बोपन्ना की युगल में हार के साथ भारतीय चुनौती समाप्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 9 सितंबर 2020

बोपन्ना की युगल में हार के साथ भारतीय चुनौती समाप्त

bopanna-lost-double-in-us-open
न्यूयॉर्क, 08 सितंबर, भारत के रोहन बोपन्ना और उनके जोड़ीदार कनाडा के डेनिस शापोवालोव को हॉलैंड के ज्यां जूलियन रोजर और रोमानिया के होरिया टेकाउ की जोड़ी से सोमवार को क्वार्टरफाइनल में 5-7, 5-7 से मिली हार के साथ ही वर्ष के आखिरी ग्रैंड स्लेम यूएस ओपन टेनिस टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती समाप्त हो गयी। भारत के शीर्ष एकल खिलाड़ी सुमित नागल एकल के दूसरे दौर में दूसरी सीड ऑस्ट्रिया के डोमिनिक थिएम से तीन सेटों में हार गए थे जबकि दिविज शरण को युगल के पहले दौर में हार का सामना करना पड़ा था। भारत की इसके बाद तमाम उम्मीदें बोपन्ना पर टिकी हुई थीं लेकिन अंतिम आठ में उनकी हार के साथ यूएस ओपन में भारत का सफर थम गया।



बोपन्ना और शापोवालोव की जोड़ी को रोजर तथा टेकाउ की जोड़ी से एक घंटे 26 मिनट तक चले मुकाबले में 5-7, 5-7 से हार का सामना करना पड़ा। बोपन्ना और शापोवालोव की जोड़ी ने आठ एस लगाए जबकि रोजर और टेकाउ की जोड़ी ने तीन एस लगाए। बोपन्ना और शापोवालोव ने मुकाबले में 28 विनर्स और रोजर तथा टेकाउ ने 26 विनर्स लगाए। बोपन्ना और शापोवालोव ने मैच में 17 बेजां भूलें की जबकि रोजर और टेकाउ की जोड़ी ने आठ बेजां भूलें कीं। बोपन्ना और शापोवालोव ने मैच में दो बार अपनी सर्विस गंवाई और वे मैच में एक भी सर्विस ब्रेक हासिल नहीं कर सके। भारतीय और कनाडाई जोड़ी को एक ब्रेक अंक मिला था लेकिन वे उसका फायदा नहीं उठा पाए। बोपन्ना और शापोवालोव ने दूसरे दौर के मुकाबले में छठी सीड जोड़ी जर्मनी के केविन क्राविट्ज और अन्द्रियस माइस को तीन सेटों के संघर्ष में 4-6, 6-4,6-3 से हराया था लेकिन वे इस प्रदर्शन को रोजर और टेकाउ के खिलाफ क्वार्टरफाइनल में नहीं दोहरा सके। रोजर और टेकाउ फाइनल में जगह बनाने के लिए सेमीफाइनल में क्रोएशिया के मैट पेविच और ब्राजील के ब्रूनो सोरेस की जोड़ी से भिड़ेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: