विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 20 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 20 अगस्त 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 20 अगस्त

नवाचारो के माध्यम से जागरूकता संदेश दें-कलेक्टर

vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने गुरूवार को नोडल अधिकारियों के कार्यो की समीक्षा बैठक में नवाचारो के माध्यम से जागरूकता के संदेशो का प्रसारण आमजनों तक पहुंचाने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस कोविड 19 के संक्रमण को रोकने के लिए केवल शपथ, बाल पेंटिंग कार्यक्रमों तक ही सीमित ना रहें बल्कि सोशल मीडिया प्लेटफार्म, नाट्यकला के अलावा स्थानीय स्तरों पर बोली के माध्यम से संक्रमण से बचाव के उपायों तथा मास्क और सोशल डिस्टेन्सिग का पालन करते हुए समय अंतराल में साबुन अथवा हेण्डवॉश से हाथो को धोएं। जागरूकता संबंधी कार्यक्रमों का संदेश सामाजिक संगठनों के माध्यम से भी पहुंचाने पर उन्होंने बल दिया है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कहा कि वायोवृद्वजन घरो से ज्यादा ना निकलें पर विशेष ध्यान देने की बात करते हुए उन्होंने मंदिरो अथवा अन्य धार्मिक आयोजनों में वृद्वजन शामिल ना हो की अपील धार्मिक संगठनों के प्रमुखो के अलावा मंदिरो के पुजारियों के माध्यम से वृद्वजनों तक संदेश पहुंचाने की पहल की जाए ताकि वृद्वजन कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित बचें रहें।  कलेक्टर डॉ जैन ने निर्देश दिए है कि कंटेनमेंट जोन में जो भी उल्लधंन करते है तो उन्हें संस्थागत कोरोन्टाइन सेन्टर एसएटीआई की हॉस्टल में अनिवार्यतः भर्ती किया जाए। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही नही बरतने के उन्होंने सख्त निर्देश दिए है। कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि ऐसे व्यक्ति जिनके द्वारा कंटेनमेंट जोन का उल्लघंन करने के उपरां संस्थागत कोरोन्टाइन सेन्टर में जाने अथवा रहने से आनाकानी की जाती है तो उनके खिलाफ नियमानुसार एफआईआर दर्ज कराने की कार्यवाही अविलम्ब की जाए।  कलेक्टर डॉ जैन ने कोरोना वायरस कोविड 19 के सेम्पल अधिक से अधिक लेने के निर्देश संबंधित टीमो को दिए है। उन्होंने कहा कि जिले में कम से कम अब हर रोज साढे चार सौ से सेम्पल लिए जाए। लिए गए सेम्पलों की रिपोर्ट दूसरे दिन प्राप्त हो जाए के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए जाए। कलेक्टर डॉ जैन के द्वारा आरएटीआई तथा मेडिकल कॉलेज के लिए क्रमशः दो-दो सौ का तथा टू्र नाट से पचास सेम्पलों के परीक्षण का लक्ष्य निर्धारित किया है। पुलिस अधीक्षक श्री विनायक वर्मा ने कहा कि कंटेनमेंट जोन में कही भी उल्लधंन की सूचना अथवा शिकायते प्राप्त होती है तो संबंधित नोडल अधिकारी अविलम्ब सीएसपी श्री विकास पांडे की जानकारी में लाएं ताकि संबंधितों पर पुलिस अविलम्ब कार्यवाही कर सकें। उन्होंने कंटेनमेंट जोन में किसी भी प्रकार की अशांति बर्दाश्त नही की जाएगी पर जोर देते हुए कहा कि नोडल अधिकारी कंटेनमेंट जोनो में तैनात अधिकारी, कर्मचारियों की कार्यो की क्रास मॉनिटरिंग करें। नोडल अधिकारी श्री मेहताब सिंह रावत ने बताया कि वर्तमान में 166 कंटेनमेंट जोन जिले में एक्टिव है।  नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार, सिविल सर्जन सह अधीक्षक डॉ संजय खरे, मेडीकल कॉलेज के एमडी डॉ प्रशांत बडगबालकर, नोडल अधिकारी श्री विनय प्रकाश सिंह तथा के नोडल अधिकारी श्री केके द्विवेदी और बासौदा के नोडल अधिकारी श्री पीडी वंशकार, कुरवाई के नोडल अधिकारी श्री संतोष दुबे के अलावा एमएमयू टीम के नोडल अधिकारी डॉ पीके मिश्रा, ऑन लाइन पोर्टल पर निगरानी रखने तथा जिला स्तरीय समन्वयक नोडल अधिकारी श्री सुधीश कमल, वालिन्टियर्स नोडल अधिकारी श्री विजय श्रीवास्तव, समन्वयक श्री दीप्ति शुक्ला एवं जिला परिवहन अधिकारी श्री गिरजेश वर्मा तथा किल कोरोना अभियान दो के नोडल अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे भी मौजूद थे।


सदभावना की शपथ दिलाई 

राज्य शासन के द्वारा जारी आदेश के परिपालन में आज 20 अगस्त को सद्भावना दिवस का आयोजन जिले में किया गया था।  नवीन कलेक्ट्रेट परिसर में अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने सदभावना शपथ का वाचन किया, जिसे कलेक्ट्रेट के अधिकारियों, कर्मचारियों द्वारा दोहरायी गई। 

कलेक्टर द्वारा राजस्व कार्यो की समीक्षा 

vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने गुरूवार को राजस्व अधिकारियों के कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि अनुविभाग स्तर पर कार्य लंबित ना रहें यह संबंधित एसडीएम की नैतिक जबावदेंही है। कलेक्टर ने खण्ड स्तरीय अन्य विभागों के अधिकारियों की बैठके आहूत कर शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों के अलावा अन्य प्रचलित समस्याओं के निदान पर विशेष बल दे।  कलेक्टर डॉ जैन ने समस्त राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए है कि जो आवेदन टीएल में शामिल किए जाते है उन सब का समयावधि में निराकरण कराना सुनिश्चित करें। कलेक्टर डॉ जैन ने शासन की प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों व योजनाओं के क्रियान्वयन में स्थानीय जनप्रतिनिधियों की जानकारी में लाते हुए सहयोग प्राप्त करें।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा राजस्व अधिकारियों के कार्यो की समीक्षा दो भागों में विभक्त की है जिसमें प्रथम भाग अ के अंतर्गत जिन मुद्दो पर उनके द्वारा समीक्षा की गई है उनमें राजस्व वसूली, राजस्व प्रकरणों की समीक्षा, ई-हस्ताक्षर, आरसीएमएस पर ऑनलाइन केस दर्ज करने के लिए प्रोत्साहित करना एवं न्यायालय शुल्क लिए जाने बावत, आरसीएमएस के माध्यम से प्रवासी श्रमिक राहत-शामक मॉडयूल के संबंध में डेटा प्रविष्टि व राहत राशि का वितरण, भूमि अधिग्रहण प्रशासनिक शुल्क के संबंध में, रेल्वे एनएच और सिंचाई परियोजनाओं आदि के अधिग्रहण के मामल, भू-अर्जन, लंबित बीएस आश्वासन, याचिका, लोक लेखा समिति, अभयदान का जबाव संबंध में, न्यायालय में लंबित गतिशील प्रकरणों को अद्यतन स्थिति, सीएम हेल्पलाइन का गुणवत्तापूर्ण समय सीमा में निराकरण, लोक सेवा गारंटी, एनएफबीसी वित्तीय कंपनियों द्वारा जमा राशि स्वीकार, वापसी एवं आयुक्त के पत्र पर कार्यवाही एवं निजी भूमि स्वामी (खदान पट््टे) इत्यादि शामिल है।  इसी प्रकार भाग ब के अंतर्गत एसडीओ द्वारा बेबजीआईएस पर गैर कृषि भूमि के लिए ऑन लाइन पुनर्मूल्यांकन मॉडयूल का उपयोग, फसल गिरदावरी एवं बीमा, पीएम किसान सम्माननिधि योजना का कार्य, मॉडर्न रिकार्ड रूम की अवधारणा तथा अद्यतन रखना, आबादी सर्वे हेतु निर्देश, बेबजीआईएस खसरा त्रुटि सुधार परिमार्जन के कार्यो की गहन समीक्षा की गई है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने सभी राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए है कि उनके न्यायालयों में लंबित प्रकरण तय अवधि से अधिक के ना हो पर विशेष ध्यान दें। उन्होंने क्षेत्रों का भ्रमण कर योजनाओं के क्रियान्वयन की हकीकत से अवगत होने तथा ऐसे प्रकरण जिनमें भूमि का विवाद शामिल है उन प्रकरणों में स्थल का मौके पर मुआयना अवश्य करें।  कलेक्टर डॉ जैन ने कोरोना वायरस कोविड 19 के संक्रमण को रोकने के लिए स्थानीय स्तरों पर जागरूकता कार्यक्रमों के आयोजन पर बल दिया वही सेम्पलिंग अधिक से अधिक हो पर निगरानी रखते हुए समीक्षाएं सतत करने के निर्देश संबंधितों को दिए है। इससे पहले अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह के द्वारा राजस्व न्यायालयों, भूमि के नामांतरण, गौशालाओं, तहसील कार्यालयों में दर्ज किए जाने वाले प्रकरणों के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। वही अन्य विभागों से समन्वय स्थापित कर लक्ष्यों की प्राप्ति के संबंध में उनके द्वारा मार्गदर्शन दिया गया है।  नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में समस्त एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार के अलावा अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे।  

पोषण अभियान की वार्षिक कार्यशाला का जायजा

कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा गुरूवार को पोषण अभियान अंतर्गत वर्ष 2020-21 की जिला स्तरीय समेकित स्वास्थ्य एवं पोषण कार्यक्रम को मूर्तरूप देने से पूर्व वार्षिक कार्ययोजना का जायजा लिया।  कलेक्टर चेम्बर में सम्पन्न हुई इस बैठक में स्वास्थ्य, खाद्य, कृषि, उद्यानिकी, पीएचई, महिला एवं बाल विकास विभाग तथा आदिम जाति कल्याण विभाग एवं शहरी विकास अभिकरण के अधिकारी मौजूद थे।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने विभिन्न विभागों में संयुक्त समन्वय स्थापित कर जिले को पोषण अभियान के उद्वेश्यों की पूर्ति हेतु ग्राम स्तर तक पहुंंचने की कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए है। उन्होंने पोषण अभियान के क्रियान्वयन में स्वास्थ्य व महिला बाल विकास विभाग की महती भूमिका को रेखांकित करते हुए कहा कि समय पर टीकाकरण हो, पीड़ितों का उपचार हो साथ ही बच्चों और महिलाओं के सर्वागींण विकास हेतु संचालित योजनाओं का लाभ संबंधितों को समय पर मिले तथा कुपोषण जैसी स्थिति जिले में परलिक्षित ना हो। उन्होंने स्वरोजगारमुखी योजनाओं से संबंधित परिवारो को जोड़ने के लिए विशेष पहल पर बल देते हुए कहा कि आजीविका मिशन, उद्यानिकी, कृषि एवं स्वसहायता समूहों के माध्यम से स्वरोजगारमुखी योजनाओें से लाभांवित कराने के लिए संबंधित विभागो के अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर लाभ दिलाएं। जिला स्तरीय समेकित स्वास्थ्य एवं पोषण कार्यक्रम का मूल उद्वेश्य यही है कि हम समय पर टीकाकरण, स्वास्थ्य परीक्षण तथा पोषण आहार से लाभांवित करें वही गर्भवती माताओं की देखभाल के लिए निर्धारित चक्र क्रमानुसार सम्पर्क करें। इस दौरान पूर्व उल्लेखित विभागो के अधिकारियों के द्वारा जिला स्तर पर तैयार की गई समेकित स्वास्थ्य एवं पोषण कार्यक्रम में विभागीय कार्यो की रूपरेखा से अवगत कराया गया है। 


उल्लंघन करने वाले आठ को संस्थागत कोरोन्टाइन सेन्टर में भर्ती कराया

कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में कंटेनमेंट जोन की निगरानी हेतु नियुक्त नोडल अधिकारियों द्वारा सघन भ्रमण कर आठ व्यक्तियों को जोन में उल्लंधन की श्रेणी में पाया जाने पर उन्हें एसएटीआई के हॉस्टल में बनाए गए संस्थागत कोरोन्टाइन सेन्टर में भर्ती कराने का कार्य पूरा किया गया है। नोडल अधिकारी श्री मेहताब सिंह रावत एवं जिला परिवहन अधिकारी श्री गिरजेश वर्मा ने गुरूवार 20  अगस्त को विदिशा शहर के अंतर्गत कंटेनमेंट एरिया का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान आठ व्यतियों को उल्लंघन करते पाए जाने पर उनके खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की गई है। श्री रावत ने बताया कि उल्लघंनकर्ताओं में से तलैया मोहल्ला कंटेनमेंट एरिया के चार तथा  शेष तोपपुरा कंटेनमेंट क्षेत्र के चार व्यक्तियों को उल्लंघन करते पाए जाने पर उन्हें पुलिस की मदद से संस्थागत कोरोन्टाइन सेन्टर में भर्ती कराया गया है और सभी कंटेनमेंट जोनो में इस बात का संदेश प्रसारित किया गया है कि जारी गाइड लाइन का पालन करें। किसी भी प्रकार से कंटेनमेंट जोनो का उल्लंघन ना करें। 

कलेक्टर के निर्देश पर कार्यवाही, पटवारी निलंबित 

कलेक्टर डॉ पंकज जैन के संज्ञान के लाया गया था कि नटेरन तहसील के ग्राम पायरी में बंटाकन का आदेश पारित हो जाने के बावजूद संबंधित पटवारी द्वारा सात माह में उक्त बंटान अमल नही किया है कि शिकायते प्राप्त हुई थी ततसंबंध में क्षेत्र के एसडीएम को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश कलेक्टर द्वारा दिए गए थे। कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा गुरूवार को आयोजित राजस्व अधिकारियों की समीक्षा बैठक में नटेरन एसडीएम श्री प्रवीण प्रजापति ने अवगत कराया कि ग्राम पायरी में आवेदक श्री गनपत सिंह लोधी निवासी ग्राम बोधी द्वारा ग्राम पायरी की भूमि की बंटान प्रकरण में पारित आदेश को नक्शा बंटान स्वीकृत किया जाकर पटवारी हल्का क्रमांक दस को बंटान कायमी हेतु दी गई थी।  पटवारी हल्का द्वारा स्वीकृत बंटान का नक्शा में तरमीन नही किए जाने की शिकायत कलेक्टर महोदय को की गई थी। ततपश्चात् बेवजीआईएस पर नायब तहसीलदार नटेरन द्वारा उक्त बंटान का अमल किया गया। हल्का पटवारी द्वारा सात माह बंटान अमल ना करने पर पटवारी शिवेन्द्र सिंह पवार हलका क्रमांक दस को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। निलंबन अवधि में नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पातत्रा होगी। निलंबित पटवारी पवार का मुख्यालय तहसील कार्यालय नटेरन नियत किया गया है। 

आकांक्षी जिलो के कार्यो की समीक्षा व्हीसी से

vidisha news
भारत सरकार वित्त मंत्रालय, वित्तीय सेवाएं विभाग के अधिकारियों द्वारा आज आकांक्षी जिलो में गठित जिला स्तरीय क्रियान्वयन समिति के कार्यो की समीक्षा व्हीसी के माध्यम से की गई है।  मध्यप्रदेश के आकांक्षी जिले, विदिशा, खण्डवा, बडवानी एवं छतरपुर में क्रियान्वित कार्यो के संबंध में सीधे संवाद किया गया है। जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल ने जिले में नीति आयोग के पैरामीटर पर क्रियान्वयन कराने  हेतु विभागो के माध्यम से संपादित होने वाले कार्यो की जानकारी दी खासकर आकांक्षी जिले में स्वरोजगारमूलक योजनाओं के वित्त पोषण हेतु बैंकर्स से समन्वय स्थापित कर गठित समूह एवं व्यक्तियों को रोजगारपरख योजना से जोड़ना है इसके लिए किए गए वित्तीय प्रबंधनो की जानकारी दी है।  जिला पंचायत सीईओ श्री अग्रवाल ने बताया कि विदिशा जिले के प्रत्येक विकासखण्ड के ग्रामों में दो-दो शिविर आयेजित किए जा रहे है जिले की ग्राम पंचायतों को 48 क्लस्टर में विभक्त किया गया है। भ्रमण के प्रथम दिवस योजनाओं की जानकारी देकर उन्हें रोजगारमुखी हो के प्रबंध सुनिश्चित किए जा रहे है।  एनआईसी के व्हीसी कक्ष में लीड़ बैंक आफीसर श्री भगवान सिंह बघेल, सामाजिक न्याय विभाग के उप संचालक श्री पीके मिश्रा, एनआईसी के डीआईओ श्री एमएल अहिरवार के अलावा अन्य बैंकर्स प्रतिनिधि मौजूद थे। 

सफलता की कहानी  : जागरूकता संदेशो की चहुंओर चहक

vidisha news
कोरोना वायरस कोविड 19 के संक्रमण से बचाव के संदेशो से आमजनों को अवगत कराने, साथ ही सहयोग से सुरक्षा अभियान के उद्वेश्यों की पूर्ति के लिए जिले में किए जा रहे जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से दिए जाने वाले संदेशो की चहुंओर चर्चा है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा जागरूकता संदेशो के प्रसारण में नवाचार के दिए गए निर्देशो के अनुपालन में महिला एवं बाल विकास विभाग तथा स्वंयसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों तथा वालिटियर्सो द्वारा ग्रास रूट पर पहुंचकर कोरोना के बचाव के लिए आवश्यक संसाधनो, सामग्री, उपयोगिता इत्यादि की जानकारी सहज सरल भाषा में दी जा रही है वही चित्रकला, गायन व नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से संदेश प्रसारित किए जा रहे है।  महिला एवं बाल विकास विभाग के अमले द्वारा सहयोग से सुरक्षा अभियान के तहत जनसमुदायों को शपथ दिलाकर मास्क का उपयोग करने, समय अंतराल में हाथ धोने तथा सामाजिक दूरी के संदेश से अवगत कराते हुए आमजनों से पालन करने की अपील की जा रही है। 

जिले में अब तक 658.3 मिमी औसत वर्षा दर्ज

ले में अब तक 658.3 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई है कि जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख ने बताया कि 20 अगस्त को जिले में 16.5 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई है।  तहसीलों में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर 20 अगस्त गुरूवार को दर्ज वर्षा की जानकारी तदानुसार विदिशा में तीन मिमी, बासौदा में दस मिमी, कुरवाई में 1.2 मिमी,  सिरोंज में आठ मिमी, लटेरी में नौ मिमी, ग्यारसपुर में 37 मिमी, गुलाबगंज में 26 मिमी तथा नटेरन में 38 मिमी वर्षा दर्ज की गई है।

कोई टिप्पणी नहीं: