मधुबनी : बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी द्वारा "वर्चुअल" रैली का आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 9 सितंबर 2020

मधुबनी : बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी द्वारा "वर्चुअल" रैली का आयोजन

congress-virtual-rally
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी द्वारा आयोजित बिहार क्रांति महासम्मेलन "वर्चुअल" रैली आज मधुबनी जिला कांग्रेस कमिटी द्वारा पूरे जिला में सफलता पूर्वक आयोजन किया गया। मधुबनी जिला कांग्रेस कमिटी के वर्चुअल रैली को अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के ऊर्जावान सचिव सह बिहार प्रभारी अजय कपूर जी के संयोजन में कांग्रेस के बरिष्ट नेता सांसद प्रमोद तिवारी,कैप्टन अजय यादव,डॉ शकील अहमद,बिहार प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा,कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह,बिहार कांग्रेस के बरिष्ट नेता,विधान पार्षद प्रेमचंद्र मिश्रा, चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष डॉ अखिलेश प्रसाद सिंह,पूर्व मंत्री कृपा नाथ पाठक,पूर्व छात्र नेत्री,पूर्व विधायक अल्का लाम्बा, बिहार कांग्रेस कमिटी के कार्यकारी अध्यक्ष श्याम सुंदर सिंह,धीरज,डॉ समीर कुमार सिंह,संगठन प्रभारी ब्रजेश पांडेय,विधायक भावना झा,पूर्व सांसद रंजीत रंजन ने संबोधित की। जिला कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष प्रो शीतलाम्बर झा ने सभी  केंद्र एवम राज्य के बरिष्ट नेताओं का स्वागत करते हुए कहा मिथिलांचल का मधुबनी जिला में कांग्रेस पार्टी सभी दृष्टिकोण से बहुत ही मजबूत है प्रदेश नेतृत्व एवम केंद्रीय नेतृत्व मधुबनी जिला में अधिक से अधिक सीट पर पार्टी उम्मीदवार बनाए तो जिला कांग्रेस कमिटी शतप्रतिशत जीत सुनिश्चित करेगी यह कांग्रेसजनों की भावना है।



 वर्चुअल रैली में जदयू,बी जे पी सरकार पिछले 15 बर्षों से मिथिलांचल की लगातार उपेक्षा पर जोरदार हमला बक्ताओ ने किया,मैथिली भाषा की पढ़ाई बन्द होना,मिथिला की पहचान,मखाना को बिहार का मखाना घोषित करना,मधुबनी जिला के तीनों चीनी मिल को बंद करना,पंडौल सुता फैक्ट्री का मुद्दा काफी चर्चा का विषय रहा,नीतीश सरकार द्वारा 5 लाख रिक्त पद होने के बाद भी नौजवानों को नौकरी नही मिलना,महिलाओं पर बढ़ती अपराध,हत्या,लूट,अपहरण आदि मुद्दा भी चर्चा में रहा,कोरोना से उपजे हालात से जहां किसानों,मजदूरों,बेरोजगरो, छोटे छोटे दुकानदारों एवम आमजन को काफी कष्ट दूर करने में नीतीश कुमार पूर्णरूप से फेल रहे। आज के इस वर्चुअल रैली में पूरे जिला के सभी प्रखंडों से दस हजार से अधिक कांग्रेसजनों भाग लिए साथ ही आमजनों का सहयोग भी काफी देखने को मिला।वही फेसबुक लाईव में अबतक 1 लाख 20 हजार लोगों ने देखा और सुना,वही मुख्यमंत्री जी का वर्चुअल रैली में पूरे बिहार में पन्द्रह हजार लोग भी शरीक नही हुए जो नीतीश सरकार की बिदाई का संकेत है। आज के वर्चुअल सम्मेलन में जिला कांग्रेस कार्यलय में प्रमुखरूप से अनिता यादव,ज्योतिरामन झा,मनोज मिश्रा,अमानुल्लाह खान,अधिवक्ता संजय मिश्रा,अकील अंजुम,दीपक सिंह,गणेश झा,तैयब अंसारी,अनुरंजन सिंह,मुनेश्वर यादव,मो साबिर,रूपन झा,हिमांशु कुमार,कृष्ण कांत झा,दशरथ झा,मुकेश कुमार,पप्पू,आलोक झा,बिनय झा,धनेश्वर ठाकुर,गंगाधर पासवान, भोगेन्द्र पासवान,ऋषिदेव सिंह,कृष्ण कुमार,मालिक,रंजन कुमार,सहित सैकड़ो कांग्रेसजनों ने भाग लिया।

कोई टिप्पणी नहीं: