक रूप से इसकी पुष्टि नही है। इसके बाद वो प्रेस प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि ये बिहार सरकार भ्रष्टाचार और कुर्सी की प्यारी बन चुकी है। यहाँ अपराध जैसे बलात्कार, हत्या, लूटपाट, गैंगरेप, दंगा, साम्प्रदायिक हिंसा बढ़ गयी है, ओर सरकार इस कोरोना काल मे भी चुनाव के पीछे पड़ी है। नीतीश कुमार को केवल अपनी कुर्सी प्यारी है, न कि यहां के बारह करोड़ जनता। यहां बाढ़ से, कोरोना की मार से जनता बेहाल है। लोगों के पास अन्न,पैसा खत्म हो गया है। बाढ़ के कारण भुखमरी की इस्तिथि हो गयी है, लोग इलाज के अभाव में मर रहे हैं। बावजूद इसके सरकार जनता का ध्यान,ख्याल रखने के बजाय चुनाव ओर कुर्सी के मोह में पड़ी हुई है।

कोई टिप्पणी नहीं: