राहुल गांधी का बिहार चुनाव के लिए जुट जाने का आह्वान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 7 अगस्त 2020

राहुल गांधी का बिहार चुनाव के लिए जुट जाने का आह्वान

raahul-gandhi-call-bihar-congress-unite
नयी दिल्ली, 06 अगस्त, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बिहार प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारियों तथा कार्यकर्ताओं से राज्य सरकार की विफलताओं को उजागर कर विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुट जाने का आह्वान किया है। श्री गांधी ने बिहार प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारियों तथा कार्यकर्ताओं के साथ गुरुवार को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से बातचीत के दौरान कहा कि राज्य के लोग कोरोना महामारी के साथ ही बाढ़ की विभीषिका से जूझ रहे हैं और उनको जिस पीड़ा का सामना करना पड़ रहा है। उसकी कहीं सुनवाई नहीं है, इसलिए कार्यकर्ताओं को लोगों की समस्यायें सुननी चाहिए और उसको शासन तक पहुंचाने का काम करना चाहिए। उन्होंने इस काम का सही और सकारात्मक एजेंडे के तहत जनता के साथ जुड़ने से सरकार की नाकामयाबियों को उन तक पहुंचाया जाना आवश्यक है। बिहार की दुर्दशा के लिए केंद्र तथा राज्य सरकार को जिम्मेदार मानते हुए उन्होंने कहा कि एक समय था जब बिहार का राष्ट्रीय स्तर पर सम्मान था और उसे देश का गौरव माना जाता था लेकिन शासन की उपेक्षा के कारण ऐसी स्थिति पैदा हो गयी है कि यहां के लोगों को अत्यधिक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है और लोग कांग्रेस की तरफ आशा भरी निगाह से देख रहे हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि पिछले चुनाव में श्री मोदी ने बांध बनाकर लोगों को बाढ़ से राहत देने का वादा किया था और आर्थिक पैकेज देकर लोगों से उनकी दवाई, पढ़ाई और कमाई की समस्या का सामधान करने का वादा किया था लेकिन यह सब धोखा ही साबित हुआ है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ही लोगों की उम्मीद है और बिहार में कांग्रेस की सरकार बनाकर लोगों की आकांक्षाओं और उम्मीदों को पूरा करना है, इसलिए कार्यकर्ताओं को विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुट जाना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं: