विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 27 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 27 अगस्त 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 27 अगस्त

फसल कटाई प्रयोग उपरांत क्षति का आंकलन

कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने क्षतिग्रस्त सोयाबीन फसल का भ्रमण कर जायजा लिया है। आज मीडिया से संवाद स्थापित करते हुए कलेक्टर डॉ जैन ने बताया कि जिले में बारिश एवं कीटव्‍याधि से हुई फसलों की क्षति की जानकारी प्राप्ति एवं सर्वे के लिए राजस्व एवं कृषि विभाग के दल गठित किए गए है। फसल कटाई के उपरांत क्षति का आंकलन किया जा सकेगा।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने जिले के समस्त कृषकों से आव्हान किया है कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की प्रीमियम राशि जमा करने की तिथि में वृद्वि की गई है। अतः जिले के अब तक ऐसे अऋणी, ऋणी जिनके द्वारा किन्चित कारणो से बीमा की राशि जमा नही की गई है वे सभी कृषकबंधु 31 अगस्त तक बीमा की प्रीमियम राशि जमा कर बीमा योजना का लाभ लें। 


निकाय क्षेत्र के सफाई कार्यो का जायजा

vidisha news
विदिशा नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन तथा कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने गुरूवार की प्रातः निकाय क्षेत्र की साफ सफाई के कार्यो का जायजा लिया।  कलेक्टर डॉ जैन ने वार्ड क्रमांक एक मेंं पहुंचकर साफ सफाई के कार्यो को क्रियान्वित करने वाले निकाय के अमले से संवाद कर जानकारियां प्राप्त की है। कलेक्टर डॉ जैन ने निरीक्षण के दौरान निर्देश दिए है कि वार्ड में मेनरोड एवं हाइवे रोड के आसपास कचराघर बिल्कुल नजर नही आना चाहिए के निर्देश मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री सुधीर सिंह को दिए है।

किशोर न्याय बोर्ड सदस्य हेतु आवेदन आमंत्रित

जिले में किशोर न्याय बोर्ड के दो सदस्यों का कार्यकाल समाप्त होने जा रहा है अतः उक्त पदो की पूर्ति हेतु संचालनालय, महिला एवं बाल विकास विभाग के द्वारा विज्ञप्ति प्रकाशित की गई है और 31 अगस्त तक आवेदन आमंत्रित किए गए है। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने उक्त जानकारी देते हुए किशोर न्याय बोर्ड के सदस्यों हेतु आर्हता के संबंध में बताया कि एक जनवरी 2020 को न्यूनतम आयु 35 वर्ष होना चाहिए। शिक्षा, स्वास्थ्य एवं कल्याण कार्यकलापो में बालको के साथ कार्य करने का कम से कम सात वर्ष का अनुभव हो या बाल मनोविज्ञान या मनोचिकित्सक या समाज विज्ञान या विधि क्षेत्र में डिग्री प्राप्त व्यवसायरत व्यक्ति होना चाहिए। ततसंबंध में विस्तृत जानकारी विभाग की बेवसाइटू www.mpwcdmis.gov.in पर उपलब्ध है। 

बाल कल्याण समिति के सदस्य हेतु आवेदन आमंत्रित

जिले में बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष एवं चार सदस्यों का कार्यकाल समाप्त होने जा रहा है।  समिति के उल्लेखित पदों की पूर्ति हेतु संचालनालय, महिला एवं बाल विकास विभाग के द्वारा विज्ञप्ति प्रकाशित की गई है और 31 अगस्त तक आवेदन आमंत्रित किए गए है। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने उक्त जानकारी देते हुए बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष एवं सदस्यों हेतु आर्हता के संबंध में बताया कि एक जनवरी 2020 को न्यूनतम आयु 35 वर्ष होना चाहिए। शिक्षा, स्वास्थ्य एवं कल्याण कार्यकलापो में बालको के साथ कार्य करने का कम से कम सात वर्ष का अनुभव हो या बाल मनोविज्ञान या मन चिकित्सक या समाजिक कार्य या मानव विकास या समाज विज्ञान या विधि क्षेत्र में डिग्री प्राप्त व्यवसायरत व्यक्ति या सेवानिवृत्त न्यायिक अधिकार होना चाहिए। ततसंबंध में विस्तृत जानकारी विभाग की बेवसाइटू www.mpwcdmis.gov.in पर उपलब्ध है।

सभी निराश्रितजनों के आधार कार्ड अनिवार्य रूप से बनाए जाएं

vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज गुरूवार को सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण विभाग के माध्यम से क्रियान्वित एवं संचालित विभागीय योजनाओं की अद्यतन प्रगति का जायजा लिया। कलेक्टर डॉ जैन ने स्पष्ट निर्देश दिए है कि सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण विभाग की योजनाओ से लाभांवित हो रहे सभी निराश्रितजनों के आधार कार्ड अनिवार्य रूप से बनाए जाएं। इस कार्य को अभियान के रूप में क्रियान्वित करने के निर्देश उनके द्वारा दिए गए है। कलेक्टर द्वारा बैठक में समस्त पेंशन योजना की जानकारी लेते हुए पेंशनर के हुए असफल भुगतान मे सुधार लाने, स्पर्श पोर्टल पर दिव्यांगजनों की जानकारियां अंकित करने, जनपद पंचायत, नगरीय निकाय बार पेंशनर्स, राष्ट्रीय परिवार सहायता, निःशक्त विवाह योजना के तहत जुलाई मासांत तक सम्पन्न कार्यो की जानकारियां प्राप्त की है।  कलेक्टर डॉ जैन ने निर्देश दिए है कि जिले में दिव्यांगजनों एवं स्वाबलम्बन पोर्टल पर यूडीआईडी कार्ड की जानकारियां अनिवार्य रूप से दर्ज की जाएं। उन्होंने दिव्यांगता के क्षेत्र में कार्यरत अशासकीय संस्थाओं में पंजीकृत दिव्यांगजनों की जानकारी प्राप्त करते हुए दर्ज सभी दिव्यांजनों के आधार कार्ड अनिवार्य रूप से तैयार कराए जाएं। उक्त प्रक्रिया की सतत मॉनिटरिंग हेतु उनके द्वारा टीएल बैठक में शामिल किया गया है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में आयोजित इस बैठक में श्रम, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र, अन्त्यवसायी, अल्पसंख्यक एवं पिछडा वर्ग विभाग के माध्यम से क्रियान्वित एवं संचालित योजनाओंं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा की गई है। 


अवैध मदिरा के चार प्रकरण पंजीबद्व  बाजार मूल्य 6860 रूपए की जप्त

vidisha news
जिले में अवैध मदिरा के क्रय विक्रय एवं परिवहन पर सतत नजर रखी जा रही है। जहां भी सूचनाएं प्राप्त होती है विभागीय अधिकारी अविलम्ब धरपकड़ की कार्यवाही को अंजाम दे रहे है।  आबकारी आयुक्त द्वारा जारी निर्देशो के अनुपालन में जिले में अवैध मदिरा के विरूद्व विशेष अभियान संचालित किया जा रहा है। ततसंबंध में कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में जिला आबकारी अधिकारी श्री डीएन त्रिवेदी एवं अन्य सहयोगियों के द्वारा धरपकड़ की कार्यवाही जारी है।  सूचनाएं प्राप्त होने पर त्वरित कार्यवाही को मूर्तरूप देने हेतु सहायक आबकारी अधिकारी एवं कंट्रोल रूम प्रभारी श्री राहुल ढोके के मार्गदर्शन में गत दिवस की गई कार्यवाही तहत चार आबकारी अधिनियम के तहत प्रकरण पंजीबद्व किए गए है वहीं बाजार मूल्य लगभग छह हजार आठ सौ साठ रूपए के मादक पदार्थ जप्त किए गए है। मुखबिरों की सूचनाओं के आधार पर आबकारी उप निरीक्षक श्री राजेश विश्वकर्मा और श्री सुनील शर्मा तथा आरक्षक  श्री पवन गौर और श्री प्रमोद धुव्रे के द्वारा सम्पादित की गई कार्यवाही के तहत ग्राम करैयाखेडा, इमलावदा एवं हांसुआ मार्ग पर दबिश देकर मदिरा जप्त की गई है जिसमें 49  पाव देशी मसाला, 28 पाव देशी मदिरा प्लेन जप्त कर चार प्रकरण आबकारी अधिनियम के तहत पंजीबद्व किए गए है। 

पुजारियों एवं विमान संचालकों की बैठक सम्पन्न गाइड लाइन से अवगत कराया गया

vidisha news
विदिशा एसडीएम श्री गोपाल सिंह वर्मा के द्वारा आज गुरूवार को अनुविभाग क्षेत्र के अंतर्गत पुजारियों एवं विमान संचालक धर्मालुजनों की बैठक आहूत कर गृह विभाग के द्वारा जारी गाइड लाइन से अवगत कराया है।  एसडीएम श्री वर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस कोविड 19 के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु जारी गाइड लाइन की निहित बिन्दु क्रमांक एक में स्पष्ट उल्लेख है कि धार्मिक कार्य, त्यौहार का आयोजन सार्वजनिक स्थलों पर नही किया जाएगा। ना ही कोई धार्मिक जुलूस या रैली निकाली जाएगी। साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर किसी भी प्रकार की मूर्ति, झांकी या ताजिए आदि स्थापित नही किए जाएंगे।  सर्वसंबंधित अपने-अपने घरो में पूजा उपासना करेंगे से अवगत कराते हुए राज्य शासन द्वारा जारी उक्त आश्य की गाइड लाइन पर विचार विमर्श उपरांत उपस्थित सदस्यों द्वारा बैठक में सहमति दी गई कि इस वर्ष डोल ग्यारस पर विमान बेतवा नदी पर जलबिहार हेतु नही जाएंगे और ना ही सड़कों पर निकलेंगे। सभी विमान अपने-अपने मंदिर परिसर में निकलकर वहीं जलबिहार कर मंदिर में वापिस सुशोभित होंगे।  अनुविभागीय दण्डाधिकारी के कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में नगर पुलिस अधीक्षक श्री विकास पांडे, तहसीलदार श्रीमती सरोज अग्निवंशी, थाना प्रभारी कोतवाली श्री वीरेन्द्र झा के अलावा श्री संजय पुरोहित, श्री दीपक भार्गव, श्री विक्रांत पुरोहित, श्री धर्मेन्द्र शास्त्री, श्री श्याम लखन शर्मा, श्री रूपेश शिल्पकार मौजूद थे। 

कला समितियों की सूची उपलब्ध कराएं

जिले के ऐसे कलाकार, कलादल अथवा कला समितियां जिनके द्वारा विभिन्न विधाओं के कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां प्रस्तुत की जाती है। ऐसे सभी पूर्व उल्लेखितों की सूचियां उपलब्ध कराने हेतु जनपदो एवं निकायों के अधिकारियों को सामाजिक न्याय विभाग के उप संचालक द्वारा पत्र प्रेषित किया गया है।  अब तक ग्यारसपुर एवं विदिशा जनपद पंचायत से ही कलाकारो, कला दलो, कला समितियों की सूची उपलब्ध कराई गई है शेष अन्य जनपदों तथा समस्त नगरपालिका एवं नगर परिषद के अधिकारियों को शीघ्रतिशीघ्र सूची सामाजिक न्याय विभाग कार्यालय विदिशा में उपलब्ध कराने हेतु पत्राचार किया गया है। 

प्रधानमंत्री फसल बीमा की प्रीमियम 31 तक जमा 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अंतर्गत खरीफ 2020 में कृषकों के लिए फसल बीमा कराए जाने हेतु अंतिम तिथि में वृद्वि की गई है जिसके अनुसार अब 31 अगस्त तक प्रीमियम जमा की जा सकती है। खरीफ फसल बीमा कराए जाने से शेष रहें अऋणी कृषक अधिसूचित क्षेत्र की फसलों का फसल बीमा अंतिम तिथि 31 अगस्त 2020 तक कराकर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ उठाएं। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक ने बताया कि स्केल आफ फायनेंस के अनुसार कृषकों के लिए प्रीमियम राशि दो प्रतिशत की दर से धान सिंचित के लिए 1134 रूपए, धान असिंचित के लिए 1120 रूपए, मक्का के लिए 422 रूपए, सोयाबीन फसल के लिए 640 रूपए, उड़द के लिए 440 रूपए प्रति हेक्टेयर के मान से जमा करनी होगी।  अऋणी कृषक भू-अधिकार पुस्तिका की छायाप्रति सक्षम अधिकारी द्वारा बुआई प्रमाण पत्र, पूर्णतः भरा हुआ प्रस्ताव फार्म (बैंक खाता की समस्त जानकारी, मोबाइल नम्बर, ईमेल खाता एवं स्वंय का भरा हुआ) घोषणा पत्र इत्यादि शामिल है। पहचान पत्र के लिए आधार कार्ड, बैंक खाता पासबुक की छाया प्रति के साथ नजदीक बैंक में प्रीमियम राशि जमा कर फसल बीमा का लाभ लें।

पेंशन एवं अन्य देयकों के भुगतान हेतु शिविरों का आयोजन जारी

भोपाल संभागायुक्त द्वारा जारी निर्देशो के अनुपालन में कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा जिले में विगत पांच वर्षो में सेवानिवृत्त शासकीय सेवकों की पेंशन एवं उन्हें देय समस्त स्वत्वों का भुगतान तत्काल सुनिश्चित कराए जाने के लिए जिले में 26 अगस्त से जिला पेंशन कार्यालयों में शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। उक्त शिविर 11 सितम्बर तक आयेजित किए जाएंग। जिला कोषालय अधिकारी श्री उमेश श्रीवास्तव ने बताया कि जिला कोषालय एवं जिला पेंशन कार्यालय द्वारा संयुक्त रूप से लंबित स्वामित्वों के भुगतान हेतु कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने जिले के समस्त विभागो के जिला कार्यालय अधिकारी, आहरण संवितरण अधिकारी को पत्र प्रेषित कर जानकारी तीन दिवस के भीतर जिला कोषालय अधिकारी को उपलब्ध कराने की कार्यवाही क्रियान्वित करने हेतु पत्राचार किया है।  समस्त विभागो को प्रेषित पत्र में उल्लेख है कि आपके विभाग में विगत पांच वर्षो में सेवानिवृत्त हुए शासकीय सेवकों की सूची बनाकर यह सुनिश्चित करें कि उनमें से कितने कर्मचारियों के पेंशन प्रकरण, अवकाश नगदीकरण, जीपीएफ, डीपीएफ, जीआईएस, एफबीएफ अन्य स्वत्वों के भुगतान लंबित है। इसका विवरण जिला पेंशन कार्यालय द्वारा पूर्व में भेजे गए पत्र में उल्लेख किया गया है। ऐसे शासकीय सेवकों की सूची जिनका सेवानिवृत्ति उपरांत अभी तक पेंशन भुगतान आदेश जारी नही हो सका है। उन शासकीय सेवकों का नाम पदनाम, एवं सेवानिवृत्ति की तिथि सहित पेंशन निराकरण ना हो सकने का कारण भी स्पष्ट करें। ऐसे प्रकरणों की सूची जिनकी विभागीय जांच संस्थित होने के कारण अभी तक पेंशन प्रकरण का निराकरण नही किया जा सका है। इसमें विभागीय जांच कब से संस्थित है एवं जांच अधिकारी द्वारा अभी तक क्या कार्यवाही की गई है। लंबी अवधि व्यतीत होने के बाद भी जांच पूर्ण क्यो नही की जा सकी। जांच अधिकारी का नाम, पदनाम, एवं पदस्थापना कार्यालय की जानकारी भी उपलब्ध कराएं।  11 सितम्बर तक आयोजित किए जा रहे शिविरों में पेंशन प्रकरण तथा लंबित स्वत्वों के भुगतान हेतु देयक अनिवार्य रूप से प्रस्तुत किए जाए। शिविर में संबंधित कार्यालय की स्थापना लेखा से संबंधित कर्मचारी भी प्रकरण के साथ उपस्थित हो तथा लंबित प्रकरणों के शत प्रतिशत निराकरण की कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे। यदि इन केम्पों के आयोजन के बाद भी आपके कार्यालय से संबंधित पेंशनर के कोई स्वत्व भुगतान हेतु शेष रहते है तो उसके लिए संबंधित विभागो के अधिकारियों का उत्तरदायित्व होगा। आयोजित होने वाले शिविरों में उपस्थिति के समय कोरोना से संबंधित जारी गाइड लाइन का अनिवार्य रूप से पालन किया जाए। जिला कोषालय एवं पेंशन अधिकारी श्री उमेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि विदिशा जिले में 31 अगस्त 2020 तक 101 सेवानिवृत्त, मृत शासकीय सेवकों के पेंशन प्रकरणों का निराकरण किया जाना है। शिविर का शुभांरभ बुधवार 26 अगस्त से हुआ है पहले दिन छह प्रकरण निराकरण हेतु प्राप्त हुए है। शेष लंबित प्रकरणों में 12 एसपी कार्यालय के, 11 खण्ड शिक्षा अधिकारी विदिशा, दस प्रकरण पीएचई विदिशा के, नौ प्रकरण मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के कार्यालय से तथा 53 अन्य विभागो से संबंधित प्रकरण पेंशन के लंबित है। सभी विभागो के जिला प्रमुखो से पेंशन अधिकारी श्री उमेश कुमार श्रीवास्तव ने पत्र प्रेषित कर अनुरोध किया है कि आपके कार्यालय के अंतर्गत लंबित पेंशन प्रकरणो का निराकरण पेंशन शिविर में कराकर लाभ संबंधित को लाभांवित करें।

कोई टिप्पणी नहीं: